Tuesday, November 7, 2017

हरियाणा कर्मचारी महासंघ के आव्हान पर कर्मचारियों का फरीदाबाद में जेल भरो आंदोलन



फरीदाबाद/07 नवम्बर 2017(abtaknews.com )हरियाणा कर्मचारी महासंघ के आव्हान पर फरीदाबाद जिला से चेयरमेन सुनील खटाना व कर्मचारी महासंघ के जिला प्रधान महेन्दर सिंह, सचिव जयसिंह गिल की अध्यक्षता में फरीदाबाद से अनेकों विभागों के हजारों की संख्या कर्मचारी मौजूद रहे जिसमे हरियाणा रोडवेज परिवहन विभाग, जनस्वास्थ्य विभाग, एक्साइज टैक्सेशन विभाग, तहसील, वन विभाग, बिजली विभाग, शिक्षा विभाग, आशा वर्कर, मिड डे-मील, पीडब्ल्यूडी एन्ड मैकेनिकल विभाग, हुड्डा विभाग, गेस्ट टीचर्स आदि के अनेकों विभागों के कर्मचारियों ने भारी संख्या में बढ़चढ़ कर एकत्र होकर फरीदाबाद जिला कोर्ट परिसर सेक्टर-12 जिला उपायुक्त कार्यालय पर प्रदर्शन कर सरकार के खिलाफ नारेबाजी कर प्रदेश सरकार की वायदाखिलाफी से खफा होकर नाराजगी जाहिर करते हुए हरियाणा कर्मचारी महासंघ के नेतृत्व में सभी कर्मचारियों ने जेल भरो आन्दोलन में हिस्सा लिया जिसमें मुख्यतौर से जेल भरो आन्दोलन का नेतृत्व कर रहे फरीदाबाद से बिजली विभाग के फरीदाबाद सर्कल सचिव सन्तराम लाम्बा ने संयुक्त रूप से बताया कि आज हरियाणा कर्मचारी महासंघ दवारा दिए गए निर्देशों पर जेल भरो आन्दोलन किया जा रहा है और इसी प्रकार के आन्दोलन हरियाणा प्रदेश के सभी जिलों में कर्मचारियों की जेल भरो आन्दोलन को भाजपा सरकार के रवैये से व सरकार की प्रदेश में कर्मचारी विरोधी नीतियों से खफा हरियाणा कर्मचारी महासंघ ने 20 अगस्त 2017 को सीएम सिटी जिला करनाल में कर्मचारियों की आक्रोश महारैली की थी जिसके फलस्वरूप भाजपा सरकार के नेतृत्व ने कर्मचारियों के गुस्से से भरे सैलाब को देखते हुए हरियाणा कर्मचारी महासंघ के शीर्ष नेतृत्व के नेताओं को बातचीत के लिये मीटिंग में प्रदेश के माननीय मुख्यमंत्री मनोहल लाल खट्टर द्वारा न्यौता 18 सितम्बर 2017 को दिया गया तत्पश्चात हरियाणा कर्मचारी महासंघ के केंद्रीय नेताओं से कई दौर की बातचीत के पश्चात् प्रदेश के मुखिया मनोहर लाल खट्टर ने हरियाणा कर्मचारी महासंघ प्रदेश की केंद्रीय कार्यकारिणी के नेताओं के साथ मिलकर बातचीत कर कर्मचारियों की जायज डिमाण्डस को देखते हुए अनेकों सूत्रीय मांगपत्र में से 12 माँगों पर अपनी सहमति जताई थी और इन्हें लागू करे जाने का भरोसा भी दिलाया व संगठन के प्रादेशिक नेताओं को आश्वासन दिया था कि प्रदेश के तमाम विभागों के अधीन लगे कच्चे कर्मचारियों को पक्का किया जायेगा, सर्वोच्च न्यायालय के माननीय फैसले के अनुसार सामान काम समान वेतनमान दिया जायेगा, कर्मचारियों को कैशलेस मेडिकल सुविधा, जोखिम भत्ता देना, स्वास्थ्य कर्मचारियों को लैब टेक्निशन के समान ग्रेड पे देना, ग्रुप डी से ग्रुप सी में बने लिपिकों को टाइप टेस्ट में कंप्यूटर की शर्तें हटाना, आंगनवाड़ी, आशा वर्कर्स, मिड डे मील के कर्मियों को 45वे श्रम सम्मलेन की सिफारिशों अनुसार पक्का किया जाये, हरियाणा रोडवेज के बेड़े में 12000 नई बसों को शामिल किया जाने के बारे में व् वर्कशॉप के हजारों रिक्त पड़े पदों को सीधी भर्ती से भरना, बिजली विभाग का निजीकरण बन्द करना व् प्रदेश में स्थायी भर्ती कर विभागों में लाखों रिक्त पड़े पदों को तीव्रता से भरना आदि अनेकों ऐसी माँगों को एक नवम्बर 2017 को हरियाणा दिवस के अवसर तक आपकी मानी गई उक्त माँगों को त्वरित प्रभाव से शीघ्रता से लागू कर दिया जायेगा लेकिन प्रदेश की भाजपा सरकार ने अपने कर्मचारियों से कीये गए अपने वायदे अनुसार माँगों के प्रति फैसला लागू नहीं किया है । इससे प्रदेश के लाखों कर्मचारियों में भारी रोष व्याप्त है प्रदेश सरकार की इस वायदाखिलाफी के चलते हरियाणा कर्मचारी महासंघ ने सात नवम्बर 2017 को जेल भरो आन्दोलन करने का निर्णय लिया है और प्रदेश का तमाम कर्मचारी प्रदर्शन करते हुए जिला आयुक्त कार्यालय पर पहुँच कर सभी कर्मचारियों ने अपनी गिरफ़्तारी एसडीएम एवम पुलिस उपायुक्त के समक्ष देते हुए हरियाणा कर्मचारी महासंघ यूनियन के सभी नेताओं ने कड़े शब्दों में भाजपा सरकार की निन्दा कर चेतावनी देते हुए कहा कि प्रदेश सरकार के मुखिया के सम्मुख बनी सहमति को कर्मचारियों की मानी गयी माँगों को तुरन्त प्रभाव से समय रहते लागू करे, नहीं तो आन्दोलन को प्रदेश में और तेज गति से किया जायेगा जिससे प्रदेश में अगर किसी भी प्रकार की शान्ति भँग होती है तो इसकी पूर्णतः जिम्मेदारी प्रदेश सरकार की व प्रदेश के प्रशासन की होगी । इस अवसर पर ओल्ड व ग्रेटर फरीदाबाद के प्रधान लेखराज चौधरी सचिव जय भगवन आंतिल, प्रधान रामनिवास सचिव कर्मबीर यादव, प्रधान बलबीर कटारिया सचिव बृजपाल तंवर, मंजीत नरवत, राजसिंह सौरोत, राम सरन, बृजपाल शर्मा, श्रीपाल, योगेश शर्मा, सुनील चौहान, बीरसिंह रावत, जगदीश, राजाराम ठाकुर, मौजेलाल, के,सी भारद्वाज, वीरसिंह, दयानन्द, मैडम मूर्ति कटारिया, भरत सिंह नेगी, सुभाष शर्मा, विनोद कुमार, श्रवण कुमार शर्मा व श्रीभगवान आदि कर्मचारियों ने अनेकों कर्मचारियों सहित जेल भरो आन्दोलन को कामयाब करने में अपनी गिरफ्तारियां दी ।।


loading...
SHARE THIS

0 comments: