Saturday, October 7, 2017

स्वदेशी जागरण मंच एवं जनसेवा वाहिनी द्वारा सूरदास कॉलोनी में स्वदेशी पखवाड़ा अभियान

sanjay-kaushik-bjp-leader-tigaon-jansewavahini-patwal-public-school-soordas-colony-tilpat-faridabad
फरीदाबाद 7 अक्टूबर,2017(Abtaknews.com)स्वदेशी जागरण मंच द्वारा चलाये जा रहे स्वदेशी पखवाड़ा अभियान के तहत जिले के सभी सरकारी एवं गैर सरकारी स्कूलों में जन जागरण कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे है। सामाजिक संस्था जनसेवावाहिनी भी इस अभियान में अपने कार्यकर्ताओं के साथ जुटी है। चीनी सामान का बॉयकॉट कर स्कूली बच्चों को शपथ दिलवाकर जागरूकता रैली के माध्यम से जन जन को चीयनीज सामान का ना खरीदकर  स्वदेशी वस्तुओं के इस्तेमाल के लिए प्रेरित करना। राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ देश-प्रदेश एवं जिला स्तर पर अभियान चलाये हुए है जिसके तहत शहर की तमाम धार्मिक, सामाजिक, आरडब्लूए और राजनैतिक संगठन राष्ट्रहित में अपना-अपना सहयोग कर रहे हैं।  

सूरदास कॉलोनी स्थित पटवाल पब्लिक हाई स्कूल में आयोजित स्वदेशी पखवाड़ा अभियान में मुख्य वक्ता संजय कौशिक ने स्कूली बच्चों को सम्बोधित करते हुए कहा कि चीन की भारत विरोधी नीतियों, सैन्य-कार्यवाई की धमकियों, सीमा पर अतिक्रमण एवं  भारत की अर्थव्यवस्था को ध्वस्त करने की नीतियों का विरोध करने के लिये चीनी वस्तुओं  का वहिष्कार करना  हम सभी का परम कर्तव्य ही नहीं अपितु हमारा धर्म भी है।  श्री कौशिक ने कहा कि सभी बच्चे शपथ लें कि इस बार दीवाली पर सस्ते और ख़राब चीनी सामान का बहिष्कार कर भारत में बने मिट्टी के दीये और स्वदेशी वस्तुओं के साथ दीवाली मनाएंगे। चीन हमारे देश और हमारे साथ धोखा करता आया है उसे सबक सिखाना बहुत जरूरी है। 


स्कूली बच्चों ने चीनी सामान का बहिष्कार  स्वदेशी अपनाने की शपथ लेने के उपरांत जागरूकता रैली निकाली जिसे भाजपा नेता संजय कौशिक, जनसेवा वाहिनी महासचिव दिवाकर मिश्रा, स्कूल चेयरपर्सन पुष्पा गोसाईं, स्कूल प्रबंधक श्याम सिंह रावत ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। बच्चे हाथों में स्लोगन लिखी तख्तियां, बैनर लेकर चल रहे थे।  रैली सूरदास कॉलोनी की मुख्य सड़कों से होते हुए वापिस स्कूल परिसर में संपन्न हुई। इस रैली में पटवाल स्कूल की प्रिंसिपल पुष्पा, दमयंती, कंचन, कविता,मानसी, आरती,ज्योति,प्रियंका,
साजिद, गिरीश, अजय , सुषमा और अनुज अध्यापक-अध्यापिकाओं का विशेष सहयोग रहा।  

loading...
SHARE THIS

0 comments: