Thursday, December 14, 2017

छात्र हितों के लिए शिक्षा संघर्ष की शुक्रवार से युवा करेंगे आगाज;- जसवंत पंवार

Youth will start education struggle for students' interests on Friday; - Jaswant Panwar

फरीदाबाद-14 दिसंबर, 2017(abtaknews.com)युवा आगाज संगठन के संयोजक जसवंत पंवार ने कहा कि छात्र हितों के लिए शिक्षा क्षेत्र में आमूल चूल परिवर्तन के लिए शुक्रवार से हमारा संगठन संघर्ष की शुरूआत करने जा रहा है। युवा आगाज संगठन के बैनर तले शुक्रवार सुबह 11 बजे सेक्टर 12 स्थित जिला मुख्यालय पर जिला उपायुक्त के माध्यम से मुख्यमंत्री मनोहर लाल के नाम ज्ञापन सौंपा जाएगा। जिसमें जिला फरीदाबाद व जिला पलवल के सभी सरकारी एवं प्राईवेट कॉलेजों को एमडी यूनिवर्सिटी से हटा कर वाईएमसीए यूनिवर्सिटी के साथ जोड़ा जाए ताकि युवा वर्ग को फायदा हो और वर्तमान की एमडी यूनिवर्सिटी रोहतक आने जाने की परेशानी पर अंकुश लग सके। छात्र नेता जसवंत पंवार ने प्रैस को जारी विज्ञप्ति में बताया कि जैसा कि विदित हो फरीदाबाद हरियाणा का प्रमुख औद्योगिक शहर रहा है। जिसने विगत वर्षो में शैक्षिक हब के रूप में अपनी एक नई पहचान बनाई है। फरीदाबाद में निजी एवं सरकारी कॉलेजों की संख्या 54 है। एक सरकारी विश्वविद्यालय एवं तीन निजी यूनिवर्सिटी हैं जिसमें लाखों छात्र पढते हैं। अधिकांश कॉलेज एमडी यूनिवर्सिटी रोहतक से सबंद्ध हैं जिसके चलते किसी भी शैक्षिक कार्य हेतु रोहतक जाना पडता है जिस कारण छात्रों एवं अभिभावकों को बहुत परेशानी होती है। फरीदाबाद के सभी कॉलेजों को वाईएमसीए यूनिवर्सिटी से संबद्ध कर दिया जाए तो लाखों छात्रों को बहुत बड़ी राहत मिलेगी।
छात्रों को पर्याप्त अवसर न मिलने से प्रति वर्ष हजारो छात्र अपनी पढ़ाई अधूरी छोड़ देते हैं।  पहले भी विभिन्न छात्र संगठनों द्वारा शहर में सरकारी यूनिवर्सिटी बनाने की मांग की गई। यदि सरकार फरीदाबाद व पलवल जिले के सभी कॉलेजों को वाईएमसीए यूनिवर्सिटी से जोड देती है तो युवाओं की रोहतक की दौड़-धूप समाप्त हो जाएगी और इस क्षेत्र के लाखों छात्रों को बहुत बड़ी राहत मिलेगी। उक्त निर्णय से हरियाणा सरकार का बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान की सार्थकता बढेगी और युवा वर्ग में लोकप्रियता प्रसांगगिक  होगी।
युवा आगाज संगठन जिला उपायुक्त के माध्यम से उक्त मांग को पूरा कराने के लिए शुरूआत कर रही है उसके उपरांत फरीदाबाद सांसद एवं केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर, केंबिनेट मनीस्टर विपुल गोयल, विधायक सीमा त्रिखा, विधायक मूलचद शर्मा एवं अन्य विधायको को क्रमवार ज्ञापन के माध्यम से मांग को पूरा कराने के लिए कहा जाएगा।



loading...
SHARE THIS

0 comments: