Wednesday, February 7, 2018

9 राज्यों के लगभग 150 कलाकार सूरजकुंड मेला में रोजाना प्रस्तुत कर रहे हैं रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम


सूरजकुण्ड, 7 फरवरी(abtaknews.com ) हरियाणा के जिला फरीदाबाद के सूरजकुंड में चल रहे 32वें अंतर्राष्ट्रीय सूरजकुंड षिल्प मेला में उतर क्षेत्र सांस्कृतिक केेन्द्र, पटियाला (संस्कृति विभाग, भारत सरकार) के 9 राज्यों के लगभग 150 कलाकार सूरजकुंड मेला में अपना-अपना रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम रोजाना दर्षकों के लिए प्रस्तुत कर रहे हैं। 
उतर क्षेत्र सांस्कृतिक केेन्द्र, पटियाला (संस्कृति विभाग, भारत सरकार) से कार्यक्रम अधिकारी सरदार जरनैल सिंह ने बताया कि मेला परिसर में नौ राज्यों के लगभग 150 लोक कलाकार अपनी प्रस्तुतियां दे रहे हैं। ये प्रस्तुतियां मेला परिसर की मुख्य चैपाल और छोटी चैपाल पर दी जा रही हैं। 
9 राज्यों से आए हुए कलाकारों के बारे में जानकारी देते हुए जरनैल सिंह ने बताया कि आसाम से बरदोई षिकला व बिहु, सिक्किम से राईसिली, मध्यप्रदेष से नौरता, छतीसगढ से गोरमारिया, झारखंड से छाउ, उतर प्रदेष से मयूर व बरसाना की होली, उडीसा से गुप गुड्डू व दाल खाई, जम्मू कष्मीर से धमाली और महाराष्ट्र से लावनी और कोली लोक नृत्यों को मेला में आने वाले आगंतुकों के सम्मुख प्रस्तुत किया जा रहा है।
वास्तव में हमारा देष विभिन्न भाषाओं बोलियों और कलाओं के लिए जाना जाता है लेकिन जब कभी भी हम किसी दूसरे राज्य की लोक कला, गीत, संगीत व नृत्य देखते है तो उसे अपना समझकर देखते हैं। यही एक सच्चे भारतवासी की असली पहचान है और इस प्रकार के दृष्य सूरजकुंड मेला में देखने को मिल रहे हैं जहां देष और विदेष के कलाकारों ने समां बांध रखा है, जिसे दर्षकों द्वारा खूब सराहा जा रहा है। 

loading...
SHARE THIS

0 comments: