Monday, January 1, 2018

फरीदाबाद पुलिस ने वाहन चोर गिरोह का किया भंडाफोड़, बरामद किये 43 वाहन


 Faridabad police bribery of vehicle thieves gang, 43 vehicles recovered

फरीदाबाद(abtaknews.com)01 जनवरी,2018 ;  क्राइम ब्रांच ने बड़ी कामयाबी हासिल करते हुए दो शातिर वाहन चोरो को गिरफ्तार करते हुए इनसे चोरी की 43 गाड़ियां बरामद की है जिसमे स्कूटी , मोटरसाइकिल , कैंटर और कार इत्यादि शामिल है. पूछताछ में इन चोरो ने 44 वारदाते कबूली है.सेक्टर 56 की क्राइम ब्रांच टीम ने इस गिरोह को पकड़ने में सफलता हासिल की है हालांकि गिरोह के पांच सदस्य पुलिस पकड़ से बाहर है. पुलिस कमिश्नर ने आज पत्रकारों के सामने इस गिरोह के पकडे जाने की विस्तार से जानकारी दी. इस सफलता पर पुलिस कमिश्नर ने क्राइम ब्रांच के इंचार्ज को हीरो आफ दा वीक के तहत सम्मानित करते हुए जहाँ दस हजार का कैश प्राइज दिया वहीँ पूरी टीम को सर्टिफिकेट देकर सम्मानित किया।  

दो शातिर वाहन चोर फ़रीदाबाद पुलिस की गिरफ्त में आये है जिनके नाम नदीम और इकरार है. पुलिस कमिश्नर ने बताया की नदीम इस वाहन चोर गिरोह का सरगना है और इस गिरोह में सात लोग शामिल है जिसमे से दो को पकड़ लिया गया है. उन्होंने बताया की इस गिरोह ने फरीदाबाद , मेवात ,और पलवल से 44 वारदाते करना कबूल किया है और इनके पास से चोरी के 43 वाहन बरामद किये गए है. जिनमे  स्कूटी , मोटरसाइकिल , कैंटर और कार इत्यादि शामिल है. पुलिस कमिश्नर ने बताया की इस गिरोह में फरीदाबाद के अलावा पलवल , उत्तर प्रदेश और मेवात के वाहन चोर शामिल है. इस गिरोह के सदस्य जायदातर अवैध पार्किंग एरिया में डुप्लीकेट चाबियों और मास्टर चाबी का इस्तेमाल करते हुए वाहन चुराते थे और उन्हें मेवात , पलवल और फरीदाबाद बेच देते थे. यह वाहन चोर छात्रों को टू वहीलर मात्र एक हजार रूपये में ही बेच देते थे. वहीँ यह शातिर चोर वाहनों के पार्ट्स भी निकालकर अलग अलग बेच दिया करते थे. उन्होंने बताया की पकडे गए वाहन चोर नदीम और इकरार पहले भी वाहन चोरी में गिरफ्तार हो चुके है. उन्होंने बताया की फरीदाबाद पुलिस ने तीन सौ आदतन वाहन चोरी करने वाले वाहन चोरो की लिस्ट बना रखी है और यह दोनों उस लिस्ट में शामिल है और इसी लिस्ट की मदद से यह क्राइम ब्रांच के हत्थे चढ़े है. उन्होंने बताया की  इस सफलता पर पुलिस कमिश्नर ने क्राइम ब्रांच के इंचार्ज को हीरो आफ दा वीक के तहत सम्मानित करते हुए जहाँ दस हजार का कैश प्राइज दिया वहीँ पूरी टीम को सर्टिफिकेट देकर सम्मानित किया।       


loading...
SHARE THIS

0 comments: