Monday, October 23, 2017

मोदी व योगी के सिपहसलारों में तू तू मैं मैं, एक दूसरे पर आरोप, मामा के बचाव में कूदा भांजा



central-minister-for-state-krishan-pal-gurjar-video-viral-faridabad

फरीदाबाद(abtaknews.com): प्रदेश व देश में अभी होने वाले चुनाव में बहुत देरी है लेकिन मंत्री और विधायक शायद बहुत जल्दबाजी में हैं। यही कारण है कि मंत्री विधायक और पूर्व सांसद में चुनाव के समय वाली मुँह जोरी शुरू हो गई है।  सभी ने अपने अपने तरकश से तीर छोड़ने शुरू कर दिए हैं। मोदी के मंत्री और योगी के विधायक के बीच कि तू तू मैं मैं का फायदा उठाने में तिगांव के  कांग्रेस विधायक ललित नागर कूद गए हैं। फरीदाबाद में गुंडागर्दी का पर्याय बनचुके '' मामा '' का शहर की हर दूसरी घटना में नाम आने पर पूर्व सांसद एवं वर्तमान में योगी सरकार के भाजपा विधायक  अवतार भड़ाना ने उक्त '' मामा''  के बारे  जब आग ऊगली तो वह सोशल मीडिया पर वायरल हुई।  इसी का फायदा उठाकर तिगांव से कांग्रेस विधायक ललित नागर ने मीडिया हाईप के लिए केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्ण पाल गुर्जर के मामा (राजपाल नागर ) की गुंडागर्दी का जिक्र अपनी सभा में भीड़ के सामने किया इस खबर को भी मीडिया में वायरल होता देख अपने मामा के बचाव में खुद केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्ण पाल गुर्जर सामने आये और योगी के भाजपा विधायक अवतार सिंह भड़ाना और कांग्रेस विधायक ललित नागर के बारे में खूब भला बुरा और उनके अतीत के साथ उनका चरित्र चित्रण सबूत के साथ किया।  मामा के बचाव में सामने आये भांजे मंत्री का वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है जिसमे मंत्री गुर्जर ने ललित नागर पर सवाल उठा उन्हें अनपढ़ तक कहा है। मोदी के मंत्री ने कहा कि मैं गंदगी में पत्थर नहीं फेंकना चाहता। उन्होंने एक रिकार्डिंग में ललित नागर के अपशब्द वाले आडियो का जिक्र किया है जिसमें कांग्रेसी विधायक ललित नागर गाली गलौज करते सुनाई दे रहे हैं। किसी को घर से बाहर निकालकर मारने का जिक्र कर रहे हैं। उन्होंने योगी के भाजपा विधायक अवतार भड़ाना को भी खूब खरी खोटी सुनाई और कहाँ की दोनों विधायक कांग्रेसी मानसिकता वाले हैं। दुर्घटना वश भाजपा में आ गए अवतार भड़ाना जो कि अवैध माइनिंग और अवैध धंधो में शामिल रहे जिन्हे सारी दुनिया जानती है। कृष्ण पाल गुर्जर ने कहा कि अवतार भड़ाना काली करतूतों से बचने के लिए और  सत्ता के लिए दल बदल लेते हैं। उन्होंने अवतार को स्वार्थी और घमंडी कहा है। 

loading...
SHARE THIS

0 comments: