Thursday, September 14, 2017

चेयरमैन ने अनुसूचित जाति के लोगों पर अत्याचार व उनकी रोकथाम के लिये मिटिंग की


फरीदाबाद 14 सितबर। राष्ट्रीय अनूसूचित जाति आयोग के चेयरमैन प्रो. राम शंकर कमेरिया ने आयोग के वाईस चेयरमैन तथा आयोग के अधिकारियों के साथ फरीदाबाद जिला का दौरा किया। इसके दौरान जहां उनहोंने 6 जिलेा में वरिष्ठ अधिकारियों के साथ अनुसूचित से सम्बंधित सरकारी योजनाओं व अनुसूचित जाति के लोगों पर हो रहे अत्याचार व उनकी रोकथाम बारे मिटिंग की। वही सर्किट हाऊस में दलित समाज के प्रबुद्ध लोगों व संस्थाओ के प्रतिनिधियो से मुलाकात की।  इस मुलाकात में डा. बी.आर.अम्बेडकर एजुकेशन सोसायटी फरीदाबाद के चेयरमैन व दलित अधिकार मंच के महासचिव श्री ओ.पी.धामा ने कहा कि हरियाणा सरकार ने पहली बार दलित समाज के महापुरूषो की जयन्तियां राज्य सरकार के द्वारा प्रत्येक मुख्यालय पर मनाई गयी जिससे दलित समाज का सम्मान बडा है। धामा ने यह भी कहा कि सरकार के द्वारा कई कल्याणकारी योजनाये चलाई जा रही है। इनकी योजनाओं की मासिक समीक्षा जिला स्तर पर उपायुक्त की अध्यखता में की जाये जिससे दलित समाज का प्रबुद्ध व इन योजनाओं की समझ रखने वाले व्यक्तियों को शामिल किया जाये। धामा ने आयोग को यह भी बताया कि जब सरकार ने भर्तियो पर इन्टरव्यू प्रथा समाप्त कर दी है तो दलित समाज के बच्चो के लिए प्रत्येक उपमण्डल स्तर पर केाचिंग सेन्टर खोले जाये ताकि दलित समाज के बच्चे भी प्रतियोगी परीक्षाओं को पास कर सके। धामा ने कहा कि प्रत्येक विधानसभा में एक डा. अम्बेडकर भवन व छात्रावास बनाया जाये। इसके साथ साथ सरकारी स्कूलों में दलित बच्चो को मिलने वाली छात्रवृति, किताबो, स्टेशनरी व वर्दी की अनुदान राशि समय पर मिलना सुनिश्चित किया जाये तथा कृष्णानगर व रामनगर स्लम बस्तियो में मिडिल स्तर के सरकारी स्कूल खोले जाये। धामा ने स्लम पुर्नवास की चर्चा करते हुए कहा कि फरीदाबाद में लगभग 5000 मकान पिछले लगभग 10 साल से खाली पडे है जिन्हे सरकार ने बनवाये थे जिन पर लगभग 200-300 करोड रूपये खर्च हुए थे। इन मकानो को पात्र लोगो केा तुंरत अलाट किया जाये।
चेयमैन महोदय ने इन सारी बातों को ध्यान से सुनने के बाद श्री धामा से कहा कि वह इन सब योजनाओं बारे लिखकर आयोग में आये ताकि इन पर गहराई से विचार विमर्श किया जाये। बेठक के दौरान गुडगांव व फरीदाबाद के मण्डल आयुक्त डा. डी सुरेश, उपायुक्त समीरपाल सरो, पुलिस आयुक्त डा. हनीफ कुरेशी, अतिरिक्त उपायुक्त जितेन्द्र दहिया व जिले के सभी आला अधिकारी भी उपस्थित थे।

loading...
SHARE THIS

0 comments: