Friday, December 15, 2017

सफाई कर्मियों को दिए जाएंगे पर्याप्त संख्या में सुरक्षा उपकरण-सुभाष चंद्र


Suvidha personnel will be given adequate security equipment - Subhash Chandra

पलवल, 15 दिसंबर(abtaknews.com ) स्वच्छ भारत मिशन हरियाणा के कार्यकारी उपाध्यक्ष सुभाष चन्द्र ने कहा कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल की प्रेरणा से प्रदेश के ग्रामीण व शहरी क्षेत्रों में कार्यरत सफाई कर्मियों की सभी प्रकार की समस्याओं को सुनने के लिए सरकार ने जिलास्तर पर कार्यशाला का आयोजन किया जा रहा है। इस कार्यशाला का उद्देश्य  कार्यक्रम की मुल्यवान कड़ी सफाई कर्मियों के मनोबल को बढाना, उनके कार्य को प्रोत्साहित करना व उनकी समस्याओं का निदान कराना तथा सरकार द्वारा उनके लिए चलाई जा रही योजनाओं की जानकारी देना है। 
वे आज स्थानीय महात्मा गांधी सामुदायिक केन्द्र एवं पंचायत भवन में सफाई कर्मचारियों की स्वच्छ भारत मिशन के तहत एक दिवसीय कार्यशाला को संबोधित कर रहे थे। कार्यशाला में जिलाभर से सफाई कर्मचारियों ने भाग लिया। कार्यशाला में पलवल नगर परिषद की चेयरपर्सन श्रीमती इंदू भारद्वाज, जिला विकास एवं पंचायत अधिकारी दीपक यादव, होडल के खण्ड विकास एवं पंचायत अधिकारी प्रदीप कुमार, कार्यकारी अधिकारी नगर परिषद होडल मानवेन्द्र सिंह, नगर परिषद पलवल के सचिव नरेश सैनी, मीडिया कोऑर्डिनेटर तेजिंदर बिडलान, रविन्द्र कुमार, बलकार सिंह, निर्मल सिंह व जिला के सफाई सैनिक मौजूद थे।
स्वच्छ भारत मिशन हरियाणा के कार्यकारी उपाध्यक्ष सुभाष चन्द्र ने कहा कि सफाई कर्मियों की हर समस्या का समाधान करने के लिए राज्य सरकार कर्तसंकल्प है। प्रदेश की सरकार ने सफाई कर्मचारियों की हर समस्या का समाधान प्राथमिकता के आधार पर किया है। राज्य सरकार द्वारा सफाई कर्मियों के हित में अनेक फैसले लिए है, जिनका फायदा सफाई कर्मचारियों को मिल रहा है। इसी कड़ी में प्रदेश सरकार ने सफाई कर्मियों का वेतन सीधे उनके खातों में डालने का सराहनीय फैसला लिया है। 
उन्होंने कहा कि जिस प्रकार से सैनिक देश की सीमाओं से दुश्मनों को दूर भगाते है, उसी प्रकार से सफाई कर्मी देश के अन्दर से गन्दगी को भगाते है। इसलिए देश निर्माण में सफाई कर्मियों का बहुत बड़ा योगदान होता है। सफाई कर्मचारियों को सातवें वेतन आयोग का लाभ देने की घोषणा भी मुख्यमंत्री मनोहर लाल द्वारा पहले की जा चुकी है। इसके अलावा केंद्र व राज्य सरकार ने सफाई कर्मियों के कल्याण के लिए अनेक प्रकार की योजनाएं बनाई हैं। सफाई कर्मियों को चाहिए कि वे इन योजनाओं की जानकारी प्राप्त कर अपने परिवार व अपने बच्चों के उज्जवल भविष्य के लिए इन योजनाओं का अधिक से अधिक लाभ उठाएं। 
उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारत को स्वच्छ बनाने के लिए जो सपना संजोया है, उसे प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहर लाल पूरा करने की दिशा में स्वच्छ भारत अभियान को जन आंदोलन बनाकर चल रहे हैं। इस सपने को साकार करने में सफाई कर्मी की अह्म भूमिका है, क्योंकि सफाई कर्मचारी स्वच्छता अभियान की रीढ़ की हड्डी है। आम लोगों को भी चाहिए कि वो प्रदेश को साफ-सुथरा बनाने के इस अभियान में अपनी भागीदारी निभाए, ताकि हरियणा प्रदेश को देश का सबसे स्वच्छ एवं सुंदर राज्य बनाया जा सके। उन्होंने कहा कि स्वच्छता मिशन हम सबका सांझा मिशन है, जिसमें सभी के निरंतर प्रयास की भागीदारी होना बहुत ही जरूरी है, ताकि आने वाली पीढी का जीवन सुखद व स्वच्छ हो। उन्होंने यह भी कहा कि सफाई कर्मी स्वच्छता अभियान के सच्चे प्रहरी है। वे हर रोज प्रदेश को स्वच्छ बनाने के लिए लगातार कार्य करते है। 
सुभाष चंद्र ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने महात्मा गांधी के स्वच्छता के सपने को साकार करते हुए स्वच्छता अभियान को एक मिशन के रूप में लिया और पूरे देश ने इसे अपनाया है। उन्होंने कहा कि गांधी जी के सपने और प्रधानमंत्री के आह्वान पर हरियाणा ने भी स्वच्छता में मिशाल कायम की है। उन्होंने सफाई कर्मचारियों से आह्वान किया कि वे उनके हित के लिए सरकार द्वारा लागू की गई योजनाओं की जानकारी लेकर उनका लाभ उठाए। उन्होंने बच्चों को शिक्षित करने और उन्हें आगे बढऩे के लिए प्रेरित करें ताकि आधुनिक युग में वे नई तकनीक के साथ आगे बढ़ सके। इस अवसर पर सफाई कर्मचारियों ने अपनी समस्याओं बारे ज्ञापन प्रस्तुत किए तथा उन्होंने सफाई कर्मचारियों की समस्याओं को ध्यानपूर्वक सुनकर विभाग के अधिकारियों को उनके निपटान बारे आवश्यक दिशा निर्देश दिए। 
कार्यशाला मेंं जिला विकास एवं पंचायत अधिकारी दीपक यादव ने मुख्यअतिथि का स्वागत किया और कहा कि सफाई कर्मी वास्तव में स्वच्छता के सारथी हैं, जो स्वच्छता के इस अभियान को आगे बढाने में अपनी अहम भूमिका निभा सकते हैं। उन्होंने कहा कि इस अभियान में सफाई कर्मियों के साथ-साथ हम सभी का योगदान अति आवश्यक है। जिस प्रकार ओडीएफ में जिला को सकारात्मक परिणाम मिले हैं, उसी प्रकार स्वच्छता अभियान में भी जिलावासी अपना पूर्ण योगदान देकर इसे सफल बनाएंगे।
000
पलवल, 15 दिसम्बर। जिला खाद्य एंव आपूर्ति नियंत्रक योगेन्द्र कुमार ने बताया कि माननीय सर्वोच्च न्यायालय व एनजीटी नई दिल्ली में पर्यावरण से संबंधित केस विचाराधीन होने के कारण सरकार द्वारा निर्णय लिया गया है कि पलवल जिला के सभी भट्टे आगामी आदेशों तक बंद रहेंगे। उन्होंने बताया कि अगर जिला में कोई भी भट्टा चलता हुआ पाया गया तो उसके विरूध नियमानुसार कानूनी/विभागीय आवश्यक कार्यवाही की जाएगी।

loading...
SHARE THIS

0 comments: