Saturday, December 2, 2017

क्षत्रिय समाज की बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ मुहिम का चमकता सितारा है दीक्षा भाटी


Kshatriya's daughter's daughter diksha bhati, save your daughter's teachings.

फरीदाबाद(Abtaknews.com) 02 दिसंबर,2017; बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ मुहिम आज हरियाणा प्रदेश सहित पूरे ही भारतवर्ष में पूरी तरह से सफलता की बुलंदियों को छू रहा है।  हमारे देश व प्रदेश के लोगों की सोच में भी बदलाव आया है उसी का प्रतिफल है कि आज देश व प्रदेश की बेटियां विश्वस्तर पर अपनी पहचान बना रही है। ऐसा ही कुछ कर दिखाया है अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा के प्रदेश अध्यक्ष एवं पूर्व भाजपा मीडिया प्रभारी कुंवर उमेश भाटी की बड़ी बेटी दीक्षा भाटी ने। दीक्षा भाटी आगामी 16 दिसम्बर को दुबई में फाईनल मुकाबला होना है इसके लिए उनका चयन मानव रचना  यूनिवर्सिटी में आयोजित मास्टर पीस 2017 के दौरान रेडियो मिर्ची के चर्चित रेडियो जॉकी नावेद और टीवी रियालिटी शो रोडिज फेम रणविजय ने किया। दीक्षा भाटी मानव रचना में बीटेक तृतीय वर्ष की छात्रा है। वह ताईक्वांडो में ब्लैक बैल्ट भी है और इस खेल में राष्ट्रीय स्तर पर आयोजित प्रतियोगिताओ में समय समय पर हिस्सा लेती रही है और कई पुरस्कारो व मैडलो पर भी कब्जा जमाया। 

दीक्षा भाटी से कुछ बातचीत के अंश।
रिपोर्टर: दीक्षा आपको इस मुकाम पर पहुंचने में सबसे अधिक किसका सहयोग मिला।
दीक्षा भाटी : मेरे इस मुकाम में पहुंचाने का श्रेय में अपने माता-पिता को देती हूं जिन्होंने सदैव मेरा सहयोग किया।
रिपोर्टर: दीक्षा डांस को ही आपने क्यो चुना
दीक्षा भाटी : शिक्षा के साथ साथ अगर हम किसी भी प्लेटफार्म को चुने और अच्छा करे तो अवश्य ही सफलता मिलती है।
रिपोर्टर: डांस करने पर आपक माता पिता का क्या व्यवहार रहा।
दीक्षा भाटी : मैने पहले भी कहा माता पिता ने सदैव मेरा सहयोग किया और मेरे निर्णय में किसी तरह का प्रश्रचिन्ह नहीं लगाया।
रिपोर्टर: आगामी दिनो में आपका लक्ष्य क्या है
दीक्षा भाटी  : मेरा मुख्य लक्ष्य अपने अभिभावको का नाम रोशन करना है उसी को लेकर मैं हर कार्य करती हूं।
रिपोर्टर: दीक्षा भाटी इस मुकाम पर पहुंचने के लिए आपने क्या क्या किया।
दीक्षा भाटी : उन्होंने बताया कि मैने समय समय पर इस तरह के प्रोग्राम में हिस्सा लिया और इसी का प्रतिफल है कि मानव रचना यूनिवर्सिटी में आयोजित मास्टर पीस 2017 के दौरान रेडियो मिर्ची के चर्चित रेडियो जॉकी जावेद और टीवी रियालिटी शो रोडिज फेस रणविजय ने मेरा चयन किया। उन्होंने बताया कि  हम एक समय में दो कैरियर अपनाकर कैसे आगे बढते है। उन्होंने कहा कि आज टेलेंट की पहचान है और अगर किसी में भी टेलेेंट हो तो उसका चयन निश्चित रूप से होना ही है। उन्होंन कहा कि आज भी कई कंपनियो में काम करने वो कई ऐसे लोग मिल जायेंगे जो नौकरी के साथ खुद के एक्सपोजर के लिए दूसरे कार्यो मे भी अपना भाग्य आजमाते है और अगर उनमें टेलेंट होता है तो वह आगे बढ़ जाते है। 
रिपोर्टर: तरक्की के लिए क्या जरूरी है।
दीक्षा भाटी : तरक्की के लिए किसी भी कार्य में आत्मविश्वस जरूरी है।


loading...
SHARE THIS

0 comments: