Friday, March 30, 2018

मुंबई में वरिष्ठ नागरिकों के लिए बने अलग मंत्रालय ; 'गांधी विचार मंच’

Separate ministry for senior citizens in Mumbai; 'Gandhi Idea Forum'

मुंबई(abtaknews.com)मुंबई के बोरीवली में स्थित सामाजिक संस्था 'गांधी विचार मंचके अध्यक्ष व मुंबई कांग्रेस के 'मुंबई विभागीय कांग्रेस समितिके वरिष्ठ नागरिक सेलके अध्यक्ष श्री मनमोहन गुप्ता ने सरकार से वरिष्ठ नागरिकों के लिए अलग मंत्रालय बनाने के मांग की है। मनमोहन गुप्ता का कहना है कि देश में ३० करोड़ से ज्यादा वरिष्ठ नागरिक है,जिनकी समस्या सुनने के लिए कोई भी सरकारी डिपार्टमेंट या मंत्रालय नहीं है।जिस तरह बाल विकास,महिला विकास मंत्रालय है उसी तर्ज पर वरिष्ठ नागरिको के लिए मंत्रालय बने।चाहे आईपीएस ऑफिस होसरकारी कर्मचारी हो,दूकानदार हो,बिज़नेसमैन हो,पत्रकार हो,टीचर होबैंकर हो,सेना के लोग हो ये लोग अपने जीवन के बहुमूल्य ६० साल या उससे ज्यादा समय देश को देते है।लेकिन  रिटायरमेंट के बाद उन्हें गार्बेज या बेकार समझकर छोड़ दिया जाता है।जबकि सरकार चाहे तो उनके अनुभव को देश के विकास में उपयोग ला सकती है।लेकिन वरिष्ठ नागरिकों की समस्या सुननेवाला कोई नहीं है।वे कैसे जीवनयापन कर रहे है,किस हाल में हैइस लिए मनमोहन गुप्ता ने सरकार से मांग की है कि जल्द ही वरिष्ठ नागरिकों के लिए अलग मंत्रालय बने।मनमोहन गुप्ता कहते है," हमलोग पेड़ की जड़ है और बाकी युवा पीढ़ी इसकी टहनिया और पत्ते है।यदि पेड़ को तकलीफ होगी या पेड़ काटेंगे तो टहनिया और पत्ते भी सुखकर गिर जायेंगे।सरकार वरिष्ठ नागरिकों के लिए नए मंत्रालय का गठन करे। और उनको मिलिटरी कैंटीन की तरह सस्ते में सामान देउनको हवाई यात्रा के दौरान एयरपोर्ट टैक्स इत्यादि फ्री करे,अस्पतालों में सस्ते में या मुफ्त में इलाज हो।वैसे मैंने वरिष्ठ नागरिकों के लिए एक वेब साईट और एक एप्प्स बनवा रहा हूँजोकि जल्द लॉन्च करूँगा। जिससे उनकी समस्या मालुम हर सकूँ और उसपर ठोस कदम उठाया जा सके।"

loading...
SHARE THIS

0 comments: