Wednesday, September 20, 2017

पलवली में हुए नरसंहार में संवेदनाएं व्यक्त करने पहुंचेंगे पूर्व मुख़्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा


फरीदाबाद (abtaknews.com)20 सितंबर,2017 ; पलवली में हुए नरसंहार में संवेदनाएं व्यक्त करने पहुंचेंगे पूर्व मुख़्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा, विधायक ललित नागर, विधायक उदय भान और विधायक करण दलाल भी साथ रहेंगे।  एक ही परिवार के 5 लोगों को गांव के ही पूर्व सरपंच एवं वर्तमान सरपंच परिवार ने मामूली कहासुनी पर गोलियों से भून डाला। ग्रेटर फरीदाबाद के गांव पलवली में हुए इस सामूहिक नरसंहार से आसपास के क्षेत्र में दहशत का माहौल हैं। गांव में व्याप्त सन्नाटे के बीच भारी पुलिस बल मौजूद है।  गमगीन एवं तनावपूर्ण माहौल में बुधवार को हरियाणा के पूर्व मुख़्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा पीड़ित परिवार से मिलकर संवेदनाएं व्यक्त करेंगे। 

क्या है पूरा मामला ----  चुनावी रंजिश को लेकर घर के अंदर घुसकर 5 लोगों की गोलियों से भूनकरहत्या , 8 गंभीर रूप से हुए घायल। मामला दिल्ली से सटे फरीदाबाद का है जहां के गांव पलवली में देर रात चुनावी रंजिश को लेकर आतंक का नंगा नाच देखने को मिला, जिसमें 5 लोगों की मौत हो गई जबकि 8 लोग अभी गंभीर रुप से घायल है ।  मामले की संजीदगी को देखते हुए केंद्रीय मंत्री कृष्णपाल गुर्जर, विधायक सीमा त्रिखा,  डॉ हनीफ कुरैशी समित पुलिस विभाग के आला अधिकारी मौके पर जा पहुंचे और अब जल्द ही आरोपियों की गिरफ्तारी की बात कर रहे हैं। पुलिस ने इस मामले में 27 नामजद समेत 10 -15 अन्य के खिलाफ मामला दर्ज किया है। गाँव पलवली में श्रीचंद का रोता बिलखता परिवार, श्रीचंद जिसकी गोली लगने से मौत हो गई का है । आरोप है कि आज रात करीब 9.30 बजे गाँव के ही सरपंच के पति बिल्लू और उसके साथी उनके घर में घुसे और उन पर  फायरिंग शुरू कर दी । जिससे 5 लोगो की मौत हो गयी और कई अन्य गंभीर रूप से घायल हो गए । आनन फानन में घायलों को अस्पताल मे भर्ती कराया गया । इस गोलीबारी में 55 साल के राजेंद्र प्रसाद , 40 साल के ईश्वर चंद , 61 साल के श्रीचंद , 36 साल के  नवीन ,35 साल के देवेंद्र की मौत हो गयी है ।  पीडि़त परिवार के सदस्य दीपक ने अबतक न्यूज़ पोर्टल टीम को बताया कि हमारे परिवार के लोग यहाँ दुकान पर खड़े थे तभी उन लोगों ने अचानक हमला कर दिया। 6 लोगों को गोली लगी है।

मामले की जानकारी मिलते ही पुलिस अधिकारी मौके पर जा पहुचे । एक साथ 5 लोगो की हत्या को देखते हुए पुलिस अधिकारी भी हैरान है । गांव में ऐतियातन  काफी पुलिस बल लगा दिया है ।  फरीदाबाद पुलिस कमिश्नर डॉ हनीफ कुरेशी ने मीडिया को जानकारी देते हुए बताया कि पलवली गांव में हुए झगडे में 5 लोगों की हत्या हुई है और 8 घायल हुए हैं । मामले की गंभीरता को देखते हुए केंद्रीय मंत्री कृष्णपाल गुर्जर विधायक सीमा त्रिखा मौके पर जा पहुंचे और अस्पताल में जाकर पीडि़त परिवार को सांत्वना दी । केंद्रीय मंत्री ने मृतक के परिजनों को विश्वास दिलाया है कि आरोपी चाहे कितना भी बड़ा हो उसे बख्शा नहीं जाएगा। मरने वालों में श्रीचंद (58)पुत्र रिसाल, राजेंद्र (48 )पुत्र भगवाना,ईश्वर (30 ) पुत्र दयानन्द, देव उफऱ् पिंटू (30) पुत्र सुखबीर और नवीन (30) पुत्र रवि हैं। पांचो शवों का पोस्ट मार्टम प डॉक्टरों के पैनल द्वारा किया जा रहा है। सुरक्षा की दृष्टि से गांव पलवली पुलिस छावनी में तब्दील कर दिया गया है भारी पुलिस बल मौके पर मौजूद है स्थिति तनावपूर्ण लेकिन नियंत्रण में है।


मामले की गंभीरता को देखते हुए केंद्रीय मंत्री कृष्णपाल गुर्जर विधायक सीमा त्रिखा मौके पर जा पहुंचे और अस्पताल में जाकर पीडि़त परिवार को सांत्वना दी । केंद्रीय मंत्री ने मृतक के परिजनों को विश्वास दिलाया है कि आरोपी चाहे कितना भी बड़ा हो उसे बख्शा नहीं जाएगा। मरने वालों में श्रीचंद (58)पुत्र रिसाल, राजेंद्र (48 )पुत्र भगवाना,ईश्वर (30 ) पुत्र दयानन्द, देव उफऱ् पिंटू (30) पुत्र सुखबीर और नवीन (30) पुत्र रवि हैं। पांचो शवों का पोस्ट मार्टम प डॉक्टरों के पैनल द्वारा किया जा रहा है। सुरक्षा की दृष्टि से गांव पलवली पुलिस छावनी में तब्दील कर दिया गया है भारी पुलिस बल मौके पर मौजूद है स्थिति तनावपूर्ण लेकिन नियंत्रण में है। 


ये है मुख्य आरोपी जिन्हे हिरासत में लिया गया है 




खूनी संघर्ष के बाद गांव में पसरा सन्नाटा--  गांव पलवली में देर रात हुए खूनी संघर्ष और मौजूदा सरपंच व दूसरे पक्ष के लोगों के बीच गोलियों के खेल के बाद अब गांव  में पूरी तरह से सन्नाटा पसरा हुआ, गांव छावनी में तब्दील हो गया, तनाव का माहौल होने के कारण भारी पुलिस तैनात की गई। ये है ग्रेटर फरीदाबाद का गांव पलवली जिसमें कल तक इस गांव की गलियों में लोगों के अवागमन और बच्चों के खेलने की झलकियां नजर आती थी इस वक्त चारो ओर पुलिस और उनकी गाडियां ही गाडियां नजर आ रही है। बजह है देर रात को दो पक्षों में जमकर हुई गोलीबारी, जिसमें सरपंच पक्ष के लोगों ने दूसरे पक्ष के एक ही परिवार के 5 लोगों को मौत के घाट उतार दिया। जिसके चलते पूरे गांव में सन्नाटा पसरा हुआ है और गांव में हर गली, चौक चौराहों पर भारी पुलिस बल मौजूद है।

loading...
SHARE THIS

1 comment:

  1. ये वीडियो मेरे मामा की हैं {बिल्लु सरपंच}
    ये सब मेरे मामा के घर मे हुआ है। मेरे मामा बिल्लू सरपंच जिंदगी और मौत के बीच लड रहे है। इस लड़ाई की शुरुआत पहले दूसरे इन्सानो ने की।मामा बिल्लू सरपंच को पहले उन्होने अकेले घेरा और फिर घेरे में लेकर फरसों और लोहे के पाइप से मामा को 15 इन्सानो ने मारा।उसके बाद मेरे परिवार के सदस्य के पास एक व्यक्ति ने मामा की मारे जाने की बात बताई, उसके बाद मेरे परिवार(मेरे नाना ,छोटे मामा)पहुचे,वो लोग तब भी फरसे और लोहे की पाइप बरसा रहे थे।मेरे नाना ने हवाई फायर किये ,लेकिन वो लोग वहा से नही हटे उसके बाद ही हुआ जो नही होना था।...... अब इसे गुंडागर्दी कहे या फिर अपने कह खुश हाल परिवार की रक्षा।।।।।।।

    सबकुछ गलत हुआ, सिर्फ इस बेवकूफ़ इंसान (हरीश शर्मा उर्फ चिल्लू) की वजह से।।।ऐसे झगड़े पहले भी हुए है, और इसकी और इसके परिवार उनमे मुख्य भूमिका निभाई है।।।।।
    ... सबसे प्यारी चीज इस दुनिया मे परिवार होता है। परिवार मे भाई को भाई सबसे प्यारा होता है।।...... भाई को मरा देख और उसपर हमला होते देख हर कोई अपनी ताकत लगा देता है।।अपनो को बचने के लिए हथियार उठाने पड़ते है,कोई भी व्यक्ति किसी का परिवार खराब करने नही चाहता लेकिन वक़्त ,हालात सब करवा देता है।।।..
    डूब के मरनेे वाला भी अपने लिए बहौत हाथ, पैर मारता है।।। .... लकीन ये कडवा सचे है,जो हुआ सब उस एक बेवकूफ इंसान की वजह से।।।...... हिंदू है हम।।।जन्मदिगनी है हम।।।।।... जय परशुराम .. .....

    ReplyDelete