Saturday, February 3, 2018

चौपाल पर कालाकारों ने सांस्कृतिक कार्यक्रमों से समां बांधना किया शुरू


सूरजकुण्ड, 3 फरवरी(abtaknews.com-दुष्यंत त्यागी) हरियाणा के फरीदाबाद में चल रहे 32वें अंर्तराष्ट्रीय सूरजकुण्ड षिल्प मेला में आज चैपाल पर सुबह विभिन्न सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किए गए और इन सांस्कृतिक कार्यक्रमों का मेला में आने वाले आगंतुकों ने पूरा लुत्फ लिया।  मेला परिसर के चैपाल में आज विभिन्न देषों से आए हुए कलाकारों ने अपनी रंगारंग प्रस्तुतियां दी, जिस पर खुष होकर उपस्थित दर्षकों ने काफी तालियां बजाई और इन कलाकारों का उत्साहवर्धन किया। भागीदार देष किरगिस्तान के कलाकारों ने शामे और तेरसनदो नृत्य कार्यक्रम प्रस्तुत किया। इसी प्रकार तंजानिया के कलाकारों ने भी उनका परंपरागत नृत्य प्रस्तुत किया। वहीं मॉरक्कों के कलाकारों ने भी अपने परंपरागत नृत्य व गायन से लोगों को रूबरू कराया।  फरीदाबाद में चल रहे 32वें अंर्तराष्ट्रीय सूरजकुण्ड षिल्प मेला में आज चैपाल पर मिश्र के कलाकारों ने तामेर और समा डांस की प्रस्तुति दी तो वहीं तुर्केमेनिस्तान के कलाकारों द्वारा परंपरागत नृत्य प्रस्तुत किया गया।  मेला में आज देष के विभिन्न राज्यों के कलाकारों द्वारा रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किया गया, जिसमें सिक्किम के कलाकारों द्वारा राईचंडी डांस की प्रस्तुति की गई जिस पर दर्षकों ने खुष होकर खूब तालियां बजाईं और कलाकारों को उत्साह बढाया। इसी प्रकार मध्यप्रदेष के कलाकारों ने बधाई नृत्य की प्रस्तुति दी। इस प्रस्तुति ने दर्षकों को मंत्रमुग्ध कर दिया और वे अपने आप को तालियां बजाने से रोक नहीं पाए। इसी प्रकार थीम राज्य उत्तर प्रदेष के कलाकारों ने मयूर डांस की प्रस्तुति दी। कष्मीर के कलाकारों ने धमाली तथा महाराष्ट्र के कलाकारों ने लावणे की प्रस्तुति दी। इसी प्रकार हिमाचल प्रदेष के कलाकारों द्वारा सिरमोरी नाटी दर्षकों के सम्मुख रखी गई, जिसे देखकर दर्षकों ने काफी आनंद उठाया। दोपहर पष्चात चैपाल पर पंजाब के कलाकारों द्वारा दर्षकों को थिरकने पर मजबूर कर दिया और वे कलाकारों के प्रति अपनी तालियां बजाने से नहीं रोक पाए। 

loading...
SHARE THIS

0 comments: