Sunday, January 21, 2018

अलावलपुर की बलराम दास गौशाला के वार्षिक समारोह में उधोगमंत्री विपुल गोयल का स्वागत

 Welcome to Vipul Goyal, Minister of Industries, at the annual function of Balaram Das Gaushal of Alawalpur.

पलवल, 21 जनवरी(abtaknews.com) गऊ सेवा ही नारायण सेवा है । प्रदेश में गऊओं रख-रखाव के लिए जगह-जगह गऊशालाए खोली जा रही है जिनमें गौधन सुरक्षित रह सके । यह विचार आज उद्योग मंत्री विपुल गोयल ने गांव अलावलपुर में स्थित बलराम दास गौशला मे आयोजित वार्षिक कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए व्यक्त किए। उद्योग मंत्री विपुल गोयल ने रविवार को गांव अलावलपुर में बनी वाला मंदिर स्थित बलराम दास गौशाला, अलावलपुर में गौऊओं सेवा के लिए  11 लाख रूपए तथा शैड के लिए 05 लाख रूपए देने की घोषणा की। 
गौशाला कमेटी द्वारा वार्षिक आयोजित कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए उद्योग मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने  विश्व में देश की भारत देश की प्रतिष्ठा को बढ़ाया है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल के कुशल नेतृत्व में प्रदेश सरकार सभी 90 विधानसभा क्षेत्रों में सबका साथ-सबका विकास की तर्ज पर चहुमुॅंखी विकाय कार्य करवा रही है। उन्होंने कहा कि पृथला विधान सभा क्षेत्र मेंं शीघ्र विश्वकर्मा कौशल विश्वविद्यालय की आधारशिला रखी जाएगी। जिससे क्षेत्र के बेरोजगार युवाओं को रेाजगार के अवसर प्राप्त होंगें। इस विश्व विद्यालय में लगभग 1500 कोर्स होंगे। विश्व विद्यालय में कुछ कोर्स शुरू हो चुके है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में योग्यता के आधार पर नौकरिया दी जा रही है। 
उद्योग मंत्री ने केन्द्र व प्रदेश सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं के बारे लोगों में जागरूकता उत्पन्न की और कहा कि वे केद्र व प्रदेश  सरकार द्वारा चलाई जा रही जनकल्याणकारी योजनाओं का ज्यादा से ज्याद लाभ उठाए। पृथला क्षेत्र के गांव अलावलपुर में पहुंचने पर तेवतिया पाल और गौशाला समिति ने उद्योगमंत्री विपुल गोयल का पगड़ी बांध कर व स्मृति चिन्ह देकर भव्य स्वागत किया। उन्होंने इससे पूर्व अलावलपुर गांव स्थित बाबा उदासनाथ मंदिर में पूजा अर्चना भी की। 
इस अवसर पर पृथला विधानसभा क्षेत्र के विधायक टेकचन्द्र शर्मा , भाजपा नेता नयनपाल रावत, भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष किसान मोर्चा डॉ् बलेदव अलावपुर , पूर्व मंत्री सुभाष कत्याल, अलावपुर गांव के सरपंच दीपचन्द, गौशाला कमेटी के प्रधान गिर्राजा सिंह एडोवोकेट, विजय सिंह गौशाला संरक्षक, लखनपाल  सहित अनेक गांवों के पंच-सरपंच एवं गणमान्य लोग मौजूद थे। 

loading...
SHARE THIS

0 comments: