Wednesday, February 28, 2018

नाबार्ड द्वारा स्वयं सहायता समूहों के लिए एकदिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन


पलवल, 28 फरवरी(abtaknews.com)नाबार्ड (राष्ट्रीय कृषि और ग्रामीण विकास बैंक) द्वारा जिले के स्वयं सहायता समूहों के पदाधिकारियों और सदस्यों के लिए गत दिवस चौपाल रेस्टोरेन्ट, जी.टी.रोड, पलवल में एकदिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में जिले में नाबार्ड के सहयोग से कार्यरत विभिन्न समूहों की 25 पदाधिकारियों और सदस्यों ने भाग लिया। कार्यक्रम में विशेष अतिथि के रूप में अग्रणी जिला प्रबन्धक सत्यदेव आर्य, सर्व हरियाणा ग्रामीण बैंक के क्षेत्रीय प्रबन्धक आर पी शर्मा और आरसेटी के निदेशक रोहताश सिंह यादव ने शिरकत की। कार्यक्रम में अभिव्यक्ति फाउंडेशन के महासचिव शैलेंद्र कुमार सिंह और अमरौली गाँव के सरपंच सरजीत भी उपस्थित थे।      
   
कार्यक्रम के आरंभ में नाबार्ड के सहायक महाप्रबंधक (जिला विकास) सुबोध कुमार ने स्वयं सहायता समूह कार्यक्रम के उद्देश्यों पर चर्चा करते हुए ग्रामीण महिलाओं के सशक्तीकरण की दिशा में इस कार्यक्रम की क्रांतिकारी भूमिका को रेखांकित किया। उन्होने नियमित बचत, नियमित बैठक, ऋण अनुशासन और आय-अर्जक आर्थिक गतिविधि को अच्छे समूह की प्रमुख विशेषता बताया। सुबोध कुमार ने महिलाओं के आर्थिक स्वावलंबन के लिए समूहों द्वारा बैंक ऋण के माध्यम से स्वरोजगार और आर्थिक उद्यम चलाने पर विशेष जोर दिया। उन्होंने समूहों से अनुरोध किया कि वे अपने आर्थिक और सामाजिक सशक्तीकरण के लिए ठोस कार्ययोजना बनाएँ और उसका पूरे मनोयोग से पालन करें।     

कार्यक्रम में स्वयं सहायता समूह की कार्यप्रणाली, समूह की बैठकों, बही खातों के रख-रखाव और नेतृत्व तथा उद्यमशीलता पर प्रतिभागियों का मार्गदर्शन किया गया।  कार्यक्रम में सर्व हरियाणा ग्रामीण बैंक के क्षेत्रीय प्रबन्धक श्री आर पी शर्मा ने महिलाओं से उद्यम वृत्ति अपनाने और बैंकों की योजनाओं का लाभ लेने की अपील की। अग्रणी जिला प्रबन्धक  सत्यदेव आर्य ने स्वयं सहायता समूहों के महत्व पर प्रकाश डालते हुए नाबार्ड, बैंकों और गैर सरकारी संगठनों के बीच आपसी तालमेल की जरूरत पर बल दिया। आरसेटी के निदेशक  रोहताश सिंह यादव ने समूहों के सदस्यों से आग्रह किया कि वे अपने भीतर हुनर और कौशल का विकास करें और स्वरोजगार की ओर कदम बढाएं। उन्होने आरसेटी द्वारा चलाये जा रहे प्रशिक्षण कार्यक्रमों के बारे में भी विस्तृत जानकारी दी और समूहों को बैंकों की योजनाओं से अवगत कराया।

loading...
SHARE THIS

0 comments: