Saturday, September 30, 2017

पलवल लघु सचिवालय में केन्द्रीय मंत्री गुर्जर ने विकास कार्यों की समीक्षा की


पलवल 30 सितम्बर,(abtaknews.com)आगामी रबी के सीजन की फसलों की बिजाई से पहले सिंचाई विभाग के अधिकारी सभी ड्रेनों/रजवाहों की सफाई करवाना सुनिश्चित करें ताकि किसानों के लिए सिंचाई हेतु अंतिम छोर पर आसानी से पानी पहुंचाया जा सके। इस विषय को लेकर किसी भी प्रकार की लापरवाही नहीं होनी चाहिए। विभागीय अधिकारियों को ये निर्देश केन्द्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने स्थानीय लघु सचिवालय के सभागार में आयोजित जिला विकास समन्वय एवं  निगरानी  समिति की बैठक में दिए।
उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने किसानों की प्रति एकड़ उत्पादन क्षमता बढाने और प्रति एकड़ आय बढाने के लिए अनेक महत्वपूर्ण योजनाएं शुरू की है। इन योजनाओं/परियोजनाओं का किसानों को भरपूर लाभ मिलना चाहिए। महत्वपूर्ण योजनाओं के टेल तक पानी पहुंचाना भी शामिल है। अधिकारियों को चाहिए कि वे चल रहे विकास कार्यों का समय-समय पर निरीक्षण भी करें ताकि यदि कोई खामी मिलती है तो समय रहते उसे दूर किया जा सके। बैठक में उपस्थित डीसी मनीराम शर्मा ने विभिन्न स्कीमों की समीक्षा के दौरान मंत्री को बताया कि सरकार की जनहित की कल्याणकारी योजनाओ/परियोजनाओं/स्कीमों और नीतियों को सुचारू रूप से क्रियान्वित किया जा रहा है।
    निगरानी कमेटी की बैठक में केन्द्रीय राज्यमंत्री ने जिला में मनरेगा के तहत चल रहे कार्यों की भी समीक्षा की। उन्होंने एडीसी से चल रहे कार्यों की जानकारी ली तथा कहा कि इस स्कीम के तहत अधिक से अधिक रोजगार उपलब्ध करवाया जाए। इतना ही नहीं मनरेगा योजना के तहत पंजीकरण की संख्या बढाकर विकास के कार्यों में और तेजी लाएं। उन्होंने कार्यकारी अभियंता लोक निर्माण विभाग को भी निर्देश दिए कि बरम इत्यादि को ठीक करने के कार्य भी मनरेगा के तहत करवा लिया जाए। बैठक में एजेंडा अनुसार समीक्षा करते हुए मंत्री ने ठोस कचरा प्रबंधन की व्यवस्था को पूरी तरह से सुव्यवस्थित करने को कहा।
    प्रधानमंत्री आवास योजना की समीक्षा करते हुए केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का लक्ष्य है कि आगामी वर्ष 2022 तक सभी को रहने के लिए घर उपलब्ध हो इसलिए इस कार्य को भी अधिकारी प्राथमिकता के आधार पर पूरा करवाएं। घर बनवाने में प्रयुक्त की जाने वाली निर्माण सामग्री की गुणवत्ता का विशेष ध्यान रखा जाना चाहिए। उन्होंने यह भी कहा कि जिस उद्देश्य के लिए पैसा खर्च किया जाता है उसकी उपयोगिता नजर आनी चाहिए। उन्होनें अधिकारियों को निर्देश दिए कि लाभार्थियों की सूची बनवाकर उनके कार्यालय में पहुंचाई जाए। इसी प्रकार आईएवाई के तहत लंबित निर्माण कार्यों को भी पूरा किया जाए।
    केन्द्रीय मंत्री ने एमपी लैंड के तहत चल रहे विकास कार्यों की भी समीक्षा की तथा पूछा कि किस क्षेत्र में कितना कार्य पूरा हो चुका है और कितना लंबित है। टूरिज़म के तहत चल रहे विकास कार्यों की गहराई से समीक्षा करते हुए उन्होंने पूछा कि लंबित कार्य कब तक पूरे होंगे तो अधिकारियों ने कहा कि टूरिजम के तहत जो कार्य चल रहे है उन्हें एक माह में पूर्ण करवा दिया जाएगा। इस मौके पर उन्होंने पैंशन वितरण व्यवस्था,प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना, स्वच्छ भारत मिशन, दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण ज्योति योजना, प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन, सर्व शिक्षा मिशन, प्रधानमंत्री उज्जवला योजना (बीपीएल परिवारों के लिए एलपीजी कनैक्शन), प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना, डिजीटल इंडिया, अटल पैंशन योजना, प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना, प्रधानमंत्री मुद्रा योजना, पशुपालन, उद्योग आदि की समीक्षा की। विधायक टेकचंद शर्मा ने भी अधिकारियों से विकास कार्यों को लेकर कई सवाल पूछे और संतुष्टि जाहिर की।
    उपायुक्त मनीराम शर्मा ने केन्द्रीय राज्यमंत्री को आश्वस्त किया कि सभी सरकारी योजनाओ/परियोजनाओं को प्राथमिकता के आधार पर पूरा किया जाएगा।
    अतिरिक्त उपायुक्त अंजू चौधरी ने जिला ग्रामीण विकास अभिकरण के अंतर्गत योजनाओं की प्रगति का विवरण प्रस्तुत किया।
    बैठक में पृथला के विधायक टेकचंद शर्मा, मुख्यमंत्री के राजनैतिक सचिव दीपक मंगला, जिला परिषद की अध्यक्ष चमेली देवी, नगर परिषद की चेयरपर्सन इंदू भारद्वाज, पंचायत समिति पलवल के चेयरमैन प्रेमचंद शर्मा, जिला परिषद के उप-प्रधान संतराम बैसला, हथीन के उपमण्डल अधिकारी (ना.) मुनीष शर्मा, पलवल के उपमण्डल अधिकारी (ना.) एस.के. चहल सहित संबंधित विभागों के अधिकारी उपस्थित थे। 
बाक्स:- समीक्षा बैठक में मंत्री ने कहा कि होडल में जो 50 बैड का अस्पताल बनाया जाना है उसका शिलान्यास करवाकर अतिशीघ्र निर्माण कार्य शुरू करवाया जाए ताकि संबंधित क्षेत्र के लोग लाभान्वित हो सके। उन्होनें बिजली विभाग के अधिकारियों को बिजली की लाईन शिफ्ट करने के निर्देश भी दिए।
बाक्स:- केंन्द्रीय मंत्री ने खाद्य एवं आपूर्ति नियंत्रक को निर्देश दिए कि प्रधानमंत्री उज्जवला योजना का अधिक से अधिक प्रचार व प्रसार किया जाए ताकि ज्यादा लोग इससे लाभान्वित हो सके।
बाक्स:- समीक्षा बैठक में मंत्री को सीएमओ ने बताया कि दूधौला में सीएचसी बनाने का बजट स्वीकृत हो चुका है और इसके लिए टैण्डर उपरांत निर्माण कार्य श्ुारू कर दिया जाएगा। मंत्री ने खुशी जाहिर करते हुए कहा कि इस कार्य को शीघ्रता से पूरा करवाएं।
जिला के अस्पतालों में डाक्टरों की कमी को पूरा करनेे के लिए मंत्री ने समीक्षा बैठक के दौरान ही चण्डीगढ मुख्यालय में अधिकारियों को फोन लगाया और कहा कि पलवल में अधिक से अधिक डॉक्टरों की तैनाती की जाए ताकि लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध हो सके।
राष्ट्रीय राजमार्ग-2 पर चल रहे निर्माण और विकास कार्यों को लेकर मंत्री ने संबंधित अधिकारियो के साथ बैठक की और कार्यों की समीक्षा करते हुए कहा कि विकास कार्यों को तेजी से पूरा करवाया जाए। उन्होंने बैठक में यह भी कहा कि मुआवजे को लेकर किसानों के साथ किसी भी प्रकार की नाइंसाफी नही होनी चाहिए। इस संदर्भ में किसी भी तरह की कोई लापरवाही सहन नहीं की जाएगी। 

loading...
SHARE THIS

0 comments: