Friday, November 3, 2017

मंत्री मनीष ग्रोवर ने पलवल सहकारी चीनी मिल्ज के पिराई सत्र का किया शुभारंभ

पलवल,3 नवम्बर,2017(abtaknews.com)सहकारिता राज्य मंत्री मनीष कुमार ग्रोवर ने पलवल सहकारी चीनी मिल्ज के पिराई सत्र 2017-18 का कैन में गन्ना डालकर व बटन दबाकर शुभारंभ किया। इससे पूर्व उन्होंने हवन यज्ञ में पूर्ण आहुति देकर पूजा अर्चना की। इस अवसर पर मुख्यमंत्री के राजनैतिक सचिव दीपक मंगला,पृथला विधायक टेकचंद शर्मा,बल्लभगढ विधायक मूलचंद शर्मा, हरियाणा श्रम कल्याण बोर्ड के वाईस चेयरमैन हरिप्रकाश गौतम भाजपा जिलाध्यक्ष जवाहर सिंह सौरोत ,पूर्व विधायक रामरतन,जिला उपायुक्त मनीराम शर्मा तथा चीनी मिल के प्रबंध निदेशक जितेंद्र कुमार भी मौजूद थे। 

सहकारिता राज्य मंत्री मनीष कुमार ग्रोवर ने पिराई सत्र 2017-18 का शुभारंभ करते हुए कहा कि यह मिल अपने पिराई सत्र के निर्धारित लक्ष्यों को पूरा करते हुए प्रदेश में अपना नाम रोशन करेगी। उन्होंने कहा कि पलवल सहकारी चीनी मिल सोसायटी 1973 में रजिस्टर्ड की गई थी और वर्ष 1984 -85 में 1250 टीसीडी की क्षमता के साथ पिराई का शुभारंभ किया गया था। मिल का एरिया 32 किलोमीटर की परिधि में फैला हुआ है जिससे क्षेत्र के लगभग 400 गांवों के किसान लाभान्वित होते हंै। वर्तमान में मिल के 44 हजार शेयर धारक है और लगभग 03 हजार किसानो के माध्यम से मिल को गन्ना उपलब्ध करवाया जा रहा है। मिल ने पिछले वर्ष 28.74 लाख क्वंटल गन्ने की पिराई कर 9.04 प्रतिशत रिकवरी के साथ 2.60 लाख क्वंटल चीनी का उत्पादन किया गया था जबकि इस सीजन में 32 लाख क्वंटल की पिराई का लक्ष्य रखा गया है। 

ग्रोवर ने कहा कि हरियाणा सरकार किसान हितैषी सरकार है। किसानों के हितों को ध्यान में रखते हुए अनेक जनकल्याणकारी योजनाऐं चलाई जा रही है। हरियाणा सरकार द्वारा भारत वर्ष में गन्ने का सर्वाधिक रेट यानि अगेती किस्म 330 रूपए,मध्यम किस्म 325 व पिछेती किस्म 320 रूपए प्रति क्विंटल घोषित किया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने 3 साल के अंदर 1088 करोड़ रूपए गन्ने का भुगतान किसानो को किया गया है। 

ग्रोवर ने कहा कि पलवल मिल द्वारा गन्ना विकास योजना के तहत किसानों को गन्ना उत्पादन वृद्धि के लिए अत्याधिक सुविधाऐं उपलब्ध करवाई जा रही है। पलवल क्षेत्र के किसानों की मांग को ध्यान में रखते हुए मिल की पिराई क्षमता को बढाया जाएगा। जिसपर लगभग 10 से 15 करोड रूपए का खर्च आएगा। पलवल मिल की पिराई क्षमता बढाने पर मिल को 38 लाख क्विंटल गन्ने की आवश्यकता होगी इसलिए क्षेत्र के किसान आधुनिक तकनीक से अगेती किस्म के अधिक से अधिक गन्ने का उत्पादन करने का प्रयास करें। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल का सपना है कि किसानों की आय दोगुनी हो। 

मनीष ग्रोवर ने कहा कि पिछली सरकारों ने किसानों के नाम पर लोगों को गुमराह करने का काम किया है। कांग्रेस ने किसानों की जमीन को अधिग्रहण करने के नाम पर लूटने का कार्य किया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की नीति अंग्रेजों की नीति फूट डालों राज करों जैसी है। भाजपा सरकार पूरी पारदर्शिता के आधार पर कार्य कर रही है। किसानों की जमीन का जबरन अधिग्रहण नहीं किया जाएगा। किसानों की आय को दोगुण करने के लिए  सरकार प्रयासरत है। 

इस अवसर पर मुख्यमंत्री के राजनैतिक सचिव दीपक मंगला ने किसानोंं को सम्बोधित करते हुए कहा कि अबकी बार पलवल शुगर मिल अपने निर्धारित समय से पहले  शुरू हुई है ताकि गन्ना उत्पादक किसानों को किसी प्रकार की कोई परेशानी न हो। उन्होंने कहा कि सहकारिता राज्यमंत्री ने पलवल शुगर मिल की पिराई क्षमता बढ़ाने का जो आश्वान दिया है निश्चित तौर पर शुगर मिल की पिराई क्षमता बढऩे से पलवल,फरीदाबा व मेवात क्षेत्र के किसानों को लाभ होगा। उन्होंने कहा कि किसान पर्याप्त मात्रा में गन्नें का उत्पादन करें ताकि मिल को पर्याप्त मात्रा में गन्ना उपलब्ध हो सके। इस मौके पर दीपक मंगला ने कर्मचारियों के मांग-पत्र को पढक़र राज्यमंत्री को अवगत करवाया और कर्मचारियों की मांगों को पूर्ण करने की अपील की। 

पृथला क्षेत्र के विधायक टेकचन्द शर्मा ने अपने सम्बोधन में पलवल चीनी मिल की बेहतरी की कामना करते हुए कहा कि गन्ना किसानों की किसी भी प्रकार की समस्या के समाधान के लिए सहकारिता राज्यमंत्री सदैव तत्पर रहते हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार किसान हित में योजनाएं बनाने में तत्पर है। 
इस अवसर पर बल्लबगढ़ के विधायक मूलचन्द शर्मा ने कहा कि पलवल चीनी मिल दक्षिण हरियाणा की एकमात्र चीनी मिल है। फरीदाबाद क्षेत्र के किसान भी अपने गन्ने की फसल को चीनी मिल में लेकर आते हैं। शुगर मिल की क्षमता बढऩे से फरीदाबाद क्षेत्र के किसान अधिक मात्रा में गन्ना उत्पादन करने के लिए पे्ररित होंगे। 

उपायुक्त मनीराम शर्मा ने सहकारिता राज्य मंत्री का धन्यवाद करते हुए उन्हें अवगत कराया कि पिराई सत्र के शुरूआत करने से पहले मिल के  सभी जिम्मेवार अधिकरियों व कर्मचारियों द्वारा  मिल को सुचारू रूप से चलाने संबंधी सभी पहले ही प्रबंध पूर्ण कर लिए गए है। उन्होंने कहा कि चीनी मिल पिराई सत्र 2017-18 के निर्धारित लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए मिल के कर्मचारी व अधिकारी बेहतर रूप से कार्य करेंगे और  बिना किसी बाधा के यह मिल अपना लक्ष्य प्राप्त करेंगी। 

इस अवसर पर जिला परिषद की चेयरपर्सन श्रीमती चमेली देवी, जिला परिषद के उप प्रधान संतराम, पलवल ब्लाक समिति के चेयरमैन पे्रमचन्द, पलवल मार्किट कमेटी के चेयरमैन रणबीर सिंह मनोज, होडल मार्किट कमेटी के चेयरमैन , गंगा लाल गोयल, वीरपाल दीक्षित, पवन अग्रवाल,अविनाश शर्मा, हरेन्द्र तेवतिया सहित चीनी मिल के निदेशकगण मौजूद थे। 

loading...
SHARE THIS

0 comments: