Tuesday, October 24, 2017

पत्रकार पर हमला करने वाले आरोपियों को नहीं मिली जमानत, 30 तक रहेंगे जेल में


फरीदाबाद(abtaknews.com) 24 अक्टूबर,2017 ; दबंगो द्वारा पत्रकार बिजेंद्र शर्मा व उनकी पत्नी पर घर में घुस कर किए गए हमले के मामले में आज गिरफ्तार आठों आरोपियों की जमानत नहीं हो सकी। विद्वान न्यायाधीश गरिमा यादव  की अदालत मेें जमानत याचिका पर आज सुनवाई के दौरान पीडि़त पक्ष की ओर से वरिष्ठ अधिवक्ता ओ.पी. शर्मा की टीम के अलावा वरिष्ठ अधिवक्ता अश्वनी त्रिखा पेश हुए वहीं आरोपी पक्ष की ओर से अधिवक्ता कुंवर राकेश पेश हुए। बहस शुरु होते ही आरोपी पक्ष के वकील कुंवर राकेश ने विद्वान न्यायाधीश के समक्ष जमानत पर बहस करने से यह कहकर इंकार कर दिया है कि अभी उनकी इस केस में पूरी तरह से तैयारी नहीं है इसलिए उन्हें समय दिया जाए, जिस पर उन्होंने अपने लिखित बयान भी अदालत में दर्ज करवाए। न्यायाधीश गरिमा यादव ने अब इस मामले को लेकर 30 अक्तूबर की तिथि निश्चित की है। 30 अक्तूबर तक सभी आरोपी जेल में ही बंद रहेंगे। गौरतलब है कि 19 अक्तूबर दिवाली की रात करीब साढ़े ग्यारह बजे श्यामलाल के पुत्र मनोज, गुल्लू, रघुवीर, बॉबी, आदि हैवी बम चला रहे थे। जिससे क्षेत्र के लोग परेशानी महसूस कर रहे थे। इस संदर्भ में पत्रकार बिजेंद्र शर्मा ने पुलिस को सूचित किया था तथा पुलिस के सूचना देने के बावजूद न आने पर उनकी पत्नी रीना शर्मा ने बम चला रहे लोगों से बम न चलाने की गुजारिश की थी परंतु बाद में लाठी-डंडों तलवार से लैस श्यामलाल, मनोज, जगवीर, खुशीराम उर्फ गुल्लू, बॉबी, श्यामकली पत्नी श्यामलाल ने घर में घुस कर हमला बोल दिया। इनके बाद कैलाश, राम प्रकाश आदि ने भी इन पर हमला बोल दिया। इस हमले में बिजेंद्र शर्मा को पसली में मल्टीपल फ्रैक्चर और बाएं हाथ में फै्रक्चर के अलावा सिर में गंभीर चोटें आई थीं। इस संदर्भ में थाना सारन पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ 147, 148, 323, 325, 452, 379बी व 506 धाराओं में केस दर्ज किया था। सभी आरोपियों को ड्यूटी मजिस्ट्रेट के समने प्रस्तुत किया गया था। जहां से इन्हें 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया था।


loading...
SHARE THIS

0 comments: