Friday, October 13, 2017

वकालत पवित्र पेशा, राजनीति तथा वकालत में घृणा का कोई स्थान नहीं होता- गुर्जर


पलवल, 13 अक्तूबर,2017 (abtaknews.com)केंद्रीय सामाजिक एवं न्याय अधिकारिता राज्यमंत्री एवं फरीदाबाद के सांसद कृष्ण पाल गुर्जर ने न्यायिक परिसर में दिपावली मिलन समारोह के दौरान जिला बार एसोसिएशन के बार कक्ष में कहा कि वे आलोचना में विश्वास नहीं करते क्योंकि काम करने वाले कभी आलोचना नहीं करते और जो आलोचना करते हैं वो काम नहीं करते। इस अवसर पर हरियाणा श्रम आयोग के वाइस चेयरमैन हरी प्रकाश गौतम, मुख्यमंत्री के राजनैतिक सचिव दीपक मंगला, भाजपा जिला अध्यक्ष जवाहर सिंह सौरोत, नगर परिषद की चेयरपर्सन श्रीमती चमेली देवी सोलंकी, पलवल निगरानी समिति के चेयरमैन मुकेश सिंगला, पलवल पंचायत समिति के चेयरमैन प्रेमचंद शर्मा, बार एसोसिएशन के प्रधान धर्मेन्द्र तेवतिया मुख्य रूप से उपस्थित थे।
श्री गुर्जर ने कहा कि राजनीति तथा वकालत में घृणा का कोई स्थान नहीं होता। वकालत बहुत ही पवित्र पेशा है। इसमें पीडित को न्याय दिलाने के लिए प्रयास किए जाते है और बेगुनाह को बचाया जाता है। इसी प्रकार राजनीति में जनहित के मुद्दों पर काम किया जाता है। श्री गुर्जर ने कहा कि कानून का अपना महत्व होता है। हमारे देश में कानून का राज चलता है। कानून के सामने सब बराबर है। कानून के लिए ना कोई छोटा होता है और ना ही कोई बडा होता है। यदि न्याय देरी से मिलता है तो उसके कोई मायने नहीं रहते। श्री गुर्जर ने बार एसोसिएशन को अपने सांसद निधि कोष से 21 लाख रूपये देने की घोषणा की।
श्री मंगला ने कहा कि हमारे देश में कानून का बहुत बडा महत्व है। जिसको आगे बढाने में वकीलों की महत्वपूर्ण भूमिका होती है। उन्होंने बार एसोसिएशन द्वारा रखी गई मांगों को पूरा करने के लिए केन्द्रीय मंत्री श्री कृष्णपाल गुर्जर से मांगों को पूरा करने का समर्थन किया। कार्यक्रम में अधिवक्ताओं ने पधारे हुए अतिथियों को शाल व स्मृति चिन्ह देकर उनका स्वागत किया।
इस अवसर पर नगर परिषद के उपाध्यक्ष संतराम बैसला, पलवल मार्किट कमेटी के चेयरमैन रणबीर सिंह मनोज, मार्किट कमेटी हथीन के अध्यक्ष लेखराज सहरावत, जिला महामंत्री पवन अग्रवाल, भाजपा नेता यशपाल मवई, वीरपाल दीक्षित, अधिवक्ता अविनाश भारद्वाज के अलावा अन्य अधिवक्ता व गणमान्य लोग मौजूद थे। मंच का संचालन अधिवक्ता हरी शंकर शर्मा ने किया। 

loading...
SHARE THIS

0 comments: