Thursday, October 26, 2017

''मामा'' के साम्राज्य में छठ पर्व मनाने आ रहे हैं मुख्यमंत्री , हैरान है क्षेत्र की जनता

ch-manohar-lal-offering-for-chhat-tigaon-faridabad

फरीदाबाद (abtaknews.com) 26 अक्टूबर,2017 ;मुख्यमंत्री मनोहर लाल  ''मामा'' के साम्राज्य में छठ पर्व मनाने आ रहे हैं।  जिसे लेकर तिगांव विधानसभा में लोगों को हैरानी के साथ गुस्सा भी है। शहर में अवैध धंधों पर कुंडली मारे बैठे ''मामा '' के कारनामों का खुलासा जब से योगी के भाजपा विधायक और कांग्रेस विधायक द्वारा किए जाने से राजनीतिक भूचाल आया हुआ है। इसी हंगामे की गूँज विधानसभा के सत्र में सुनाई दी जहां प्रदेश सरकार के ही दो ब्राह्मण विधायकों ने उक्त मामले को सबके सामने लाया उन्ही के सुर में सुर मिलाते हुए कांग्रेस विधायक ने भी जोर शोर से फरीदाबाद के ''मामा '' के कारनामों का बखान किया।  सत्र के उपरांत कांग्रेस विधायक ने मीडिया के सामने उक्त शकुनि मामा और पुत्र मोह में पार्टी का भट्ठा बैठाने पर तुले धृतराष्ट्र के काले कारनामों को विस्तारपूर्वक बताया। कांग्रेस विधायक ने शकुनि ''मामा '' और पुत्र मोह के नशे में रहने वाले धृतराष्ट्र के सारे अवैध धंधो की जानकारी मीडिया को दे दी। 

चंडीगढ़ में सदन की करवाई के दौरान उठे ''मामा '' प्रकरण के चलते ही फरीदाबाद के बॉर्डर के निकट मथुरा रोड के साथ बने अवैध निर्माण को जिला प्रशासन ने धराशाही कर दिया। क्षेत्र की जनता उक्त करवाई से बहुत खुश हुई लेकिन उसी ''मामा'' के इलाके में मुख्य मंत्री छठ पर्व में शामिल होने आज फरीदाबाद आ रहे है यह बात क्षेत्र की जनता को हजम नहीं हो रही।  जनता में चर्चा आम है कि मुख्यमंत्री कहीं ''मामा-भांजे '' की पीठ थपथपाने तो नहीं आ रहे ? 

तिगांव के विधायक ने कल भी अपनी बात दोहराई लेकिन इस पर स्पीकर कंवरपाल गुर्जर ने कहा, आप अपने आरोपों के सबूत पेश करें और शपथपत्र दें। इसके बाद इस मामले की जांच कराई जाएगी। इस तरह से आप किसी का चरित्र हनन नहीं कर सकते। जो व्यक्ति सदन का सदस्य ही नहीं है, उस पर इस तरह के आरोप लगाना सही नहीं। इसी मुद्दे पर बोलते हुए हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि  यह मामला फरीदाबाद की स्थानीय राजनीति से जुड़ा है। इसके बाद भी संसदीय कार्यमंत्री पहले ही इस पर संज्ञान लेने की बात सरकार की ओर से कह चुके हैं। फिर संसदीय मंत्री ने कहा, मामा को पुलिस सिक्योरिटी के बारे में फरीदाबाद के पुलिस आयुक्त से रिपोर्ट ली गई है। उन्हें हरियाणा पुलिस का एक भी जवान नहीं दिया गया। इस पर विधायक ललित नागर ने फिर दोहराया कि मामा के साथ चार-चार गनमैन चलते हैं।

कांग्रेस विधायक  ने मामा पर अवैध तरीके से बसें चलाने का भी आरोप लगाया था। परिवहन मंत्री कृष्णलाल पंवार ने कहा, इस बारे में जांच कराई जा चुकी है। जांच रिपोर्ट में यह खुलासा हुआ है कि अवैध बसें मामा की नहीं बल्कि कांग्रेस नेता करण दलाल के भाई की चल रही हैं। इस पर कांग्रेसी भड़क उठे लेकिन सत्तापक्ष की आवाज के सामने उनकी चल नहीं सकी। इस मामले पर विधायिका सीमा त्रिखा ने कहा कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल और केंद्रीय राजयमंत्री कृषणपाल गुर्जर फरीदाबाद का विकास करवा रहे हैं। उन्होंने कहा कि ये दोनों नेता फरीदाबाद के लिए श्रीकृष्ण की भूमिका निभा रहे हैं। वहीं अवैध तरीके से बसें चलाने के मामले में सूत्रों द्वारा जो पता चला है उसके मुताबिक़ हरियाणा के एक मंत्री के खास का नाम भी इसमें आ रहा है। मामा की बात करें तो वो तिगांव विधायक और मोदी के भाजपा विधायक पर मानहानि का केस दर्ज करवाने की तैयारी कर रहे हैं।जिसके लिए कानूनी विशेषज्ञों से संपर्क किया गया है। 

loading...
SHARE THIS

0 comments: