Thursday, December 14, 2017

हार्डवेयर कालोनी में भाजपा विधायक की क्या डील हुई, सच जानना चाहती है जनता: भाटिया

Jagdish Bhatia: What is the BJP MLA's deal in the Hardware Colony, wants to know the truth: Jagdish Bhatia

फरीदाबाद(abtaknews.com) बडख़ल विधानसभा क्षेत्र की भाजपा विधायक सीमा त्रिखा की हार्डवेयर  कालोनी में अवैध निर्माण करने वालों से क्या डील हुई है, यह आज क्षेत्र की जनता जाननी चाहती थी। एक ओर वह अवैध निर्माण करने वालों को सरंक्षण दे रही है, वहीं दूसरी ओर सैनिक कालोनी व दो नंबर नागा बाबा कालोनी में रहने वालों का उजाड़ रही है, आखिर विधायक चाहती क्या है, इसका वह स्पष्टीकरण दें अन्यथा विधायक पद से इस्तीफा दे। यह बयान भाजपा व्यापार प्रकोष्ठ के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष जगदीश भाटिया ने जारी किया है। उन्होंने कहा कि सैनिक कालोनी व दो नंबर में रहने वाले लोगों की क्या गलती थी। वह अपने घरों में रह रहे थे।  प्रशासन ने सैनिक कलोनी के  घरों में तोडफ़ोड़ की , तब विधायक सीमा त्रिखा कहां थी। सैनिक कालोनी में हजारों लोगों के सिर से छत उजाड़ी गई, सर्दियों में उनके घरों में जमकर तोडफ़ोड़ की गई, मगर तब विधायक हाईकोर्ट के आदेशों का हवाला देकर अपनी आलीशान कोठी में छुपी रही।
इसी प्रकार से एनआईटी नंबर 2 में नागा बाबा कालोनी को जब प्रशासन उजाडऩे पर तुला था, तब भी विधायक सीमा त्रिखा  हाईकोर्ट के आदेश बताकर अपनी जिम्मेदारी से भागमी रही। वह चुपचाप लोगों की छत उजडऩे का इंतजार करती रही। पंरतु तमाम राजनैतिक दलों के हस्तक्षेप के बाद नागा बाबा कालोनी पर तोडफ़ोड़ का खतरा टला। लेकिन वहीं दूसरी ओर जैसे ही नगर निगम के अधिकारी ईमानदारी से अपनी डयूटी निभाते हुए हार्डवेयर कालोनी में अवैध निर्माणों को तोडऩे पहुंचे तो अचानक विधायक सीमा त्रिखा ने वहां पहुंचकर तांडव मचा दिया और अधिकारियों को तबादले की धमकी दी।
आखिर विधायक की ऐसी क्या मजबूरी थी कि वह अवैध निर्माण करने वालों को सरंक्षण देने के लिए नगर निगम के अधिकारियों से भिड़ गई। श्री भाटिया ने कहा कि पूरा शहर जानता है कि  हार्डवेयर कालोनी में होने वाले निर्माण ना केवल पूरी तरह से अवैध हैं, बल्कि वहां के लोग हाईकोर्ट में भी केस हार चुके हैं।
इसलिए नगर निगम अधिकारियों ने कमिश्नर के आदेश पर अवैध निर्माण तोडऩे की कार्रवाई की थी। हैरत की बात तो यह है कि हार्डवेयर में लोग रहते ही नहीं, लेकिन विधायक अपने व्यक्तिगत स्वार्थ की खातिर अवैध निर्माणों को बचाने के लिए वहां पहुंच गई। इसलिए वह विधायक से पूछना चाहते थे कि उनकी हार्डवेयर कालोनी के अवैध निर्माण करने वालों के साथ क्या डील हुई है।
 यदि वह पाक साफ हैं तो लोगों के सामने अपनी डील का खुलासा करें। श्री भाटिया ने कहा कि विधायक सीमा त्रिखा व केंद्रीय मंत्री कृष्णपाल गुर्जर अपने कारनामों  से मुख्यमंत्री मनोहर लाल, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एवं भाजपा संगठन की छवि को धूल में मिला रहे हैं। फरीदाबाद जिले में आज हालत यह है कि लोग भाजपा सरकार को कोस रहे हैं। कमल के फूल को जिताने को लोग अपनी भूल मानने लगे हैं और यह सब कृष्णपाल व सीमा त्रिखा जैसे चुनिंदा नेताओं की वजह से हुआ है। जबकि प्रधानमंत्री मोदी व मुख्यमंत्री मनोहर लाल जैसे ईमानदार व स्वच्छ छवि के नेता इस प्रदेश व देश को मिलना मुश्किल हैं। इनका एकमात्र उद्देश्य अपने प्रदेश व देश का विकास करना है। परंतु अब प्रधानमंत्री श्री मोदी व मुख्यमंत्री को भी सरकार व संगठन का सत्यानाश करने वाले नेताओं से सतर्क रहना होगा, नहीं तो आने वाले दिनों में भाजपा का नामलेवा भी कोई नहीं बचेगा।


loading...
SHARE THIS

0 comments: