Saturday, September 23, 2017

धान की फसल पर मौसम की मार, मजदूर बेगार, परेशान किसान से सरकार व भगवान दोनों रूठे

paddy-crops-demage-after-heavy-rain-faridabad

videohttps://youtu.be/LAdCM-o0ybs
फ़रीदाबाद (abtaknews.com ) 23 सितंबर,2017 ;  शुक्रवार को दिनभर आसमान से आफत बनकर बरसे भगवान से जनमानस और किसान परेशान है।लगता है किसान से सरकार और भगवान दोनों रूठ गए हैं।  भारी बारिश से जहां शहर में जलभराव से जन जीवन पूरी तरह प्रभावित रहा वहीं कटाई को तैयार खड़ी किसान की धान की फसल पर मौसम की मार से किसान का 50 फीसदी तक नुकशान की आशंका है। धान की फसल की कटाई के लिए दूर दराज से आए मजदूर अब बेगार हो गए है।  अभी बारिश नहीं होती तो एक दो दिन बाद धान की कटाई शुरू हो जाती लेकिन अब भारी बरसात के चलते धान की फसल खेतों में फ़ैल गई (गिर गई ) है जिससे धान की बालियां पानी में डूब गई, बालियों में धान का दाना ख़राब हो जाने से उक्त फसल की बाजार में आधी कीमत घाट जाएगी। प्रधानमंत्री फसल बीमा से किसानों को मोह भंग हो चुका है क्योकिं पिछले  साल फसल ख़राब होने और बीमा कंपनी द्वारा सर्वे किये जाने के बावजूद आधे से भी ज्यादा किसानों को मुआवजा नहीं मिल जिस कारण इस वर्ष किसानों ने अपनी फसल की बीमा ही नहीं कराया।

paddy-crops-demage-after-heavy-rain-faridabad

गांव बादशाहपुर के प्रगतिशील किसान धर्मपाल त्यागी ने अबतक न्यूज़ पोर्टल को बताया कि शुक्रवार को दिनभर हुई बारिश से कटाई के लिए पककर तैयार खड़ी धान की फसल खेतों में गिर गई जिससे किसानो का 50 फीसदी तक नुकसान है।  प्रधानमंत्री फसल बीमा से अधिकारियों और बीमा कंपनी की मिली भगत से हो रहे दोहरे नुकसान से किसानों को मोह भंग हो चुका है क्योकिं पिछले  साल फसल ख़राब होने और बीमा कंपनी द्वारा सर्वे किये जाने के बावजूद आधे से भी ज्यादा किसानों को मुआवजा नहीं मिल पाया  जिस कारण इस वर्ष किसानों ने अपनी फसल का बीमा ही नहीं कराया। 

loading...
SHARE THIS

0 comments: