Friday, September 8, 2017

वर्ल्ड फिजियोथैरपी डे के उपलक्ष्य में एमआर यूनिवर्सिटी में कार्यक्रम का किया गया आयोजन



फरीदाबाद (abtaknews.com)मानव रचना इंटरनैशनल यूनिवर्सिटी (एमआरआईयू) के फैकल्टी ऑफ एप्लाइड साइंसिज (एफएएस) के द्वारा वर्ल्ड फिजियोथैरपी डे के उपलक्ष्य में कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस साल की थीम फिजिकल एक्टीविटी फॉर लाइफ रखा गया है।कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि बतरा हार्ट सेंटर के चेयरमैन पद्मश्री प्रोफेसर (डॉ.) उपेंद्र कौल मौजूद रहे। वहीं अन्य अतिथियों के रूप में मानव रचना इंटरनैशनल यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर डॉ. एन.सी.वाधवा, यूनिवर्सिटी के प्रो वाइस चांसलर डॉ. एम.के.सोनी, फैकल्टी ऑफ एप्लाइड साइंसिज (एफएएस) के डायरेक्टर डॉ. धूर्जती मजुमदार, एफएएस की डीन डॉ. सरिता सचदेवा मौजूद रहे। वहीं इस मौके पर एफएएस के स्टूडेंट्स रहे चुके नेहा नरुला (क्यूआई स्पाइन की जोनल हैड) व प्रदीप गौर (विमहंस के फिजियोथैरपी विभाग के हैड) ने अपने अनुभव को स्टूडेंट्स के साथ सांझा किया। कार्यक्रम की शुरुआत सरस्वती वंदना के साथ दीप प्रज्जवलित करके की गई।

इस मौके पर स्टूडेंट्स को संबोधित करते हुए वाइस चांसलर डॉ. एन.सी.वाधवा ने कहा कि फिजियोथैरपी की जरूरत हर आयुवर्ग व हर चरण में है। फिजियोथैरपी के क्षेत्र में विकास की बहुत जरूरत है।वहीं डॉ. उपेंद्र कौल ने हार्ट अटैक से बचाव के तरीकों के बारे में विस्तार में चर्चा की। साथ ही साथ उन्होंने हार्ट अटैक के बचाव में फिजियोथैरपी की भूमिका पर भी प्रकाश डाला। उन्होंने हार्ट अटैक के बचाव में रैगुलर एक्सरसाइज व हेल्दी खान पान के बारे में स्टूडेंट्स को बताया।

लोगों में फिजियोथैपी के बारे में जागरुकता फैलाने के लिए जागरुकता स्किट, नुक्कड़ नाटक व डांस व गायन प्रतियोगिता का आयोजन भी किया गया। कार्यक्रम से पहले विभाग के द्वारा हेल्थ कैंप का आयोजन मानव रचना कैंपस व सेक्टर 21 सी कम्युनिटी सेंटर में किया गया।कार्यक्रम के अंत में अलग-अलग प्रतियोगिताओं में विजयी रहे स्टूडेंट्स को फिजियोथैरपी विभाग की एचओडी डॉ. पूजा आनंद ने सर्टिफिकेट वितरित किया। इस मौके पर हेल्थ ई मैगजीन भी रीलीज की गई। 

loading...
SHARE THIS

0 comments: