Tuesday, September 5, 2017

टीचर्स डे की बधाई, गुरु एवं शिष्य परंपरा को संस्कारित करने के लिए संकल्प लेने का दिन


फरीदाबाद (abtaknews.com ) 05 सितंबर,2017 ; टीचर्स डे की बधाई, गुरु एवं शिष्य परंपरा को संस्कारित करने के लिए संकल्प लेने का दिन है। पूर्व राष्ट्रपति डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन, जो एक प्रख्यात दार्शनिक और शिक्षक भी थे,जिनके जन्म दिन को शिक्षक दिवस के रूप में प्रति वर्ष 5 सितंबर को मनाया जाता है। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने शिक्षक दिवस पर आज देश भर के शिक्षकों को बधाई दी।
अपने संदेश में राष्ट्रपति ने कहा कि भारत के पूर्व राष्ट्रपति डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन, जो एक प्रख्यात दार्शनिक और शिक्षक भी थे, का जन्म-दिन प्रत्येक साल पांच सितंबर को शिक्षक दिवस के रुप में मनाया जाता है। हमारे देश में गुरु-शिष्य की महान परंपरा रही है, जिसके तहत गुरु अपना ज्ञान अपने शिष्यों को प्रदान करते हैं और उन्हें सशक्त बनाते हैं। यह हमारी नैतिक जिम्मेदारी है कि हम शिक्षकों के प्रति सम्मान और आभार प्रकट करें क्योंकि शिक्षक वह आदर्श पुरुष हैं जो बच्चों का मार्गदर्शन कर उन्हें अच्छा और उपयोगी इंसान बनाते हैं। शिक्षक बच्चों में सृजनात्मकता का विकास करते हैं और कुछ नया सीखने की उनमें जिज्ञासा पैदा करते हैं। इस अवसर पर मैं डॉ. राधाकृष्णन के प्रति श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं और हमारे महान राष्ट्र के शिक्षकों को हार्दिक बधाई देता हूं।

loading...
SHARE THIS

0 comments: