Wednesday, February 7, 2018

सूरजकुण्ड मेला में पर्यटकों की पसंद बना दूध-दही का खाणा


सूरजकुण्ड, 7 फरवरी(abtaknews.com )देस्सां में देश हरियाणा, जित दूध दही का खाणा। सूरजकुण्ड में चल रहा 32वां सूरजकुण्ड अंतरराष्ट्रीय शिल्प मेला में हरियाणवी खान-पान का शौक रखने वाले भरपूर लुत्फ उठा सकते है। मेला में इस बार हरियाणा की देसी गाय का दूध और घी  के लिए राज्य के ब्रांड वीटा की ओर से मेला परिसर में जगह-जगह स्टाल लगा रखे हैं।
हरियाणा डेयरी सहकारी विकास प्रसंघ ने अपने ब्रांड वीटा की डायरेक्ट मार्केटिंग करते हुए सीधे उपभोक्ताओं तक अपने उत्पादों की विस्तृत रेंज प्रस्तुत की है। वीटा की स्टाल पर आप लस्सी, आइसक्रीम, दूध-घी सहित एक दर्जन से अधिक प्रोडक्ट बिक्री के लिए उपलब्ध है। वीटा स्टाल पर भारत की देसी गाय विशेषकर हरयाणा, साहीवाल, गिर आदि नस्लों के दूध से तैयार घी की बड़ी माँग है। वीटा की डायरेक्ट मार्केटिंग से उत्पादों की गुणवत्ता भी लोगों का ध्यान अपनी ओर आकर्षित कर रही है। 
वीटा की स्टाल पर हरियाणा डेयरी सहकारी विकास प्रसंघ के प्रतिनिधि सीएस मिश्रा ने जानकारी देते हुए बताया कि गाय के दूध से तैयार उत्पादों की मेला में बड़ी मांग है। देसी गाय के दूध से तैयार घी सभी स्टाल पर हाथों-हाथ बिक रहा है। घी की बढ़ती मांग को देखते हुए अतिरिक्त स्टॉक की मांग की गई है।
उल्लेखनीय है देसी गाय के दूध में बीटा केरोटिन नेत्र ज्योति बढ़ाने में लाभदायक है। वही गाय का घी मधुमेह, कोलेसेट्रोल बढऩे आदि से भी राहत पहुँचाने में कारगर है। बच्चों, युवाओं तथा बुजुर्गों आदि के लिए गाय का घी बेहद उपयोगी बताया गया है। ऐसे में देसी गाय के दूध घी की चाह रखने वाले सूरजकुण्ड आए तो हरियाणा के ब्रांड वीटा की स्टाल पर अपना शौक पूरा करते है।

loading...
SHARE THIS

0 comments: