Friday, December 29, 2017

सूरजकुंड थाने के सबइंस्पेक्टर को रिश्वत लेने के आरोप में किया रंगे हाथ गिरफ्तार


फरीदाबाद 29 दिसंबर।  विजिलेंस गुरुग्राम ने आज फरीदाबाद के सूरजकुंड थाने में तैनात एक सब इंस्पेक्टर सुरेश कुमार को 50000./ रूपए रिश्वत लेते हुए रूपए रंगे हाथों गिरफ्तार किया हैं। विजिलेंस की मानें तो 2016 में एक मारपीट के मामले में कुछ लोगो का नाम हटाने के एवज में पचास हजार रूपये की रिश्वत मांगी गयी थी. अधिकारी ने बताया की शिकायत मिलते ही उन्होंने कार्यवाही को अंजाम देते हुए एक टीम का गठन किया और विजिलेंस की टीम ने उक्त सबइंस्पेक्टर सुरेश कुमार को रंगे  हाथो पकड़ लिया और उसे विजिलेंस की टीम गुरुग्राम कार्यलय में ले गई हैं। गुरुग्राम विजिलेंस की गिरफ्त में दिखाई दे रहा यह वही सबइंस्पेक्टर जिसे विजिलेंस की टीम ने पचास हजार रूपये रिश्वत लेते हुए रंगे हाथो पकड़ लिया था. विजिलेंस टीम के अधिकारी ने बताया की फरीदाबाद के सूरजकुंड थाने में सबइंस्पेक्टर के पद पर तैनात इस पुलिस कर्मी ने 2016 में लड़ाई झगडे में मामले में कुछ लोगो का नाम एफआईआर से हटाने के एवज में पचास हजार रूपये रिश्वत की मांग की  थी. इस पर उन्हें शिकायत मिली जिस पर उन्होंने रेड कंडक्ट करते हुए सब इन्स्पेक्टर को पचास हजार रूपये रिश्वत लेते हुए रंगे हाथो पकड़ लिया और आरोपी को गिरफ्तार करके आगे की कार्यवाही की जा रही है.। गौरतलब है की  वर्ष -2016 हैं जिसमें  भारतीय दंड सहिंता  की धारा 147,148,149 ,452,323, 506 सहित कई धाराओं में मुकदमा दर्ज हैं।  शिकायत कर्ता शिव रतन निवासी मंझावली ने विजिलेंस से शिकायत की थी की उपरोक्त मुकदमें में से दो महिलाओं के नाम हटाने के एवज में उससे सूरजकुंड थाने में तैनात उप -निरीक्षक सुरेश कुमार ने उससे 50000 रूपए बतौर रिश्वत की मांग रहा था.  शिकायतकर्ता  द्वारा आज जब सूरजकुंड थाने से उप -निरीक्षक सुरेश कुमार को जैसे ही रिश्वत के 50000 रूपए उसके हाथों में दिए तो गुरुग्राम की विजिलेंस की टीम ने उसे रंगे  पकड़ लिया था । जिसे विजिलेंस की टीम अपने साथ गुरुग्राम विजिलेंस कार्यालय ले गयी और वही से आगे की कार्यवाही की जायेगी।  

loading...
SHARE THIS

0 comments: