Friday, February 2, 2018

काले झंडे से घबराते खट्टर, पुलिस ने इनेलो नेता अजय भड़ाना को किया नजरबंद, दूसरी घटना

 Khattar, scared of black flag, police ineligible for Ajay Bhadana, second incident

फरीदाबाद(abtaknews.com) 02 फरवरी,2018 ;  काले झंडे से घबराते खट्टर, इस लिए फरीदाबाद में आयेदिन उभरते समाजसेवियों एवं जन समस्याओं को उठाने वाले लोगों को ही नजर बंद करवा देते हैं।  आज पुलिस ने इनेलो नेता अजय भड़ाना को किया नजरबंद, कर दिया दूसरी घटना पल्ला पुल के उद्घाटन की है जब बाबा रामकेवल को नजर बंद करवा दिया था।  आज  32वें अंतर्राष्ट्रीय सूरजकुंड हस्तशिल्प मेले के शुभारंभ अवसर पर उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ एवं हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के आगमन को लेकर थाना सूरजकुंड पुलिस ने युवा इनेलो के प्रदेश महासचिव अजय भड़ाना को उनके लक्कड़पुर स्थित निवास पर करीब साढे छह घण्टों तक नजरबंद रखा। सुबह 8.30 बजे दयालबाग चौकी प्रभारी ब्रहमप्रकाश सहित कई पुलिस कर्मियों ने दोपहर 3 बजे तक पुलिस द्वारा उन्हें नजरबंद रखा गया। इस कार्यवाही को लेकर जिले के इनेलो पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं में खासा रोष व्याप्त है। गौरतलब है कि पिछले दिनों प्रदेश में लगातार हुई गैंगरेप व बलात्कार की घटनाओं को लेकर इनेलो नेताओं ने कुरुक्षेत्र सहित कई जिलों में मुख्यमंत्री को काले झंडे दिखाए थे। आज जब सूरजकुंड मेले का उद्घाटन अवसर था और इनेलो के तेज तर्रार युवा नेता अजय भड़ाना का निवास लक्कड़पुर में है तो पुलिस ने एहतियात के तौर पर उन्हें नजरबंद कर दिया कि कहीं वह मुख्यमंत्री को काले झंडे न दिखा दें, अन्यथा उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री के सामने उनकी किरकिरी हो सकती है इसलिए प्रशासन के इतने हाथ-पांव फूल गए कि वह सुबह सवेरे ही अजय भड़ाना के निवास पर पहुंचे और उन्हें नजरबंद कर दिया। अजय भड़ाना ने पुलिस कर्मियों से कहा कि वह ऐसा कोई कार्य नहीं कर रहे, इसके बावजूद भी उन्हें नजर बंद किया गया। पुलिस की इस कार्यवाही पर असंतोष जताते हुए इनेलो नेता अजय भड़ाना का कहना है कि आज उन्हें पूरा दिन उनके घर में नजरबंद करवाकर भाजपा नेताओं ने अपनी औंछी राजनीति का परिचय दिया है परंतु ऐेसे हथकंडों से उनका मनोबल कतई नहीं गिरेगा बल्कि उनका संकल्प और मजबूत होगा और वह पुरजोर तरीके से गरीब-मजदूरों के हकों के लिए संघर्ष करते रहेंगे। उन्होंने कहा कि वह कोई अपराधी नहीं बल्कि समाज के एक प्रतिष्ठित व्यक्ति है, ऐसे में उन्हें घण्टों अपराधियों की तरह नजरबंद रखना सरकार की औछी नीति और नीयत को दर्शाता है और समय आने पर इस जनविरोधी सरकार को उसके हर कृत्य का जनता जवाब देगी।


loading...
SHARE THIS

0 comments: