Wednesday, December 27, 2017

भगवान के नाम की महिमा अपरम्पार है ; रवीन्द्र आचार्य महाराज

The glory of God's name is immortal; Rabindra Acharya Maharaj

फरीदाबाद (abtaknews.com ) 27 दिसंबर,2017 ; श्रीराम मंदिर तालाब वाली गली ओल्ड फरीदाबाद में आयोजित श्रीमद़ भागवत् कथा के दूसरे दिन कथा व्यास परम श्रद्वेय काष्र्णि रवीन्द्र आचार्य जी महाराज ने भगवान के 52 अवतारों का व्याख्यान किया। उन्होनें बताया कि बलि के द्वार पर भिक्षा के लिए 52 भगवान द्वारा तीन पग दान में मांगें और तीन पग मिलने पर भगवान ने तीनों लोकों को तीन पग में नाप लिया। उन्होनें बताया कि भगवान ने अपने भक्त के लिए सारी सम्पति को लेकर के उसे भक्ति का वरदान दिया। उन्होनें बताया कि भगवान के नाम की महिमा इतनी है कि एक बार नाम लेने पर ही भगवान अपने धाम को भेज देते है। रवीन्द्र आचार्य जी महाराज ने अजमिल के चरित्र के बारे में बताया जो भगवान का एक नाम लेने पर धाम को चला गया। उन्होनें कहा कि आज के संसारी लोगों को चाहिए कि वे भगवान के नाम का अभ्यास करें क्योकि अंतिम समय पर भगवान स्वंय उन्हें लेने के लिए पधारते है। इस अवसर पर हेमंत शर्मा,सुरेश मदान,उमा शर्मा,रेनू मल्होत्रा,रेखा सिंगला,दीप्ती शर्मा,राधा,निशा,सुधा व पुष्पा शर्मा,परविन्द्र मल्होत्रा(शंटी),सचिन शर्मा,सतीश आहूजा,दीपक ठकुराल,कुलदीप सिंह,बिन्दू ठेकेदार,अजय गर्ग,अमित कपूर,ओमप्रकाश मंगला,रूपेश अग्रवाल,तिलक बतरा,यशंवत शर्मा,गरवित मल्होत्रा,ऋषभ,जगदीश विरमानी, आदि भक्त उपस्थित थे।


loading...
SHARE THIS

0 comments: