Friday, December 15, 2017

युवा आगाज ने की एमडीयू से हटाकर वाईएमसीएम यूनिवर्सिटी से सभी कालेजों को जोडने की मांग

Yuva Aagas demanded to remove all colleges from YMCM University by removing them from MDU

फरीदाबाद 15 दिसंबर(abtaknews.com )फरीदाबाद सेक्टर 12 लघुसचिवाल पर युवा आगाज छात्र संगठन के बैनर तले फरीदाबाद पलवल और मेवात के सैंकडों छात्रों ने सभी सरकारी एवं प्राईवेट कॉलेजों को एमडी यूनिवर्सिटी से हटा कर वाईएमसीए यूनिवर्सिटी के साथ जोडऩे की मांग को लेकर नारेबाजी करते हुए मुख्यमंत्री के नाम डीडीपीओ को ज्ञापन सोंपा। छात्रों ने मांग की है कि एमडी यूनिवर्सिटी रोहतक आने जाने से परेशानी बढ रही है और इसके चलते सेंकडों छात्रओं ने पढाई भी छोड दी है। इसलिये सभी कालेजों को वाईएमसीए यूनिवर्सिटी से जोड दिया जाये ताकि लाखों युवाओं को बिन परेशानी से पढने का मौका मिले। छात्रों ने चेतावनी दी है कि अगर उनकी मांग जल्द पूरी नहीं की गई तो छात्रों तीनों जिलों में सरकार के खिलाफ प्रदर्शन करेंगे। फरीदाबाद में सालों से चलती आ रही एमडी यूनिवर्सिटी के रिजनल सेंटर की मांग में में अब समयानुसार युवा छात्रों ने तब्दीली करते हुए एक बार युवा आगाज छात्र संगठन ने फरीदाबाद पलवल और मेवात के छात्रों को एकत्रित कर चिंगारी लगा दी है, इस बार छात्र संगठन की मांग रिजनल सेंटर की नहीं बल्कि वाईएमसीए यूनिवर्सिटी से सभी कालोजों को जोडने की है। जिसको लेकर आज फरीदाबाद पलवल और मेवात के सैंकडों छात्रों ने युवा आगाज छात्र संगठन के बैनर तले जिला उपायुक्त कार्यालय पर जोरदार प्रदर्शन करते हुए मुख्यमंत्री के नाम डीडीपीओ को ज्ञापन सोंपा।
युवा आगाज संगठन के संयोजक जसवंत पंवार ने कहा कि छात्र हितों के लिए शिक्षा क्षेत्र में आमूल चूल परिवर्तन जरूरी है इसलिये वो लाखों छात्र चाहते हैं कि जिला फरीदाबाद व जिला पलवल के सभी सरकारी एवं प्राईवेट कॉलेजों को एमडी यूनिवर्सिटी से हटा कर वाईएमसीए यूनिवर्सिटी के साथ जोड़ा जाए ताकि युवा वर्ग को फायदा हो और वर्तमान की एमडी यूनिवर्सिटी रोहतक आने जाने की परेशानी पर अंकुश लग सके। फरीदाबाद में निजी एवं सरकारी कॉलेजों की संख्या 54 है और वरिष्ठ माध्यमिक सरकारी स्कूल 50 और 200 निजी वरिष्ठ स्कूल जिनमें से से प्रतिबर्ष लाखों बच्चे कालेजों में पढने के लिये निकलते हैं। जिनमें पढने वाले लाखों युवा छात्रों को एमडीयू रोहतक के चक्कर काटने पडते हैं जिसके कारण उनका समय और पैस दोनों ही खर्च होता है। इतना ही नहीं जसवंत ने छात्रों की ओर से प्रशासन को चेतावनी देते हुए कहा कि अगर उनकी इस मांग को जल्द से जल्द पूरा नहीं किया गया तो वो आने वाले फरीदाबाद सांसद एवं केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर, केंबिनेट मनीस्टर विपुल गोयल, विधायक सीमा त्रिखा, विधायक मूलचद शर्मा एवं अन्य विधायको को क्रमवार ज्ञापन सोंपेगे और उग्र प्रदर्शन करेंगे। इस प्रदर्शन में छात्र नेता अजय डागर, डीआईसीएफ प्रधान रवि सैनी, विकास नागर, लड्डू विशाल, हिमांशु भट्ट, बलजीत, विशाल शर्मा तिलपत, हर्ष, नवीन गुर्जर, दिनेश सहरावत, मनोज, दीपक, सुनील, मनीष, पवन, अमर, गिर्राज, दिनेश रावत, आनंद तंवर, अजय आल्दोका के साथ - साथ पलवल और मेवात के दर्जनों छात्र भी मौजूद रहे। 

loading...
SHARE THIS

0 comments: