Tuesday, November 28, 2017

आदिनाथ दिगम्बर जैन मंदिर में हुई ज्ञान कल्याण की क्रियाएं


फरीदाबाद 28 नवम्बर(abtaknews.com ) आदिनाथ दिगम्बर जैन मंदिर डबुआ कालोनी में चल रहे पंचकल्याणक में आज ज्ञान कल्याणक मनाया गया। महामुनि आदिनाथ ने तपस्या के बाद पहली बार आहार चरिया की। पहली बार इष्कुरत का आहार लिया। इसके बाद ज्ञान कल्याण की क्रियाएं, भक्ति संगीत, आदि वासना, सूर्य मंत्र तथा महामुनि जीवन ज्ञान प्राप्ती के दृश्य दर्शाये गये। सम्वचरण की रचना तथा सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किये गये। इससे पहले बीती रात जैन कवि सम्मेलन का आयोजन किया गया। यह कवि सम्मेलन युवा मण्डल के अध्यक्ष निर्मेश जैन एवं उनके सहयोगियों सौरभ, गौरव, विनीत, मनोज झांझरी, योगेश, व अन्य के सानिध्य में किया गया। कार्यक्रम का संचालन मुकेश जेन द्वारा किया गया। उन्होंने कवियों का परिचय दिया।

रात 1 बजे तक चले इस कवि सम्मेलन में वरिष्ठ कवि चन्द्रसेन जैन भोपाल, सौरभ जैन सुमन मेरठ, अजय अङ्क्षहसा वासल, डा. अम्बिका अम्बर मेरठ, डा. कमलेश बंसत तिजारा, पंकज जैन फनकार दिल्ली, नम्रता जैन छत्तरपुर मध्यप्रदेश ने जैन धर्मो से सम्बंधित हास्य से जोडकर विभिन्न कविताएं प्रस्तुत की। कवि चन्द्रसैन द्वारा मातृ शक्ति , हिन्दूस्तान पाकिस्तान की रचना से श्रोताओं का मंत्रमुग्ध कर दिया। अनामिका अम्बर द्वारा मॉ सरस्वती की वंदना की गयी। भू्रण हत्या व गौवंश पर बहुत सुंदर प्रस्तुति दी। अजय अङ्क्षहसा द्वारा आचार्य विद्यासागर को रचनाएं समर्पित की गयी। जबकि कमलेश बंसत ने हास्य का पुट देते हुए वर्तमान के संदर्भ में बहुत ही सुंदर रचनाएं प्रस्तुत की। इस अवसर पर दोनो महिला कवियत्रियों का कुसुम जैन एवं चमन जैन अभिनंदन स्वागत किया। मंदिर की कार्यकारिणी व युवा मण्डल के सदस्यों ने सभी आये हुए कवियों का स्वागत किया।

इस समारोह में स्थानीय विधायक नगेन्द्र भडाना मंदिर परिसर में पहुंचे उन्होंने मंदिर तथा साजसज्जा की प्रशंसा की करते हुए कार्यकारिणी व युवा मण्डल के पदाधिकारियों को बधाई दी। मुनि मंगलाजी से आशीर्वाद लिया तथा भोजन ग्रहण किया।


loading...
SHARE THIS

0 comments: