Wednesday, January 24, 2018

आज के युवाओ को बोस जी के पद चिन्हों पर चलना चाहिए : प्रोफेसर एस. पी. फोगाट


Today's youth should follow Bose's post marks: Professor S. P. Fogat

फरीदाबाद(abtaknews.com)एस्ट्रोन कैरियर इंस्टिट्यूट के तत्वावधान में महान स्वतंत्रता सेनानी सुभाष बोस जी की जयंती पर सेक्टर 17 कम्युनिटी सेंटर में 'शहीदी संध्या' का आयोजन किया गया । कार्यक्रम की अध्यक्षता एस्ट्रोन कैरियर इंस्टिट्यूट के चेयरमैन श्री एस. पी. फोगाट ने की । इस दौरान जाने माने कवि एम. एल. गर्ग ने बोस जी के जीवन पर प्रकाश डालते हुए कहा कि वे भारत के स्वतंत्रता संग्राम के वास्तविक महानायक है, सही मायने में नेता नाम के परिचायक है और युवाओ के लिए प्रेरणास्रोत है । उन्होंने कहा कि नेता जी एक बहुत ही मेधावी छात्र थे । वे चाहते तो उच्च अधिकारी के पद पर आसीन हो सकते थे।  परंतु उनकी देश भक्ति की भावना ने उन्हें कुछ अलग करने के लिए प्रेरित किया और बोस जी देश को आजाद कराने में लग गए । देश को आजाद कराने के लिए बोस जी ने 'आजद हिन्द फ़ौज' की स्थापना की थी ।

इस दौरान कई कलाकारों ने देशभगति पर अपनी प्रस्तुति दी । इसी कड़ी में डॉक्टर बलराम आर्य ने एक सुंदर गीत के माध्यम से नेता जी के जीवन पर प्रकाश डाला। कवियत्री दामिनी और मनीषा ने देशभगति की कविता प्रस्तुत की । वही दीपक पाल और उनके साथियों ने 'युद्धम शरणम गच्छामि' के माध्यम से लोगो को मैसेज देने की कोशिश की, की किस प्रकार व्यक्ति युद्ध के लिए प्रेरित हो रहा है ।
इस दौरान मुख्य रूप से प्रोफेसर ठुकराल, डॉक्टर नरेंद्र चौधरी, प्रोफेसर रामनिवास, विनोद, बलदेव, प्रोफेसर विशाल, ब्रिज मोहन , एम. एल. मल्होत्रा तथा सैंकड़ो दर्शक मौजूद थे ।

loading...
SHARE THIS

0 comments: