Saturday, December 30, 2017

समरस गंगा महोत्सव रविवार को, दुल्हन की तरह सज कर तैयार पलवल

 Samaras Ganga Festival on Sundays, decorated like a bride and groom ready

 पलवल(abtaknews.com ) 30 दिसंबर,2017 ; समरस गंगा महोत्सव को लेकर शहर पूरी तरह भगवा रंग में रंग दुल्हन की तरह सज चुका है। महोत्सव को लेकर शहर में जगह-जगह पताकाएं लगाई गई है। आने वाले अतिथियों के लिए  स्वागत के लिए पांच स्थानों को चिन्हित कर तैयारी पूर की जा चुकी है। उल्लेखनीय है राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के तत्वाधान में होने वाले समरस गंगा महोत्सव में जिले के 42 शहीद सैनिकों के गानों की रज को कलश में भरकर रथ यात्रा द्वारा ढोल नगाड़ों के साथ नेताजी सुभाष चंद स्टेडियम में निर्मित भारत माता के मंदिर में लाकर सरयू नदी के जल के द्वारा मंत्रों उच्चारण के साथ पूजन किया जाएगा। पूजन में इलाके के संत समाज व पुजारी अपनी सहभागिता निभाएंगे। रविवार को जिलेभर में हजारों महिलाएं कलश यात्रा लेकर आयोजन स्थल पर पहुंचेगी। महोत्सव में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के साथ कंधे से कंधा मिलाकर चल रहे सामाजिक संस्थान, विद्यार्थी, पूर्व सैनिकों एवं शहीद सैनिकों के परिवारों का समाज के लिए एक विशेष योगदान समरस गंगा महोत्सव दिवस की पहचान बनेगा। हरियाणा के एक छोटे से जिले से शुरू हुए समाज में समरसता लाने को समाज द्वारा किया गया यह प्रयास समाज को एकजुट करने में मील का पत्थर साबित होगा। इस महोत्सव में ना केवल शहीद परिवारों को बल्कि समाज को विशेष योगदान देने वाले महान विभूतियों को भी सम्मानित कर समाज के सामने लाया जाएगा ताकि उनसे प्रेरणा लेकर नई पीढ़ी भी समाज हित के बारे में सोचें और समाज हित के लिए कार्य करें
नेताजी सुभाष चंद्र बोस स्टेडियम में आयोजित होने वाले समरस गंगा महोत्सव में दो पूर्ण रुप से सुसज्जित स्वागत द्वार बनाए गए हैं व पांच स्थानों पर बने पार्किंग स्थल पर आगंतुकों का स्वागत किया जाएगा।  शहर के मुख्य चौराहे बस स्टैंड, किठवाड़ी चौक, मेन मार्केट, कमेटी चौक व आगरा चौक को भगवा रंग की झंडियों से सुसज्जित किया गया है। कार्यक्रम स्थल पर चार मंच बनाए गए हैं। मुख्य रूप से भारत माता के मंदिर के लिए तैयार किए गए मंच पर शहीद रज से शोभित कलश रख कर पूजन किया जाएगा। दूसरे मंच को शहीद सैनिकों के परिवार,  तीसरे मंच पर सांस्कृतिक कार्यक्रम व चौथे मंच पर संत और सैनिक व राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के उच्चाधिकारी सुशोभित करेंगे।  इस महोत्सव में शहीद सैनिक परिवारों की हौसला अफजाई के लिए राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सह प्रांत संघचालक पवन जिन्दल,  उत्तर भारत क्षेत्र कारवाह प्रोफेसर सीताराम व्यास भी आएंगे। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि मेजर जनरल जी.डी. बख्शी होंगे। इस महोत्सव में 298 गांव से कलश लेकर पांच रथ पहुंचेंगे। स्वयंसेवकों की टीम पार्किंग से सैनिक परिवारों को सह सम्मान मंच तक व कार्यक्रम की शोभा बढ़ाने आए खिलाडिय़ों को एवं पूर्व सैनिकों को मंच तक छोड़ कर सम्मान प्रदान करेगें।

loading...
SHARE THIS

0 comments: