Wednesday, February 7, 2018

सूरजकुंड की शाम " वाओ वूमनिया फोकर्स बैंड " के नाम, फोक फियुजियन गीतों की धूम


The name of the "Wao Womensia Folkers Band" on the evening of Surajkund, the folk fujian songs shout

फरीदाबाद(abtaknews.com)32 वे अंतरराष्ट्रीय सूरजकुंड क्राफ्ट मेले की साय कालीन संध्या में आयोजित कार्यक्रमों में वाओ वुमनिया फोकर्स नामक बैंड  की महिला कलाकारों द्वारा मेला चौपाल पर शानदार प्रस्तुति दी गई ।नेशनल क्राफ्ट कॉउंसिल, श्रीलंका के निदेशक चंद्रमौलि लियागे इस अवसर पर बतौर अतिथि पहुंचे। इस अवसर पर वाओ वूमनिया फोकर्स बैंड ने उत्तर भारत के अलग - अलग क्षेत्रों के लोकगीतों को गाकर मेले की चौपाल पर समा बांधा। इस अवसर पर करीब 12 महिलाओ ने मंच पर एक साथ जम्मू कश्मीर , शिमला , 
 , राजस्थान
  , हिमाचल , उत्तर प्रदेश , पंजाब और हरियाणा के लोकगीतों की प्रस्तुति दी. 

कला का संगम यानी अंतर्राष्ट्रीय सूरजकुंड शिल्प मेला  , जहाँ एक तरफ देश - विदेश के हस्तशिल्पी अपनी कला का लोहा मनवा रहे है वही मेले की चौपाल पर दिन रात देश विदेश के कलाकार मेला दर्शको का मनोरंजन कर रहे है. इसी कड़ी में कल देर शाम को चंडीगढ़ के मशहूर वाओ वूमनिया फोकर्स बैंड की एक दर्जन महिलाओ ने उत्तर भारत के लोकगीतों को गाकर मेला दर्शको का मन मोहः लिया। इस अवसर पर मेले की चौपाल पर देश विदेश के मेला दर्शक देखने को मिले। वहीँ वाओ वूमनियाँ फोक बैंड की महिलाओ ने 
मंच पर एक साथ जम्मू कश्मीर , शिमला , हिमाचल , राजस्थान ,  उत्तर प्रदेश , पंजाब और हरियाणा के लोकगीतों की प्रस्तुति दी. इस अवसर पर कार्यक्रम के अंत में वूमनिया बैंड की लीडर ने बताया की उन्होंने महिलाओ के अंदर की प्रतिभा को निखारने के लिए  वाओ वुमनिया फोकर्सनामक बैंड  को गठित किया जिसके चलते उन्होंने पूरे उत्तर भारत में अलग अलग औरतो और लड़कियों के ऑडिशन लिए जिसमे सबसे अच्छा गाने वाली महिला गायको को उन्होंने सेलेक्ट किया और इस तरह से  वाओ वुमनिया फोकर्सनामक बैंड  का गठन हुआ और उन्होंने उसके बाद कई जगह पर  वाओ वुमनिया फोकर्सनामक बैंड  के बैनर तले कई कार्यक्रमों में प्रस्तुतिया दी जिसके चलते उन्हें हरियाणा सरकार ने भी प्रोत्साहित भी किया। उन्होंने कहा की वह तो चाहेंगी की वह हर साल  सूरजकुंड मेले में वाओ वुमनिया फोकर्स बैंड  की तरफ से प्रस्तुति दे. 

बाइट - सुनीता धारीवाल -  फाउंडर   -  
वाओ वुमनिया फोकर्स बैंड  
 

वीओ: वहीँ 
वाओ वुमनिया फोकर्स बैंड के लिए लोकगीत गाने वाली कलाकार मंजलि साहरन से जब बात की गयी तो पता चला की यह कलाकार प्रोफेशन से साइंटिस्ट है और चूँकि उन्हें गाने का शौक है इसलिए उन्होंने ऑडिशन दिया था जिसके बाद वह  
 वाओ वुमनिया फोकर्स बैंड में शामिल हो गयी थी और उन्होंने आज भी सूरजकुंड मेले में अपनी प्रस्तुति दी है और उनका अनुभव काफी अच्छा रहा और उन्होंने कहा की चूँकि यह अंतर्राष्ट्रीय मेला है यहाँ पर्फोमन्स करना अच्छा एक्सपीरियंस रहा. 


loading...
SHARE THIS

0 comments: