Thursday, November 2, 2017

पुलिस आयुक्त डॉ हनीफ कुरैशी से मिले जेनिथ अस्पताल पीड़ित परिजन


फरीदाबाद (abtaknews.com) पुलिस आयुक्त डॉ हनीफ कुरैशी से  मिले जेनिथ अस्पताल पीड़ित 
क्या है पूरा मामला ;  परिजनदर्शन बल्लभगढ़ के पंजाबी मोहल्ले में रहने वाली भारतीय को डिलीवरी केस में कल देर रात इस अस्पताल में दाखिल कराया गया था। मृतका भारती के ससुर राजकुमार की माने तो भारती को कल देर रात भर्ती कराया था और उसके बाद परिजन घर चले गए। आज सुबह 9:30 बजे जब उसकी भाभी भारती से मिलने अस्पताल पहुंची तो वहां डॉक्टरों ने उसकी भाभी का हाथ पकड़कर उनसे कहा कि अभी भारतीय से मिलने नहीं दिया जाएगा। जब उसकी भाभी जबरन अंदर घुसी तो भारती का सारा शरीर ठंडा पड़ा था। जब स्टाफ से इस बारे में पूछताछ की थी उन्होंने बताया BP लो हो गया था उसकी वजह से तबीयत खराब हो गई है। उसके बाद हमारे पास डॉक्टर का फोन आ गया और हम से कहने लगा कि तुम्हारी बहू की तबीयत बहुत ज्यादा खराब है जल्दी आ जाओ। हमने एंबुलेंस को बुला लिया है। मृतिका के ससुर राजकुमार ने बताया कि हमें कुछ बताए बिना ही डॉक्टरों ने एंबुलेंस को बुला लिया। राजकुमार ने आरोप लगाया कि एंबुलेंस में उसकी बहू भारती को बिठाकर वे पीछे के रास्ते से ले जाने लगे तो उनका परिवार रास्ते में मिला और उन्होंने एंबुलेंस को रोक लिया। राजकुमार ने बताया कि घटना की सूचना पुलिस को दे दी है।

मृतका के पति देवेंद्र की ने बताया कि उन्होंने अपनी पत्नी को कल रात भर्ती कराया था जिसके बाद डॉक्टरों ने भारती का ऑपरेशन किया। उसके बाद जब हम उससे मिलने गए तो डॉक्टरों ने हमें उससे मिलने नहीं दिया गया और उसे आईसीयू में दाखिल कर दिया। जब हम भारतीय से मिलकर आए थे तो सब कुछ ठीक था और भारतीय बिल्कुल नॉर्मल थी। जब भारती ठंडी पाई गई तो उन्होंने डॉक्टरों से जब इस बारे में पूछा तो डॉक्टर तरह-तरह के तर्क देने लगे। इसके बाद मैं अपने घर चला गया और तभी डॉक्टर का फोन आया की भारती की तबीयत बहुत ज्यादा बिगड़ रही है। हमने एंबुलेंस को बुला लिया है आप जल्दी आ जाओ।

loading...
SHARE THIS

0 comments: