Saturday, February 3, 2018

समीरपाल सरो ने मेले में चौपाल पर होने वाले कार्यक्रमों की दी जानकारी


सूरजकुण्ड, 3 फरवरी(abtaknews.com -दुष्यंत त्यागी) हरियाणा के सूरजकुण्ड में 32वें अंर्तराष्ट्रीय सूरजकुण्ड शिल्प मेला का आगाज हो चुका हैं और यह मेला 2 फरवरी से 18 फरवरी के बीच आयोजित किया जा रहा हैं। इस बार ज्यादा से ज्यादा लोगों को मेला दिखाने के उदेष्य से मेला की अवधि को बढाया गया हैं तथा लोगों के मनोरंजन के लिए चैपाल पर प्रत्येक सायं रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किये जा रहे हैं। इस संबंध में जानकारी देते हुए पर्यटन निगम के प्रबंध निदेषक व सूरजकुण्ड मेला प्राधिकरण के मुख्य प्रषासक श्री समीरपाल सरो ने बताया कि 2 फरवरी को 32वें अंर्तराष्ट्रीय सूरजकुण्ड षिल्प मेला का उदघाटन हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल की अध्यक्षता में इस बार के थीम राज्य उत्तर प्रदेष के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ ने किया। उन्होंने बताया कि 2 फरवरी को उत्तर प्रदेष के कलाकारों द्वारा बेहतरीन रंगारंग मनोरंजन कार्यक्रम प्रस्तुत किया गया और आज हरियाणवी कलाकारों द्वारा रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किया जाएगा, जो दर्षकों को मंत्रमुग्ध कर देगा। आगामी 4 फरवरी को चैपाल पर श्रीमति मालनी अवस्थी द्वारा प्रस्तुति दी जाएगी तथा 5 फरवरी को भागीदार राष्ट्र किरगिस्तान के कलाकारों द्वारा अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर प्रदर्षन किया जाएगा। इसी प्रकार अन्य देषों से आए हुए कलाकारों द्वारा भी चैपाल पर मेले में आने वाले लोगों के लिए विभिन्न सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए जाएंगे।  उन्होंने बताया कि 6 फरवरी को वाओ वूमेनिया फॉकलोरस बैंड द्वारा प्रदर्षन किया जाएगा। आगामी 7 फरवरी को प्रसिद्ध कवियों का कवि सम्मेलन का आयोजन होगा, जिसमें पद्म श्री सुरेन्द्र शर्मा, सरदार मनजीत सिंह तथा अन्य कवि शामिल होंगे। इसी प्रकार 8 फरवरी को सुहुजात हुसैन द्वारा अपनी प्रस्तुति दी जाएगी। उन्होंने बताया कि आगामी 9 फरवरी को श्रीमति रंजू प्रसाद और उनकी टीम द्वारा सुनहरे समय, सुफी कव्वाली और नृत्य के गुनगुनाने व मीठे गीतों का प्रदर्षन किया जाएगा। इसी प्रकार 10 फरवरी को डा. रिंकू कालिया जो एक प्रसिद्ध वॉकलिस्ट हैं द्वारा अपनी प्रस्तुति दी जाएगी। वहीं 11 फरवरी को पदमजीत सहरावत द्वारा सजदा की प्रस्तुति होगी। 
उन्होंने बताया कि 12 फरवरी को उत्तर प्रदेष के कलाकारों द्वारा रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किया जाएगा। वहीं 13 फरवरी को सुश्री अलिषादीप गर्ग और सन्नी सिसोदिया व छात्रों तथा पंडित बिरजू महाराज द्वारा कथक का कार्यक्रम आयोजित होगा और पंजाबी गायक शंकर साहनी की प्रस्तुति होगी। उन्होंने बताया कि 14 फरवरी को चांद निजामी बंधुओं द्वारा चैपाल पर प्रस्तुति दी जाएगी तथा विदेषी कलाकारों द्वारा 15 फरवरी को कार्यक्रम प्रस्तुत किए जाएंगे। इसी प्रकार दि रेड ब्रिक हाउस द्वारा 16 फरवरी को प्रस्तुति होगी तथा 17 फरवरी को सुभाष घोस द्वारा क्लासिकल और वेस्ट्रन फॉरमेट का एक फयूजन कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा।
उन्होंने बताया कि 32वें अंर्तराष्ट्रीय सूरजकुण्ड षिल्प मेले का समय सुबह 10:30 बजे से सांय 8:30 बजे तक है तथा चैपाल पर आयोजित होने वाले रंगा रंग कार्यक्रम सांय 6 बजे से शुरू होंगे।

loading...
SHARE THIS

0 comments: