Tuesday, October 24, 2017

विधायक ललित नागर ने विधानसभा में खोली ‘मामा राजपाल’ के भ्रष्टाचार की कलई, जांच

lalit-nagar-mla-tigaon-faridabad

फरीदाबाद(abtaknews.com) हरियाणा विधानसभा के शीतकालीन सत्र के दूसरे दिन आज मंगलवार को ‘मामा-मामा’ नाम की गूंज रही। तिगांव क्षेत्र के कांग्रेसी विधायक ललित नागर ने विधानसभा अध्यक्ष कंवरपाल गुर्जर के समक्ष शहर की बिगड़ती कानून व्यवस्था, फरीदाबाद में हो रही अवैध प्लाटिंग, थाने में मुंशी से लेकर पुलिस जिला मुख्यालय व रजिस्टरी क्लर्क से लेकर जिला उपायुक्त कार्यालय तक मामा के संरक्षण में हो रहे भ्रष्टाचार के मुद्दे पर सरकार को जमकर घेरा और खुलकर आरोप लगाया कि इन दिनों फरीदाबाद में केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर के राजपाल मामा का जमकर कहर बरप रहा है। अपराध से लेकर अवैध धंधों सभी में मामा राजपाल का संरक्षण है और फरीदाबाद में भ्रष्टाचार का खुलकर खेल खेला जा रहा है। यही नहींं उन्होंने सदन में मौजूद प्रदेश के पुलिस महानिदेशक बीएस संधू को सीधे-सीधे कोड करते हुए कहा कि फरीदाबाद में राजपाल नाम के कथित मामा नामक व्यक्ति को किस हैसियत से आधा दर्जन गनमैन दिए हुए है, जिस पर पूरा सदन सहम गया और विधायक द्वारा केेंद्रीय राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर के मामा राजपाल के खिलाफ उठाए गए मुद्दे पर जमकर शोरगुल हुआ और इस मुद्दे पर विधानसभा में विपक्ष के नेता अभय चौटाला व कांग्रेस की सीएलपी लीडर किरण चौधरी ने भी उनका जमकर साथ दिया। विधानसभा में ललित नागर ने कहा कि वह फरीदाबाद में मामा की दबंगई के विरोध में खुलकर आवाज उठा रहे है, जिसके लिए उन्हें केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर एवं राजपाल मामा के गुर्गाे द्वारा धमकियां तक दी जा रही है, लेकिन वह दबने व झुकने वाले विधायक नहीं है। मामा को दी गई पुलिस सुरक्षा के प्रश्र पर संसदीय कार्य मंत्री रामविलास शर्मा ने मामले की जांच करवाने का सदन में आश्वासन दिया।  विधानसभा में अपना पक्ष रखते हुए कांग्रेसी विधायक ललित नागर ने केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर और राजपाल मामा पर आरोप लगाते हुए कहा कि इन दिनों फरीदाबाद से अलीगढ़ व फरीदाबाद से मथुरा के लिए मामा के संरक्षण में अवैध बस चलाई जा रही है, जिनके पीछे मोटा गोलमाल किया जा रहा है। इन अवैध बसों के चलते सरकार की हरियाणा रोडवेज को भारी आर्थिक हानि का सामना करना पड़ रहा है, लेकिन तमाम प्रशासन मंत्री के दबाव में मामा के समक्ष नतमस्तक है। विधायक ललित नागर के इस सवाल पर सदन में मौजूद परिवहन मंत्री कृष्णलाल पंवार ने आश्वासन दिया कि वह स्वयं इस मामले की जांच करवाएंगे। इसके अलावा विधायक ललित नागर ने सदन में तिगांव क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले सेक्टर-37 12/2 में लगभग साढे तीन एकड़ हो रही अवैध प्लाटिंग के जरिए बन रहे छोटे-छोटे शॉपिंग काम्पलैक्स में की जा रही करोड़ों की हेराफेरी का मुद्दा भी जोरशोर से उठाया। उन्होंने इस अवैध प्लाटिंग में भी केंद्रीय राज्यमंत्री और उसके मामा व एक पूर्वमंत्री के बेटे का संरक्षण बताया। विधायक ललित नागर ने सदन में फरीदाबाद में बिगड़ती कानून व्यवस्था के मुद्दे पर सरकार को घेरते हुए कहा कि इन दिनों फरीदाबाद की हालत बद से बदत्तर हो गई है। न घर में गृहणी सुरक्षित है न दुकान पर व्यापारी और न डाक्टर सुरक्षित है, न पुलिस और नाही पत्रकार। इन सभी वर्गाे पर आए दिन जानलेवा हमले किए जा रहे है और सरकार में बैठे नेताओं के प्रतिनिधि गुंडातत्वों को संरक्षण दे रहे है। आए दिन हत्या, डकैती, लूटपाट, झपटमारी, चोरी, छेडखानी, बलात्कार होने आमबात हो गई है परंतु सरकार पूरी तरह से मूकदर्शक है क्योंकि सभी अपराधियों को मामा का संरक्षण है। विधायक नागर ने सदन मेें किसानों का भी मुद्दा जोरशोर से उठाया। उन्होंने विधानसभा अध्यक्ष के सामक्ष खुलकर तिगांव विधानसभा क्षेत्र के साथ सरकार द्वारा बरती जा रही उपेक्षा व क्षेत्र के कई गांवों के किसानों की सरकार द्वारा अधिग्रहित की गई जमीन का बड़ा हुआ मुआवजा आज तक नहीं दिया, ये हालात तो तब है, जब माननीय हाईकोर्ट ने तीन वर्ष पूर्व ही किसानों के पक्ष में अपना आदेश दिया है, लेकिन किसान अपने बढ़े हुए मुआवजे के लिए दर-दर की ठोंकरे खाकर धरना-प्रदर्शन करने को मजबूर है। मालूम हो कि फरीदाबाद की राजनीति में लोगों में इन दिनों मामा नाम की खूब चर्चा है। पिछले दिनों फरीदाबाद के पूर्व सांसद एवं मीरापुर से भाजपा विधायक ने जिले में बिगड़ती कानून व्यवस्था पर मामा नाम पर जमकर प्रहार किए थे और यहां तक धमकी दी थी कि पुलिस व प्रशासन इस मामा नाम के व्यक्ति को ढूंढकर सख्त कार्यवाही करें, अन्यथा वह इस मामा नाम के व्यक्ति का खुलासा मुख्यमंत्री व प्रधानमंत्री के समक्ष करेंगे। वहीं रविवार को गांव भूपानी में चलो गांव की चौपाल कार्यक्रम के तहत तिगांव के विधायक ललित नागर ने मामा नाम का खुलकर खुलासा करते हुए कहा था कि यह मामा कोई और नहीं बल्कि केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर के मामा राजपाल है और उन्होंने मंच से ऐलान किया था कि मामा की दबंगई व भ्रष्टाचार की पोल व विधानसभा सत्र में खुलकर खोलेंगे, जिसका खुलासा विधायक ललित नागर ने आज विधानसभा सत्र में खुलकर किया।


loading...
SHARE THIS

0 comments: