Tuesday, March 6, 2018

जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय में लगा साईकिल खरीद मेला


फरीदाबाद 6 मार्च। हरियाणा सरकार की निशुल्क साईकिल योजना के तहत फरीदाबाद जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय परिसर में तीन दिवसीय साईकिल खरीद मेले का आयोजन किया गया जिसमें 5 सौ से भी ज्यादा अनुसूचित जातियों के विद्यार्थियों ने अपनी इच्छा अनुसार साईकिल खरीदी, इच्छा के अनुसार साईकिल खरीदने का मेला फरीदाबाद में पहली बार आयोजित किया गया जिसमें सरकार ने 20 इंची साईकिल के लिए 2525 रूपये तथा 22 इंची साईकिल के लिए 2725 रूपये दिये बाकी के पैसे विद्यार्थियों ने स्वयं लगाये, सभी विद्यार्थी सरकार की इस योजना से बहुत खुश नजर आये। हरियाणा सरकार द्वारा राजकीय विद्यालयों में कक्षा छठी, नौंवीं व ग्यारहवीं में अध्ययनरत अनुसूचित जाति वर्ग के छात्र-छात्राओं को विद्यालय शिक्षा विभाग के माध्यम से संचालित की जा रही नि:शुल्क साईकिल योजना के अन्तर्गत शैक्षणिक वर्ष 2017-18 के लिए स्थानीय सैक्टर-16 स्थित जिला शिक्षा अधिकारी के कार्यालय प्रांगण में तीन दिवसीय साईकिल खरीद मेले का आयोजन किया गया। जिला शिक्षा अधिकारी सतिन्दर कौर ने बताया कि मेले में इस योजना के तहत साईकिल प्राप्त करने के लिए आने वाले प्रत्येक योग्य विद्यार्थी को 20 इंची साईकिल के लिए 2525 रूपये तथा 22 इंची साईकिल के लिए 2725 रूपये की निर्धारित राशि उसके बैंक खाते में उपलब्ध करवाई जा रही है, इसके अलावा अगर कोई विद्यार्थी अपनी सुविधा अनुसार साईकिल खरीदना चाहता है तो उसके लिये मेले का आयेजन किया गया है जिसमें विद्यार्थी को सरकारी पैसे से उपर लगने वाले पैसे स्वयं खर्च करने पड रहे हैं। इस योजना का लाभ उठाने के लिये 5 सौ से ज्यादा विद्यार्थियों ने पंजीकरण करवा दिया है।  वहीं छात्राओं की माने तो अभी तक उन्हें घर से स्कूल ऑटो या अन्य वाहनों से जाना पडता था जिसके चलते वो समय से स्कूल नहंी पहुंच पाते थे और पढाई छूट जाती थी मगर अब ये इच्छानुसार साईकिल मेले से उन्हें साइकिल मिल रही है जिसमें कुछ पैसे उन्हें लगाने पड रहे हैं जिससे अब वो जाम में भी असानी  और समय से स्कूल पहुंच सकेंगी, इसलिये सभी छात्रायें सरकार की इस पहल का स्वागत करते हुए धन्यवाद कर रही हैं। वहीं अभिभावक भी साईकिल खरीद मेले से खुश नजर आये, उनका मानना था कि निजी वाहन न होने के चलते उनके बच्चो की पढाई प्रभावित होती थी मगर अब नहीं होगी, सरकार का बहुत बहुत धन्यवाद।

loading...
SHARE THIS

0 comments: