Wednesday, October 11, 2017

महिला विधायक पर अभद्र टिप्पणी के विरोध में फूंका आप नेता धर्मबीर भड़ाना का पुतला


फरीदाबाद(abtaknews.com)भाजपा की महिला विधायक सीमा त्रिखा के खिलाफ आम आदमी पार्टी के नेता धर्मबीर भड़ाना द्वारा की गई अभद्र टिप्पणी के विरोध में आज बुधवार को बडखल विधानसभा क्षेत्र की महिलाओं का गुस्सा सिर चढक़र बोला। हजारों की तादाद में गुस्साई महिलाएं सडक़ों पर निकल आई तथा बी.के. चौक पर एकत्र होकर एक विरोध जलूस निकालकर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल व बडखल के आरोपी आम आदमी पार्टी के नेता धर्मबीर भड़ाना का पुतला फूंका और जमकर नारेबाजी की। इस दौरान बी.के. चौक से नीलम चौक तक प्रदर्शनकारियों ने आम आदमी पार्टी के नेताओं के पुतलों की शव यात्रा भी निकाली। प्रदर्शन में महिला संगठनों के साथ-साथ फरीदाबाद की गढवाल सभा, ऑल इंडिया ब्राह्मण सभा, पंजाबी सभा, बांके बिहारी मंदिर, ऑल इंडिया बन्नूवाल बिरादरी, भाटिया सेवक समाज, पंजाबी-ब्राह्मण सभा, युवा पंचनद समिति के अलावा सामाजिक एवं धार्मिक संगठन के प्रतिनिधियों के अलावा महापौर सुमन बाला व अनेकों पार्षदों व अनेकों गणमान्य लोगों ने भारी संख्या में भाग लिया। प्रदर्शनकारी जहां आप नेता धर्मबीर भड़ाना के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर उन्हें सलाखों के पीछे भेजने की मांग कर रहे थे वहीं वह आम आदमी पार्टी के मुखिया के ऐसे दागी व्यक्ति को तत्काल पार्टी से निष्कासित करने की मांग कर रहे थे। महिला की इज्जत के खिलाफ की गई अभद्र टिप्पणी के विरोध में प्रदर्शनकारी महिलाओं में इतना आक्रोश था कि उन्होंने पुतले रुपी धर्मबीर भड़ाना पर जमकर चप्पलों की बौछार की और केजरीवाल हॉय-हॉय के नारों से आसमान को गुंजाममय कर दिया। बाद में सभी प्रदर्शनकारी एसीपी एनआईटी कार्यालय पहुंचे तथा वहां पर जोरदार प्रदर्शन किया और प्रदर्शनकारी जब तक कार्यालय पर डटे रहे, जब तक एसीपी शाकिर हुसैन मौके पर नहीं पहुंचे।

बाद में एसीपी के आश्वासन के बाद सभी प्रदर्शनकारी वापिस लौटे। वहीं दूसरी ओर महिला के खिलाफ की गई अभद्र टिप्पणी के इस मामले को हरियाणा महिला आयोग ने संज्ञान लेते हुए पुलिस कमिश्रर फरीदाबाद को इस मामले में संलिप्त तीन व्यक्तियों के खिलाफ मामला दर्ज करने के आदेश दिए है। गौरतलब है कि एन.एच.-2 में हाईकोर्ट के आदेश के बाद खोखा कालोनी को हटाने के लिए प्रशासन ने ऐलान किया था। ऐसे में अपनी राजनैतिक रोटियां सेंकने के लिए गुजरे जमाने के कुछ नेता भी सामने आकर हो-हल्ला करने लगे। सभी ने सत्तापक्ष के नेताओं पर निशाना भी साधा व उन्हें राजनैतिक शैली में बुरा भला भी कहा परंतु इन सबके बीच अब तक विभिन्न पार्टियों का लबादा उतारकर अब आप पार्टी का मुखौटा पहनने वाले धर्मबीर भड़ाना ने महिला विधायक पर टिप्पणी करते हुए मर्यादा की सारी सीमायें लांघ दी, जिसको लेकर फरीदाबाद में धर्मबीर भड़ाना के विरोध में आक्रोश पनपा हुआ है। इस अवसर पर महिलाओं का कहना था कि धर्मबीर भड़ाना को ऐसी घटिया भाषा का इस्तेमाल करते वक्त इतना ही याद नहीं रहा कि वो जिसके बारे में बोल रहे है, उसी को बहन बनाकर राखी बंधवा चुके है। क्या हमारे समाज में बहन-बेटियों के लिए ऐसी भाषा बोलने वालों को नेता बनाया जा सकता है, कदापि नहीं। उनका कहना था कि धर्मबीर ने महिला विधायक पर ही टिप्पणी नहीं की बल्कि पूरी महिला बिरादरी को गाली दी है, उनके वीडियो को देखकर यह लग रहा था कि वो जनसमर्थन हासिल करने के लिए किस हद तक मर्यादाओं को तार-तार कर सकते है। उनका कहना था कि धर्मबीर भड़ाना शायद यह भूल गए कि नेता बनने के लिए पार्टियां बदलना ही सब कुछ नहीं होता, भाषा शैली भी राजनैतिक होनी चाहिए। महिला विधायक के प्रति अपशब्द बोलकर उन्होंने जो संकेत दिए है, उससे साबित हो गया कि उनमें क्षेत्र में नेतृत्व देने के गुण नहीं है और जनता ऐसे नेताओं को कभी माफ नहीं करती। इस मौके पर महापौर सुमन बाला, जसवंत सिंह, मनोज नासवा, सतीश चंदीला, पूर्व पार्षद ललित गोसाई, बहादुर सिंह सब्बरवाल, कमल खत्री, देव सिंह गोसांई, ओमप्रकाश गौड, पंडित सुरेंद्र शर्मा, अमित आहुजा, जोगेंद्र चावला, हरेंद्र भड़ाना, प्रवीन भाखड़ी, विनोद भड़ाना अनंगपुर, सुनील भड़ाना टैम्पू भईया, अंजू भड़ाना, कमलेश भाटिया, अनीता शर्मा, जिलाध्यक्ष महिला मोर्चा, सरला विरमानी, बिशम्बर भाटिया, आनंदकांत भाटिया, दलजीत भाटिया, संदीप कौर, संजय महेंदु, कर्मबीर बैंसला, गगन रिंकू, मनीष भाटिया, मन्नू, मंजीत सिंह, बिज्जू खालसा, रवि कुमार, अमित अरोड़ा, मुकेश चौधरी, अफजल अंसारी, रामफल, राधेश्याम शर्मा, जयभगवान शर्मा, पूनम आहुजा, मंजू गुलाटी, कुसुम महाजन, इंदुबाला शर्मा, जया गोयल, पूजा वर्मा, प्रियंका कक्कड़, राजन मुथरेजा, राजकुमार वोहरा, हरदयाल मदान, जगमोहन, रमन जेटली सहित अनेकों महिलाओं एवं लोग मौजूद थे।
महिला आयोग की चेयरमैन प्रतिभा सुमन का कहना है कि हरियाणा प्रदेश में महिलाओं की इज्जत को तार-तार करने के मामलों को किसी भी कीमत पर सहन नहीं किया जाएगा। उन्होंने कहा कि यह मामला महिला आयोग के संज्ञान में आ गया है तथा उन्होंने फरीदाबाद के पुलिस कमिश्रर ने आरोपी धर्मबीर भडाना सहित तीन व्यक्तियों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया जाए।
वहीं फरीदाबाद के पुलिस कमिश्रर डा. हनीफ कुरैशी का कहना है कि महिलाओं के विरूद्ध इस प्रकार की अभद्र टिप्पणी समाज में अशोभनीय है, जिसकी जितनी निंदा की जाए कम है। उनके पास जैसे ही शिकायत आएगी, वह सख्त कार्यवाही अमल में लाएंगे।


loading...
SHARE THIS

0 comments: