Friday, January 12, 2018

चीफजस्टिस सुप्रीम कोर्ट का बेटा बनकरघूमने वाला और प्रोपर्टी डीलर का हत्यारा वरूण उर्फ वर्धमान हुआ गिरफ्तार


Varun alias Vardhman is arrested for being the son of Chief Justice Supreme Court and owner of property dealer

फरीदाबाद (abtaknews.com) 12 जनवरी,2018 ;  सूरजकुंड के पहाडी क्षेत्र में 1 दिसबंर 2017 को की गई पटना के प्रोपर्टी डीलर प्रवीण विश्वकर्मा की हत्या के अरोपी वरूण उर्फ वर्धमान को क्राईम ब्रांच डीएलएफ पुलिस टीम ने गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है,  पुलिस पूछताछ के दौरान आरोपी ने चौकाने वाले खुलासे किये हैं आरोपी पूरे देश में बॉकी टॉकी वाले बाउंसरों के साथ महंगी गाडियों में चीफ जस्टिस सुप्रीम कोर्ट का बेटा बनकर घूमता था। आरोपी को चमक धमक वाली दुनियां में जीना पंसद था इसलिये इसने मुम्बई में संजय दत्त और राज कुंद्रा जैसे फिल्मी सितारों के साथ भी व्यापार में शेयरिंग करने की बात रखी। आरोपी पिता की जमीन को बेचकर उनसे मिले 94 लाख रूपये से मौज कर रहा था। पुलिस ने मुख्य आरोपी के साथ उसके सहयोगी और तीन बाउंसरों को भी गिरफ्तार किया है। 

कुदरती देन की बजह से महज 25 साल की उम्र में एक युवक बनकर हत्यारा,, जी हां पुलिस की गिरफ्त में नजर आ रहा है येे युवक बचपन से ही तोतला और हकला है जिसकी इसी कुदरती परेशानी के चलते लाईफ में कोई दोस्त नहीं बना तो खुद के दर्जनों दोस्त बनाने के लिये 25 बर्षीय वरूण उर्फ वर्धमान ने अपने पिता के नाम जमीन को पटना में 94 लाख रूपये का बेच दिया और ऐशों आराम का जिंदगी जीने लगा। जमीन के खरीददारों को जमीन का मालिकाना हक न मिलने के चलते उन्होंने वरूण के पिता को 94 लाख रूपये की वजह ब्याज लगाकर करोडों रूपये का ईसाब पकडा दिया जिसमें जमीन का सौदा करवाने वाला प्रोपर्टी डीलर प्रवीण शामिल था, पिता की बेज्जती को सहन न करते हुए आरोपी ने प्रवीण विश्वकर्मा को मारने का प्लान बनाया और उसे हवाई जहाज से फरीदाबाद बुलाया और सूरजकुंड की पहाडियों में ले जाकर रिल्वार दो गोली मारकर उसी हत्या कर दी। हत्या के बाद आरोपी युवक मुम्बई चला गया। जहां खुद को चीफ जस्टिस सुप्रीम कोर्ट का बेटा बताकर संजय दत्त और राज कुन्द्रा जैसे फिल्मी सितारों से मुलाकात की और उनके व्यापार में शेयरिंग करने की बात रखी। बचपन से कुदरती परेशानी के चलते दोस्त न बनने से हताश आरोपी वरूण को चमक धमक की दुनियां में जीना पंसद था इसलियेे उसके महंगी गाडियों में खुद को चीफ जस्टिस सुप्रीम कोर्ट का बेटा बताकर घूमना शुरू कर दिया इस दौरान उसने अपने साथ वॉकी टॉकी वाले बाउंसर भी रखे हुए थे जो इसकी सच्चाई से अंजान थे। 

क्राईम ब्रांच डीएलएफ ईचार्ज अशोक कुमार ने अबतक न्यूज़ पोर्टल टीम को बताया कि आरोपी वरूण और एक सहयोगी को फरीदाबाद से गिरफ्तार किया है इससे पहले उन्होंने आरोपी के साथ रहने वाले तीन बाउंसरों को भी गिरफ्तार किया है। प्रवीण विश्वकर्मा की हत्या के मामले में छ: आरोपी थे जिसमें से पांच को गिरफ्तार किया जा चुका है। बचे हुए एक आरोपी को भी जल्द गिरफ्तार कर लिया जायेगा।
बाईट- अशोक कुमार, क्राईम ब्रांच डीएलएफ ईचार्ज फरीदाबाद।

आरोपी वरूण उर्फ वर्धमान ने बताया कि वह अपने तोतलेपन और हकलेपन के कारण वो आज पुलिस की गिरफ्त में हैं क्योंकि उसकी कुदरती परेशानी के चलते उसके दोस्त नहीं थे इसलिये वो दोस्त बनाना चाहता था और चमक दमक की दुनियां में जीना चाहता था, जिसके लिये उसने अपनी जमीन बेची जमीन के विवाद में प्रवीण की हत्या हुई मगर उसे हत्या के बारे में कुछ भी याद नहीं हैं क्योंकि उसने हत्या के वक्त शराब का सेवन किया हुआ था। आरोपी ने जज का बेटा बनकर घूमने और बाउंसर रखकर मुम्बई में फिल्मी सितारों से मुलाकात करने की बात भी कबूली है। 

loading...
SHARE THIS

0 comments: