Monday, January 22, 2018

स्वर मंदिर कलाश्रम मेें मनाया गया सुर और ज्ञान की देवी बसंत पंचमी का पर्व


 Celebrated in the Vaishan Mandir Kalaashram and the festival of Basant Panchami, Goddess of Knowledge

फरीदाबाद 22 जनवरी(abtaknews.com ) स्वर मंदिर कलाश्रम सैक्टर 16 मेें बसंत पंचमी का पर्व काफी धूमधाम से मनाया। इस अवसर पर संचालक व संगीत गुरू राकेश शर्मा व डा. युवराज हट्टी विशेष रूप से उपस्थित रहे। इस मौके पर बच्चो ने मॉ सरस्वती की वंदना की और आये हुए सभी अतिथियों को मंत्रमुग्ध किया।
समारोह को सम्बोधित करते हुए संगीत गुरू राकेश शर्मा ने कहा बसन्त पंचमी का उत्सव ॠतु परिवर्तन का त्यौहार है। बसन्त पंचमी के दिन माँ सरस्वती की पूजा की जाती है। ये पूजा भारत में हिन्दी कैलेण्डर के अनुसार माघ मास के पंचमी तिथि पाँचवे दिन को किया जाता है। ये पूजा हिन्दु धर्म एवं विद्यार्थीयों के लिए बहुत मायने रखती है। क्योंकि माता सरस्वती को विद्या,बुद्धि, कला और संगीत की देवी माना जाता है।इस अवसर पर बच्चो ने रंगा रंग कार्यकम प्रस्तुत कर सभी आये हुए अतिथियों का मन मोहा और सभी को बसंत पंचमी की शुभकामनाएं दी।


loading...
SHARE THIS

0 comments: