Saturday, September 30, 2017

प्राचीन श्रीराम सेवा दल द्वारा निकाली गई शोभायात्रा का किया शुभारंभ



फरीदाबाद, 30 सितंबर,2017(abtaknews.com) : त्यौहार हमें प्रेम के साथ-साथ भाईचारा और सहयोग की भावना से प्रेरित करते हैं। त्यौहारों का आनंद बिना त्याग की भावना के अधूरा है। इसलिए त्याग की भावना भी बहुत जरूरी है। कोई भी त्यौहार तभी सार्थक है जब उसे सभी मिलजुलकर मनाए। यह बात बालीवुड अभिनेता एवं फिल्म बजरंगी भाईजान के बाद सर्खियों में आए अभिनेता मनोज बक्शी ने ओल्ड फरीदाबाद प्राचीन पथवरी मंदिर से रामनवमी व दशहरे पर प्राचीन श्रीराम सेवादल द्वारा निकाली गई दुर्गा नवमी शोभायात्रा का शुभारंभ करते हुए कही। उन्होंने कहा कि बाबा फरीद की नगरी मिनी इंडिया के नाम से जानी जाती है। इसलिए इसमें हमारे देश के हर प्रदेश की संस्कृति का समावेश मिलता है और हम हर प्रदेश की संस्कृति से यहां रूबरू होते हैं। इसलिए हर त्यौहार और रीतियां जब हम आपस में मिलकर मनाते हैं तो त्यौहार का आनंद दोगुना हो जाता है। उन्होंने कहा कि मर्यादा पुरूषोत्तम राम ने आताताई रावण का वध कर झूठ पर सच्चाई की विजय प्राप्त की थी।

हमें संकल्प लेना चाहिए कि हम उनके बताए हुए मार्ग पर चले और समाज, प्रदेश और राष्ट्र उत्थान में अपना योगदान दें। इस अवसर पर मनोज बक्शी ने अपनी फिल्मों के डायलॉग सुनाकर उपस्थित जनसमुह को मनोरंजित किया। फिल्म डायरेक्टर डा. एमए अंसारी ने कहा कि ऐसे आयोजनों से भाईचारे के साथ-साथ हमारी पुरानी संस्कृति को जिंदा रखने के लिए युवाओं को प्रेरणा मिलती है, क्योंकि तकनीक के इस युग में मानवों द्वारा की जाने वाली रामलीलाओं का चलन प्राय: समाप्त सा हो रहा है। वहीं ऐसी शोभायात्राओं का भी यदा-कदा प्रचलन भी देखने को मिलता है। युवाओं को उन्होनें धर्म के साथ जुडऩे का आह़्वान किया। तत्पश्चात प्राचीन श्रीराम सेवा दल की शोभायात्रा विशेष झांकियों के साथ शहर के मु य-मु य बाजारों से होते हुए वापिस मंदिर पर समाप्त हुई। इस अवसर पर रोहताश बैसाया, फेस गु्रप की मैनेजर नेहा शर्मा, अनिल सिंगला, गौरव पाराशर, बिलाल अंसारी, गुडडू, श्रेया पाराशर, सक्ष्म शर्मा, हिमांशु दत्त पाराशर, मन्नु वधावन, श्यामलाल कटारिया, संजय कक्कड, चंदर शर्मा, प्रताप ङ्क्षसगला सहित शोभायात्रा में शहर की विभिन्न सामाजिक एवं धार्मिक संस्थाओं के लोग उपस्थित थे।


loading...
SHARE THIS

0 comments: