Sunday, February 11, 2018

सूरजकुंड मेले में गुम हुए बच्चों को ढूंढ कर देगी सरकार, चाईल्ड प्रोटेक्शन की टीम है तैनात

Surajkund to find lost children in government, child protection team is deployed Haryana

फरीदाबाद(abtaknews.com दुष्यंत त्यागी) 11 फरवरी,2018 ; अगर आप सूरजकुंड मेला देखने के इच्छुक हो और अपने छोटे - छोटे से बच्चों के गुम हो जाने के डर से मेला देखने नहीं जा रहे हैं तो आपके लिये ये अच्छी खबर है, क्योंकि मेले में हरियाणा सरकार द्वारा चाइल्ड प्रोटेक्शन की एक स्टाॅल लगाई गई है जहां छोटे बच्चों के हाथ में एक ऐसा बेंड बांधा जा रहा है जो आपके बच्चे के गुम जाने पर आपके बच्चे को आपके पास पहुंचा दिया जायेगा। बेंड बांधते समय बच्चे की फोटो और पूरी जानकारी सिस्टम में दर्ज की जा रही है जिसके जरिये से चाइल्ड प्रोटेक्शन के सदस्य आपके बच्चे को आपके पास तक पहुंचायेंगे। मेले में आने वाले सभी दर्शक अपने बच्चों के हाथों में बेंड बंधवाकर सुरक्षित और बिन डरे मेले का आनंद ले रहे हैं। 

बडे कार्यकमों व आयोजनों में कई परिवार अपने छोटे बच्चों के गुम हो जाने के चलते पूरा आनंद नहीं ले पाते हैं,, मगर सूरजकुंड मेेले में इसी समस्या को घ्यान में रखते हुए हरियाणा सरकार ने मेले के अंदर चाईल्ड प्रोटेक्शन की एक स्टाॅल लगाई है जिसपर मेले में आने वाले सभी दर्शक अपने अपने बच्चों के हाथों में एक बेंड बंधवा रहे हैं जिसपर एक कोड लिखा हुआ है, इस कोड के दौरान चाईल्ड प्रोटेक्शन के सदस्य बच्चों की फोटो सहित पूरी जानकारी अपने सिस्टम में दर्ज कर रहे हैं।

 मेले में इस स्टॉल पर  राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग की चेयरपर्सन स्तुति कक्कर, सदस्य रूपा कपूर, और सहयोगी निशांत त्यागी का योगदान सराहनीय है। इस बारे में चाईल्ड प्रोटेक्शन की सदस्य  मंजू ने अबतक न्यूज़ पोर्टल टीम को बताया कि सरकार ने मेले में दर्शकों की सुविधाओं का विशेष घ्यान रखा है जिसके चलते उन्होंने एक स्टाॅल लगाई है जिसपर मेले मंे अपने परिवार के साथ आने वाले बच्चों को टैग किया जा रहा है, उनके हाथों में एक बेंड बांधा जा रहा है जिसकी फोटो सहित पूरी जानकारी सिस्टम में दर्ज की जा रही है, इसके बाद अगर बच्चा कहीं गुम हो जाता है तो उनके विभाग के सदस्य पूरे मेेल में फैले हुए हैं वो बच्चे को मेले से बाहर नहीं जाने देंगे और खोजकर परिजनों के हवाले कर देंगे। 

वहीं सरकार की इस पहल को सराहते हुए मेले में आने वाले दर्शकों ने बताया कि उन्हें अक्सर में मेले मंे आने से पहले एक चिंता रहती है कि कहीं लोगों की भीड में उनका बच्चा गुम न हो जाये मगर इस बार सरकार ने उनकी चिंता दूर कर दी है, विभाग द्वारा बच्चों को टैग किया जा रहा है जिससे गुम हो जाने पर वह बच्चों को खोजकर उन्हें वापिस पकडा देंगे। इसी चिंता से मुक्त होकर अब सभी परिजन सुरक्षित मेला घूम रहे हैं और मेले का भरपूर आंनद ले रहे हैं।


loading...
SHARE THIS

0 comments: