Friday, October 27, 2017

सामाजिक बुराईयों के प्रति समाज को जागरुक करेगी ‘राजपूत एकता समन्वय समिति’

फरीदाबाद(abtaknews.com )राजपूत समाज के मौजिज लोगों ने समाज को एकजुट करने एवं सामाजिक कुरीतियों के प्रति जागरुकता के उद्देश्य से ‘राजपूत एकता समन्वय समिति’ फरीदाबाद का गठन किया है। इस समिति ने समाज के 31 मौजिज लोगों एच.एस. राणा, एस.आर. रावत, राजेश रावत, ऋषिपाल चौहान, प्रताप सिंह भाटी, बीरेंद्र गौड़, गजेंद्र सिंह चौहान, ऋषिपाल परमार, संजीव चौहान, अनिल गौड़, बीरपाल सिंह, प्रमोद तंवर, रघुराज सिंह, नानकसिंह सोलंकी, मनवीर सिंह भाटी, कुंवरपाल सिंह, राजबीर सिंह, राजेश भाटी, संजीव ठाकुर, धर्मपाल सिंह रावत, बृशभान सिंह भाटी, डालचंद गौड़, महेंद्र सिंह रावत, विकास चौहान, सी.बी. चौहान, भान सिंह चौहान, खेमी ठाकुर, सूरजपाल भूरा, रविन्द्र भाटी, सतपाल गौड़, अमर सिंह रावत को शामिल किया गया है। यह समिति जहां शादी-ब्याहों में दहेज लेने-देने पर पाबंदी, सगाई समारोह मेें लिस्ट पढऩे पर रोक लगाने के साथ-साथ भू्रण हत्या एवं समाज में झूठे आडम्बरों के दिखावे हेतु हो रहे धन के दुरूपयोग के प्रति लोगों को जागरुक करेगी। यह जानकारी समिति के संरक्षक एवं पूर्व आईएएस एच.एस. राणा ने सेक्टर-8 स्थित महाराणा भवन में आयोजित पत्रकार सम्मेलन को संबोधित करते हुए दी। उन्होंने कहा कि समन्वय समिति में बिना किसी राजनैतिक स्वार्थ के निष्पक्ष रुप से समाज उत्थान के लिए कार्य किए जाएंगे तथा समन्वय समिति का मुख्य उद्देश्य क्षेत्र में कार्य कर रही विभिन्न राजपूत संस्थाओं के साथ मिलकर समाज के पर्व अथवा ऐतिहासिक दिवस मनाने, समाज के युवाओं को शिक्षा के प्रति जागरुक करने एवं उन्हें इस विषय में आवश्यकता अनुसार हरसंभव सहायता करने, समाज के नवयुवक/नवयुवतियों के शादी-विवाह हेतु समय-समय पर परिचय सम्मेलन आयोजित करने के साथ-साथ मौजूदा समय में समाज में पनप रही कुरीतियों को दूर करने तथा किसी भी विवाद का भाईचारे से समाधान करने तथा अन्य बिरादरियों के साथ सामाजिक समरसता कायम करना होगा।  श्री राणा ने कहा कि हरियाणा में 10 लाख राजपूत मतदाता होने के बाद भी राजनीति में समाज को प्रतिनिधित्व न मिलना एक गंभीर विषय है और इसका मुख्य कारण समाज का आपस में बंटना है इसलिए समिति सर्व समाज को एकजुट करके चुनावों में ऐसे जनप्रतिनिधियों का समर्थन करेगी और लोग समाज के उत्थान के कार्य करेंगे। उन्होंने कहा कि सेक्टर-9 में 7 करोड़ की लागत से बनने वाले महाराणा प्रताप भवन के लिए राजपूत समाज के साथ-साथ छत्तीस बिरादरियों के लोग सहयोग कर रहे है। इस अवसर पर समिति के सदस्य राजेश रावत ने कहा कि समिति का उद्देश्य समाज के पारिवारिक मसलों को थाने-चौकियों के बजाए समिति के तत्वाधान में निपटाने का रहेगा और सामाजिक कार्याे में भी समिति सदैव बढ़चढक़र हिस्सा लेती रहेगी।


loading...
SHARE THIS

0 comments: