Friday, September 8, 2017

‘‘नो मोबाईल यूज ऑन दा व्हीकल व्हाईल ड्राईविंग’’ विषय पर प्रतियोगिता


फरीदाबाद (abtaknews.com)सुप्रीम कोर्ट एवं माननीय उच्च न्यायालय के आदेशों की पालना करने हेतु सडक़ सुरक्षा एवं सुरक्षित स्कूल वाहन पॉलिसी के तहत समीर पाल सरो उपायुक्त फरीदाबाद के आदेशानुसार सडक़ सुरक्षा के नोडल अधिकारी डा0 एमपी सिंह के नेतृत्व में राजकीय उच्च विद्यालय, सैक्टर-7, सीही फरीदाबाद में ‘‘नो मोबाईल यूज ऑन दा व्हीकल व्हाईल ड्राईविंग’’ विषय पर कला, भाषण व पैन्टिंग प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया जिसमें जिला खण्ड शिक्षा अधिकारी श्रीमति अनिता शर्मा बतौर मुख्य अतिथि ने कहा कि सरकारी विद्यालयों में सभी विद्यार्थी बिना वाहन के आते हैं और समय-समय पर खण्ड एवं जिला स्तर पर यातायात व सडक़ सुरक्षा सम्बन्धी प्रतियोगिताओं का आयोजन भी करवाते रहते हैं।
सडक़ सुरक्षा के नोडल अधिकारी डा0 एमपी सिंह ने बताया कि निबन्ध प्रतियोगिता में पार्वती-प्रथम, मोहन-द्वितीय, अनीता-तृतीय, कला प्रतियोगिता में दीप्ती-प्रथम, देवानन्द-द्वितीय, अमरजीत-तृतीय तथा पेन्टिंग प्रतियोगिता में सौरभ-प्रथम, राहुल-द्वितीय, संकित-तृतीय रहे हैं। डा0 एमपी सिंह ने अपने सम्बोधन में कहा कि अपने वाहन को चलाते समय मोबाईल का प्रयोग करना जानलेवा सिद्ध हो सकता है। सडक़ पर पैदल चलने वाले यात्री भी मोबाइ्र्रल का प्रयोग ना करें। राहगीर कई बार नम्बर मिलाते हुए व मोबाईल को देखते हुए सडक़ पर चलने वाले वाहनों से टकराने के कारण सडक़ दुर्घटना में हताहत व घायल हो जाते है।
अधिवक्ता सतीश आचार्य ने कहा कि सवारी ढोने वाले वाहनों में सामान को नहीं ढोना चाहिए और सामान ढोने वाले वाहनों में सवारी नहीं ढोनी चाहिए, यह कानूनी अपराध है। सैक्टर-7 के अतिरिक्त निरीक्षक जगजीत सिंह ने कहा कि 18 साल से कम उम्र के विद्यार्थियों को सडक़ पर वाहन नहीं चलाना चाहिए। यदि ऐसा पाया जाता है तो उसके पिता के खिलाफ मुकदमा दर्ज हो सकता है और संरक्षक को ही उस जुर्माने व सजा का भुगतान करना पड़ता है।
विद्यालय की प्रधानाचार्य श्रीमति शशि शर्मा ने आए हुए अतिथियों का स्वागत करते हुए धन्यवाद किया और आश्वस्त किया कि भविष्य में जिला प्रशासन की गतिविधियों में हमारे विद्यार्थी अधिकतम भाग लेगें और सडक़ सुरक्षा के नोडल अधिकारी डा0 एमपी ंिसंह के साथ टीम बनाकर टेऊफिक पुलिस के साथ यातायात के नियमों को सुचारू रूप से चलाने में मदद करेंगे।

loading...
SHARE THIS

0 comments: