Saturday, September 9, 2017

ग्रेटर फरीदाबाद के गांव सद्पुरा में पति-पत्नी ने की आत्महत्या

 
couple-sucide-village-sadpura-greater-faridabad
फरीदाबाद(abtaknews.com) 09 सितंबर,2017; गांव सद्पुरा में पति पत्नी के बिच किसी बात को लेकर हुई छोटी सी कहासुनी ने इतना बड़ा रूप ले लिया की जिसके चलते दोनों ने फ़ासी का फंदा लगा कर आत्म हत्य कर ली। दोनों की शादी को अभी दो साल भी पुरे नहीं हुए थे और उनकी एक 7 महीने की बेटी भी है। दोनों ने मरने से पहले उस मासूम के बारे में भी नहीं सोचा की आखिर उनके चले जाने के बाद उसका सहारा कौन होगा। दोनों तो इस दुनिया से चले गए लेकिन अपने पीछे छोड़ कर गए 7 महीने की मासूम को ताउम्र के लिए दर्द दे गए। 

सद्पुरा के रहने वाले एक दम्पति की आत्म हत्या करने के बाद दोनों का शव फरीदाबाद के सिविल अस्पताल पोस्टमार्टम के लिए पहुंचा। दोनों के परिजनो का रो रोकर बुरा हाल है।  इनकी सद्पुरा इलाके में रहने वाले गौरव और उसकी पत्नी के बात किसी बात को लेकर कहासुनी हुई थी।जिसके चलते सैम को पहले पत्नी ने घर में पंखे से लटक कर आत्म हत्या कर ले जिसके बाद आनन फानन में उसे निजी अस्पताल ले जाया गया जहां उसे डाकटरो ने उसे मृत घोषित कर दिया जिसके बाद वह शव को घर ले आये। कुछ देर बाद गौरव घर से बहार चला गया और अपने पिता को आखरी फ़ोन किया की पिता जी में वहीँ जा रहा हूँ जहाँ मेरी पत्नी गई है। इतना सुन घर में हड़कंप मच गया उन्होंने उसे खोजने का काफी प्रयास किया 5 घंटे तक उनकी गौरव से बाते हुई लेकिन 12 बजे के बाद गौरव ने फोन नहीं उठाया। सुबह पता चला की गौरव का शव एक पेड़ से लटका हुआ है। 
 
पुलिस के जाँच अधिकारी राजबीर ने अबतक न्यूज़ पोर्टल टीम को बताया कि उन्हें रात को दो बजे कंट्रोल रूम से बीटी प्राप्त हुई थी जिसके बाद जब वह मौके पर पहुंचे तो उन्होंने देखा की लक्ष्मी नाम की महिला ने फांसी लगा कर आत्म हत्या कर ली है जिस पर कारवाही करते हुए उन्होंने लक्ष्मी के शव को पोस्टमार्टम के लिए सिविल अस्पताल रखवा दिया।जिसके बाद फिर सुबह कंट्रोल रूम से बीटी आई की सद्पुरा इलाके में एक पेड़ से एक युवक का शव लटका हुआ है जिसके बाद वह मौके पर गए तो देखा की वह शव मृतिका लक्ष्मी के पति गौरव का है। जिसके बाद उसके शव को भी सिविल अस्पताल रखवा कर लीगल कारवाही के तहत पोस्टमार्टम करवाया जा रहा है जिसके बाद शव परिजनों को सौंप दिया  जायेगा। लेकिन इस मामले में पुलिस का यह कहना है की आदमी का जीवन बार -बार नहीं मिलता हमें दुखो से संघर्ष करना चाहिए इस तरह आत्म हत्या करके कार्यता नहीं करनी चाहिए। 



loading...
SHARE THIS

0 comments: