Tuesday, October 3, 2017

आर्य समाज सैक्टर-19 में गांधी एवं शास्त्री जयंती पर शहीदों के नाम एक शाम का आयोजन



फरीदाबाद, 3 अक्तूबर(abtaknews.com )ओल्ड फरीदाबाद स्थित आर्य समाज सैक्टर-19 में गांधी एवं शास्त्री जयंती के उपलक्ष्य में शहीदों के नाम एक शाम  का आयोजन किया गया जिसमें देश के विभिन्न राज्यों से आए कवियों ने कविता पाठ कर लोगों को मंत्र मुग्ध कर दिया। देश की वर्तमान परिस्थितियों की चर्चा करते हुए कवि प्रभात परवाना ने अपनी ओजस्वी वाणी में कहा कि
 ‘ भारत मां का हाल देखकर बापू शीश झुका देंगे।
  शर्त लगा लो गांधी भी आज बंदूक उठा लेंगे।।
कवि कृष्णगोपाल विद्यार्थी ने कहा कि शहीदों के प्रेरणा स्त्रोत किसी न किसी रूप में दयानंद थे, क्योंकि शहीदों और आजादी के दीवानों में सबसे अधिक सं या आर्य समाजियों की थी। उन्होंने कहा कि
‘देव दयानंद के सपनों का बनेगा हिंदुस्तान तभी है हम आर्यों की शान
ओम् पताका घर-घर फहरे हो वेदो का मान तभी बढेगी आर्यों की शान।।
क्रांतिकारी कवि सतीश एकांत ने ज मू कश्मीर की चर्चाओं पर बोलते हुए कहा कि
‘ हम भारतवंशी आर्यपुत्र विष बीज नहीं बोने देंगे।
उग जाए दिवाकर पश्चिम से स मान नहीं खोने देंगे।।
सतप्रकाश भारद्वाज ने कविता पाठ करते हुए कहा कि
‘शोलों पर चलकर दिखा देंगे हम वीरता बुजदिलों को सीखा देंगे हम।
हंस-हंस कर देंगे कुर्बानियां नाम शहीदों में अपना लिखा देंगे।।
इसी तरह उत्तरप्रदेश के धर्मेश अंचल और श्रीमति स्वदेश सिंह चरोरा ने भी अपनी कविता पाठ कर लोगों को मंत्र मुग्ध कर दिया। इस अवसर पर विभिन्न आर्य समाजियों और शहर के गण्यमान्य लोगों ने हिस्सा लिया।

समाजकल्याण एवं मानवता के लिए अग्रसर रहना चाहिए : राजकुमार

फरीदाबाद, 3 अक्तूबर : शहीदों के बताए हुए मार्ग पर चलने से ही देश और समाज की उन्नति हो सकती है। हमें उनसे प्रेरणा लेकर देश भक्ति, समाज कल्याण एवं मानवता के लिए अग्रसर रहना चाहिए। यह बात योग विज्ञान एवं मानव कल्याण ट्रस्ट फरीदाबाद की इकाइ द्वारा गांधी जयंती को प्रेरणा दिवस के रूप में मनाते हुए ट्रस्ट के अध्यक्ष राजकुमार गुप्ता ने कही। उन्होंने कहा कि ट्रस्टी जेपी बंसल द्वारा आयोजित प्रेरणा दिवस पर शहर के बुद्धिजीवियों, वृद्धजनों एवं प्रतिभावान बच्चों को पुरस्कृत कर बच्चों को यह बताना कि संस्कारों के बिना कठिन मंजिल संभव नहीं है बहुत अच्छा प्रयास है। उन्होंने कहा कि ऐसे कार्यक्रमों से शहीदों से प्रेरणा के साथ-साथ बच्चों का मनोबल भी बढ़ता है। कार्यक्रम के संयोजक जेपी बंसल ने कहा कि योग के साथ-साथ संस्था युवाओं में देशभक्ति की भावना प्रेरित करने के लिए अग्रसर है। उन्होंने छात्र-छात्राओं का आह्वान किया कि वे अपने बुजुर्गो तथा अध्यापकों का स मान करना न भूले, क्योंकि जो लोग अपने भूतकाल को भूल जाते हैं उन्हें भविष्य बनाने में बढ़ी परेशानी का सामना करना पड़ता है। इससे पूर्व विभिन्न स्कूलों से आए बच्चों ने देशभक्ति से ओतप्रोत सांस्कृतिक कार्यक्रम तथा योगा का प्रदर्शन किया। इस अवसर पर रामकिशोर गोयल, ओके अग्रवाल, वीरेंद्र मेहता, प्रहलाद गर्ग, विनोद कुमार अग्रवाल, जगदीश गुप्ता सहित संस्था के अनेक लोगों ने अपने विचार प्रकट किए। संस्था की दिल्ली इकाई प्रभारी बीनू चड्ढा ने सफल मंच संचालन किया।


loading...
SHARE THIS

0 comments: