Tuesday, January 16, 2018

निगम मुख्यालय पर पिछले 40 दिनों से चल रहे आन्दोलनकारी कर्मचारी 27 को करेंगे हड़ताल

 Agitating worker will be on strike for the last 40 days

फरीदाबाद, 16 जनवरी 2018(btaknews.com ) नगर पालिका कर्मचारी संघ हरियाणा ने निगम मुख्यालय पर पिछले 40 दिनों से चल रहे आन्दोलन को तेज करते हुये 27 जनवरी से हड़ताल करने का फैसला कर दिया है। यह घोषणा आज स्थानीय निगम सभागार में कर्मचारियों की बैठक को सम्बोधित करते हुये नगर पालिका कर्मचारी संघ हरियाणा के राज्य प्रधान नरेश कुमार शास्त्री ने की। श्री शास्त्री ने बताया कि निगम मुख्यालय पर 40 दिनों तक लगातार धरना चलाने के बाद हडताल जैसा कठोर निर्णय लेने के लिये संघ को मजबूर होना पडा है। संघ द्वारा निगम प्रशासन को जल्द ही हडताल का नोटिस भेज दिया जायेगा संघ ने तुरन्त प्रभाव से आन्दोलन को तेज करते हुये कर्मिक भूख हडताल भी आगामी कल से करने का निर्णय लिया है। आज कि बैठक की अध्यक्षता सहायक सफाई निरीक्षक यूनियन के प्रधान बिशन स्वरुप तेवतिया ने की तथा मंच का संचालन सफाई कर्मचारी यूनियन के सचिव सोमपाल झिंझोटिया ने किया। निगम की वाटर सप्लाई यूनियन द्वारा निगम मुख्यालय पर आज भी धरना जारी रहा।
कर्मचारियों को सम्बोधित करते हुये सफाई कर्मचारी यूनियन के प्रधान बलवीर सिंह बालगुहेर, गुरुचरण खण्डिया, सतीश पहलवान, परसराम अधाना ने निगम प्रशासन पर कर्मचारियों की अनदेखी व वादा खिलाफी का आरोप लगाते हुये कहा कि प्रशासन जानबूझ कर कर्मचारियों की न्यायोचित मांगों को पूरा नहीं करना चाहता। उन्होंने चेतावनी भरे अन्दाज में कहा कि कर्मचारियों कि न्यायोचित मांग इको ग्रीन कंपनी के द्वारा घर-घर से कूड़ा उठाने का काम शुरू करने के बाद बेरोजगार हुए सफाई कर्मचारियों को नौकरी देने, ईएसआई, ईपीएफ  का लाभ देने, 688 कर्मचारियों को निगम रोल पर रखने, दैनिक वेतन भोगी व अनुबंधित आधार पर लगे कर्मचारियों को नियमित करने, समान काम-समान वेतन देने, 14.29 प्रतिशत बढ़ोत्तरी का एरियर देने, 22 टयूबवैल ऑपरेटर व सीवरमैनों को डयूटी पर लेने, सफाई कर्मचारी व सीवरमैनों की भर्ती करने, सातवें वेतन आयोग का एरियर देने व वेतन देने की मांग पूरी नहीं होगी तब तक आन्दोलन जारी रहेगा। उन्होंने नगरपालिका कर्मचारी संघ हरियाणा के द्वारा राज्यव्यापी आन्दोलन के तहत 18 व 19 जनवरी को विशाल गेट मीटिंग की जायेंगी और 30 जनवरी को ट्रैड यूनियनों व सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा के आह्वान पर सत्याग्रह जेल भरो आन्दोलन में भाग लेंगे तथा 16 फरवरी को जिला मुख्यालय पर धरना लेकर उपायुक्त के माध्यम से मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा जायेगा।
आज के इस धरने में अन्य के अलावा कर्मी नेता श्री नन्द ढकोलिया, नानक चन्द खैरालिया, रघुवीर चौटाला, दान सिंह, सुदेश कुमार, सतपाल मैंढवाल, प्रेमपाल, कृष्ण कुमार चिण्डालिया, राजपाल, जितेन्द्र छाबडा, महेन्द्र कुडिया, देशराज डाबर, देवेन्द्र मझावली, सूरज कीर, बन्टी खैरालिया, राम किशोर, धर्म सिंह मुल्ला, नैन सिंह, महिला नेता माया, शकुन्तला, ममता, रामबती, कमला आदि ने सम्बोधित किया।

-------------------------------
फरीदाबाद, 16 जनवरी 2018। हरियाणा के कुरूक्षेत्र के गांव झांसा की नाबालिग छात्रा के अपहरण के बाद सामूहिक बलात्कार, हत्या व फरीदाबाद तथा पानीपत में अलग-अलग सामूहिक बलात्कार, अपहरण व हत्याओं के विरोध में सर्व कर्मचारी संघ, हरियाणा व सीआईटू ने बीके चौक से नीलम चौक तक विशाल जुलूस निकालते हुए दोषियों की गिरफ्तारी करने की मांग की।
प्रदर्शन का नेतृत्व सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा के राज्य वरिष्ठ उपप्रधान नरेश कुमार शास्त्री, सीआईटू के राज्य सचिव रामबाबू, सर्व कर्मचारी संघ के जिला प्रधान अशोक कुमार, वरिष्ठ उपप्रधान गुरचरण खाण्डिया, जिला सचिव युद्धवीर खत्री, आशा वर्कर यूनियन की नेता सुधा, सीआईटू के जिला प्रधान निरन्तर पाराशर, एएचपीसी वर्कर यूनियन के उपाध्यक्ष सत्यपाल नरवत, नगर निगम सफाई कर्मचारी यूनियन के प्रधान बलवीर सिंह बालगुहेर, सेवानिवृत कर्मचारियों के नेता लज्जाराम ने किया।
कर्मचारियों को सम्बोधित करते हुए सकसं के राज्य वरिष्ठ उपप्रधान नरेश कुमार शास्त्री ने कहा कि तीन दिन पहले जींद के बुढ़ाखेड़ा गांव में नहर की पटरी पर 15 वर्षीय छात्रा का शव मिला था। पोस्टमार्टम की रिपोर्ट के अनुसार किशोरी के साथ गैंगरेप हुआ है और उसके अंदरूनी अंगों पर नुकीले चीज से प्रहार करके बर्बरतापूर्वक हत्या की गई है। तमाम नेताओं ने कहा कि कहा कि ये दिल दहला देने वाली बर्बर घटना सभ्य समाज के माथे पर कलंक है। दरिंदों ने दरिंदगी की सभी हदें पार कर दी हैं। इससे पहले भी दिल्ली का निर्भया कांड, रोहतक का नेपाली लडक़ी कांड, सोनीपत की लडक़ी का बर्बर बलात्कार व हत्या, हिसार के उकलाना कांड में ऐसी ही दरिदंगी की गई थी। इसके अलावा फरीदाबाद में गत शनिवार को एक युवती का कार सवार युवकों ने अपहरण के बाद सामूहिक दुष्कर्म किया। आरोपियों का अब तक फरीदाबाद पुलिस पता नहीं लगा सकी है।
श्री शास्त्री ने कहा कि हरियाणा में महिलाओं के विरूद्ध अपराध व बर्बरता निरंतर बढ़ रही है। नेशनल क्राइम ब्यूरो के आंकडों के अनुसार हर 21 मिनट में एक महिला बलात्कार का शिकार हो रही है। प्रति लाख महिलाओं के हिसाब से हरियाणा देश में सामूहिक बलात्कार के मामलों में पहले स्थान पर है। पिछले 3 साल में महिलाओं पर 37 प्रतिश्त अपराध बढ़े हैं परन्तु सत्ता में बैठी भाजपा सरकार बच्चियों व महिलाओं को सुरक्षा का दम भरते नहीं थकती है। भाजपा सरकार ने बेटी.बचाओ, बेटी.पढ़ाओ व बहुत हुए महिलाओं के साथ अत्याचार, अबकी बार मोदी सरकार जैसे बड़े-बड़े नारे दिए हैं लेकिन सुरक्षा के लिए कोई ठोस कदम नही उठाये हैं। यहां तक कि पीडि़त महिलाओं के लिए बनाया गया निर्भया फंड भी इस्तेमाल नहीं किया जा रहा है। अपराधी बेखैफ  घुम रहे हैं।   
श्री शास्त्री ने सरकार से मांग की है कि पुलिस की भर्ती व संसाधन जुटा जाए, महिलाओं की भर्ती को बढ़ाया जाये, टे्रनिंग देकर उन्हें संवेदनशील बनाया जाये, पुलिस की गस्त बढ़ाई जाये, नशाखोरी पर रोक लगाई जाये। समाज में जागरूकता बढ़ाने के लिए काम किया जाए। परन्तु राज्य सरकार सिर्फ  शोबाजी के अलावा कुछ नहीं कर रही है। उन्होंने मांग कि है कि पीडि़त परिवार की आर्थिक, कानूनी, सुरक्षा की दृष्टि से तुरंत मदद की जाये। अपराधियों को तुरंत गिरफ्तार करके सख्त से सख्त सजी दी जाये।


loading...
SHARE THIS

0 comments: