Friday, October 6, 2017

जीवन जीने की कला सिखाता है: सुमेधानंद महाराज



बल्लभगढ़ (abtaknews.com )श्री गोपाल मंदिर के वार्षिकोत्सव के चौथे दिन रामकथा में गोवत्स दीपक जोशी जी और स्वामी सुमेधानंद जी महाराज जी का पार्षद दीपक चौधरी ने माल्यार्पण द्वारा स्वागत किया शहर के गणमान्य व्यक्तियों और कार्यकारी सदस्य प्रधान जनकराज उप प्रधान शर्मा के सी शर्मा  कोषाध्यक्ष मदन लाल अरोड़ा सचिव महेंद्र अरोड़ा  मीडिया प्रभारी सुभाष शर्मा  ने  सुमेधानंद महाराज जी का स्वागत किया शरद पूर्णिमा के अवसर पर वृंदावन से आए सुमेधानंद महाराज राम कथा में प्रवचन करने आए थे सुमेधानंद जी ने ईश्वर वंदना कर शरद पूर्णिमा की विशेषता का वर्णन किया उन्होंने यह भी बताया कि रामचरितमानस मर्यादित जीवन जीने की कला सिखाता मानवीय गुणों के माध्यम से मनुष्य काफी ऊंचाई तक पहुंच सकता है राम हमारे जीवन का आधार है कथा व्यास दीपक जोशी जी ने बताया कि सत्संग के द्वारा ही भगवत प्राप्ति संभव है समर्पण भाव ही हमें ईश्वर की प्राप्ति करा सकता है अवध बिहारी टेनस सारी दुनिया तारीख जो घर घर में बस गया वह राम का स्वरुप है यह सब राम कृपा बिन सुलह नहुई आस्था और विश्वास जीवन का आधार है सत्संग से ही भगवत प्राप्ति हो सकती है हम सही और मर्यादित मार्ग पर चलकर ही अपनी मंजिल तक पहुंच सकते हैं अंत में पूर्णिमा के अवसर पर खीर का प्रसाद वितरित किया गया। 


loading...
SHARE THIS

0 comments: