Thursday, January 18, 2018

नगर निगम कर्मचारियों का अपनी मांगों को लेकर 42 वें दिन भी आंदोलन जारी

Movement on the 42nd day for the demands of municipal corporation

फरीदाबाद, 18 जनवरी 2018(abtaknews.com )नगर पालिका कर्मचारी संघ हरियाणा के आहवान पर आज निगम कर्मचारियों ने गेट मीटिंग की और 42 दिनों से चल रहे आंदोलन को तेज करते हुए निगम मुख्यालय दूसरे दिन भी 51 कर्मचारियों ने क्रर्मिक भूख हड़ताल जारी रखी। आज की बैठक की अध्यक्षता सफाई कर्मचारी यूनियन के प्रधान बलवीर सिंह बालगूहेर ने की। मंच का संचालन सफाई कर्मचारी यूनियन के सचिव सोम पाल झिंझोटिया ने किया।दूसरे दिन जारी क्रमिक भूख हड़ताल में कर्मचारी यूनियन के प्रधान बलवीर सिंह बालगूहेर ने की। मंच का संचालन सफाई कर्मचारी यूनियन के सचिव सोम पाल झिंझोटिया, गुरचरण खांड़िया, नानकचंद खैरालिया,श्री नंद ढकोलिया, राजबीर चिण्डालिया, प्रेमपाल, दान सिंह, रघुवीर चैटाला, देवेन्द्र मंझावली, देशराज डागर, महेन्द्र कुड़िया, कृष्ण चंण्डालिया, जगदीश बालगुहेर, रविन्द्र टोंक, क्रेशर, सुदेश कुमार, सूरते, फूल सिंह बालगुहेर, हरपाल कंडेरा, जसवीर चैहान, आजाद सिंह खजानिया, राकेश कांगड़ा, संजय चिण्डालिया, श्याम चंद बैनीवाल, चैधरी नानक, सुरेश मेलादे, हरिकिशन, धर्मेन्द्र, जयपाल, सतवीर सरपंच, सुमित कुमार, श्रीमती माया, शंकुतला, ज्ञानो, कमला, सलोचना, ममता, सहित अन्य कर्मचारी मौजूद थे।

कर्मचारियों को सम्बोधित करते हुये सफाई कर्मचारी यूनियन के प्रधान बलवीर सिंह बालगूहेर, रघुवीर सिंह चैटाला, श्रीनंद ढकोलिया और देवेन्द्र मंझावली ने कहा कि स्वच्छ भारत मिशन शहरी मंत्रालय की टीम आगामी 24 जनवरी को फरीदाबाद में स्वच्छ सर्वेक्षण की निगरानी करने के लिए आ रही है जबकि फरीदाबाद के अंदर सफाई कर्मचारी अपनी मांगों को लेकर नगर निगम के गेट पर धरने प्रदर्शन कर रहे है लेकिन नगर निगम के अतिरिक्त आयुक्त पार्थ गुप्ता के पास इतना भी समय नहीं है कि कर्मचारियों के प्रतिनिधियों से बातचीत कर समस्याओं का समाधान करें और उन्होंने कहा कि शहर में सीवरेज सफाई व्यवस्था के प्रभावित होने से जनता को हो रही परेशानी का जिम्मेदार भी निगम प्रशासन है क्योकि निगम आयुक्त के बाद अतिरिक्त निगम आयुक्त पार्थ गुप्ता एवं संबंधित अधिकारियों का दायित्व बनता है कि वो कर्मचारियों की मानी हुई मांगों का तुरन्त प्रभाव से समाधान करें लेकिन निगम में यह आलम है कि अधिकारी कार्यालय में बैठते ही नही। उन्होंने कहा कि प्रशासन जानबूझ कर कर्मचारियों की न्यायोचित मांगों को पूरा नही करना चाहता। उन्होंने कहा कि 2014 में नियमित हुए कर्मचारियों को आयु का मेडिकल मानने के लिए भी तैयार नहीं है जो कि 2014 के बाद रेगूलर कर्मचारियों में से 75 सफाई कर्मचारियों की मौत हो चुकी है उनके आश्रितों को हरियाणा सरकार की अनुग्रह राशि के तौर पर भी कर्मचारियों को कुछ नहीं मिल रहा है।

क्या मांगे है कर्मचारियों की: न्याययोचित मांग इको ग्रीन कंपनी के द्वारा घर-घर से कूड़ा उठाने का काम शुरू करने के बाद बेरोजगार हुए सफाई कर्मचारियों को नौकरी देने, ईएसआई, ईपीएफ का लाभ देने, 688 कर्मचारियों को निगम रोल पर रखने,  दैनिक वेतन भोगी व अनुबंधित आधार पर लगे कर्मचारियों को नियमित करने, समान काम-समान वेतन देने, 14.29 प्रतिशत बढ़ोत्तरी का एरियर देने, 22 टयूबवैल आॅपरेटर व सीवरमैनों को डयूटी पर लेने, सफाई कर्मचारी व सीवरमैनों की भर्ती करने, सांतवे वेतन आयोग का एरियर देने व वेतन देने की मांग पूरी नही होगी तबतक आन्दोलन जारी रहेगा। उन्होने नगरपालिका कर्मचारी संघ हरियाणा के द्वारा राज्य व्यापी आन्दोलन के तहत 18 व 19 जनवरी को विशाल गेट मीटिंग की जायंेगी और 30 जनवरी को ट्रैड यूनियनों व सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा के आवाहन पर सत्याग्रह जेल भरो आन्दोलन में भाग लेंगे। तथा 16 फरवरी को जिला मुख्यालय पर धरना लेकर उपायुक्त के माध्यम से मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौपा जायेगा।

आज के इस क्रमिक भूखहडताल को संबोधित करने वालों  में अन्य के अलावा कर्मी नेता नानकचंद खैरालिया, परसराम अधाना, रणजीत शुक्ला, सतीश पहलवान, सतीश कुमार, जिले सिंह, योगेश शर्मा, सुमित, सुभाष फेंटमार, भौम सिंह, जितेन्द्र, राजेन्द्र, संजय कुमार, हुकम सिंह, नरेन्द्र कीर, कुलदीप त्यागी, कामरेड सतवीर सिंह, महेश शर्मा, हरीश कुमार, अनिल कुमार, महेश फौगाट, करन सिंह, शंकर बाल गुहेर, संदीप रंगा, निखिल, जय गुलाटी, लोकेश शर्मा,  आदि मौजूद थे।    


loading...
SHARE THIS

0 comments: