Tuesday, March 13, 2018

आईएमटी किसानों की एचएसआईआईडीसी के साथ वार्ता बेनतीजा,14 मार्च को करेंगे घेराव

IMT farmers will interact with HSIIDC on Benitaja, March 14

फरीदाबाद, 13 मार्च(abtaknews.com) पिछले 86 दिनों से अपनी मांगों को लेकर धरने पर बैठे आईएमटी के किसानों की एचएसआईआईडीसी के सैक्टर-31 आफिस में अधिकारियों के साथ वार्ता बेनतीजा रही। किसान संघर्ष समिति के प्रधान रामनिवास नागर ने बताया कि एचएसआईआईडीसी फरीदाबाद के अधिकारी पिछले 86 दिनों से सिर्फ किसानों का तमाशा बना रहे हैं तथा मिटिंग में वो बिना किसी तैयारी के तथा बिना उच्चाधिकारियों से बातचीत करके आए थे। इससे संघर्ष समिति के सदस्यों में रोष उत्पन्न हो गया तथा नाराज किसानों ने एचएसआईआईडीसी के सीनियर मैनेजर डीएस भट्टी का बहिष्कार करने तथा 14 मार्च को श्री भट्टी का सैक्टर-31 आफिस में घेराव करने की घोषणा की। श्री नागर ने बताया कि किसान पिछले 86 दिनों से गर्मी-सर्दी में भूखे प्यासे बैठे हैं, लेकिन भ्रष्टाचार में डूबे श्री भट्टी उनकी कोई बात न तो खुद सुन रहे हैं और न ही उच्चाधिकारियों तक पहुंचा रहे हैं। बल्कि अपने गलत कारनामे छुपाने के लिए उनकी जायज मांगों को गलत तरीके से उच्चाधिकारियों के पास भेज रहा है। यह अधिकारी पिछले 5 वर्षों से फरीदाबाद में तैनात है तथा अधिकारी ने हर जगह भ्रष्टाचार किया है चाहे वह आर.एंड.आर. सैक्टरों में इंफ्रास्ट्रक्चर डवलेप करना हो चाहे मुआवजा बांटना हो या रिलिज एक्सचेंज का प्लाट देना हो। श्री नागर ने बताया कि पिछले दिनों एचएसआईआईडीसी फरीदाबाद में तैनात एक महिला अधिकारी ने भी श्री भट्टी पर मानसिक तनाव देने तथा भ्रष्टाचार करने का आरोप लगाया है। इस महिला अधिकारी ने भी श्री भट्टी के तबादले की मांग की है। श्री नागर ने बताया कि किसान संघर्ष समिति के पदाधिकारियों ने फरीदाबाद के उपायुक्त श्री अतुल कुमार से भी इस अधिकारी को बर्खास्त करने, तबादला करने तथा इसके काले कारनामों की जांच करवाने की प्रार्थना की थी। डीसी साहब ने यह वायदा किया था कि इस अधिकारी का दो-तीन दिन में तबादला हो जाएगा, लेकिन 15 दिन बीत जाने के बाद भी यह अधिकारी यही टिका हुआ है तथा भ्रष्टाचार कर रहा है। श्री नागर ने बताया कि आज एडीसी जितेंद्र दहिया के साथ भी किसान संघर्ष समिति के सदस्यों ने मुलाकात की थी तथा अपनी मांगों के बारे में चर्चा की। श्री दहिया ने जल्द ही मांगों का समाधान करने का आश्वासन दिया। गौरतलब है कि पिछले 86 दिनों से आईएमटी के किसान अपनी मांगों को लेकर धरने पर बैठे हैं जिनमें मु यत: श्री भट्टी को बर्खास्त व तबादला करना, हाईकोर्ट द्वारा घोषित मुआवजा देना, प्लाटों के रेट कम करना, आईएमटी के साथ 3 करम का रास्ता देना व 33 प्रतिशत नौकरी है। किसानों ने आज धरना स्थल पर हाथ उठाकर समर्थन किया कि डीएस भट्टी को जल्द से जल्द बर्खास्त करवा के इसका तबादला करवाया जाएगा तथा 14 मार्च को सैक्टर-31 आफिस में इस अधिकारी का घेराव करके इसके कारनामों की पोल खोली जाएगी।


loading...
SHARE THIS

0 comments: