Monday, September 18, 2017

पलवली के सामूहिक हत्या कांड को लेकर जिला बार के वकीलो ने की हडताल

advocate-strike-against-murders-of-5-peoples-palwali-village-faridabad

फरीदाबाद (abtaknews.com) 18 सितम्बर,2017 ; गांव पलवली में वकील के परिवार का सामूहित हत्या कांड को लेकर जिला बार एसोसिएसन फरीदाबाद के वकीलो ने आज जिला न्यायालय फरीदाबाद में काम काज ना करके सामूहिक हत्या कांड व शहर में बिगडती कानून व्यवस्था को लेकर आज अपना विरोध प्रर्दशन किया। उक्त हत्या कांड में वरिष्ठ अधिवक्ता अश्वनी तिरखा का जूनियर अधिवक्ता ललित गौड के परिवार के छ सदस्यो की निर्मम हत्या कर दी जिससे जिला न्यायालय में रोष व्यान्त है। आज सुबह जिला बार एसोसिएसन फरीदाबाद की एक्जिक्यूटीव बॉडी की मीटिंग हुई जिसमें प्रधान संजीव चौधरी, माहसचिव सतबीर शर्मा व अन्य सदस्यो ने आपसी सहमति से निर्णय लिया कि आज जिला न्यायालय में वर्क ससपैन्ड रखा जाएगा और बॉडी के सदस्यो ने सभी न्यायालयो में जाकर सभी न्यायाक अधिकारियो को वर्क ससपैन्ड का नोटिस दिया। बार काउंसिल पंजाब एण्ड हरियाणा अनुसासन व निगरानी कमैठी के मनोनित सदस्य शिवदत्त एडवोकेट ने कहा कि जो हत्या कांड आज फरीदाबाद में हुआ हैघ्उसकी बहुत निन्दा करते है। और कहा कि शहर में अधिवक्तागणो की सुरक्षा सम्बन्धित कुछ इन्तजाम प्रसासन को करने चाहिए और उनकी शिकायतो को गम्भिरता से लेना चाहिए। इस मौके पर चौ0 किशन सिंह, पवन कौशिक, अनिल पाराशर दलबीर अतरी, सतीश चौहान, जोगिन्द्र चौहान, प्रदीप प्रमार भारत भूषण चंदीला, रामबीर नाहर, अरूण दुआ, संजीव भामला राहूल शर्मा कमल भाटी, पी$के मित्तल आर पी वर्मा मुकेश शर्मा संजय दिक्षित सुरेश शर्मा रधुवेश सिंगल पी$सी$ महेश नागर, सुखबीर चन्दीला सैनी लोकेश दत्ता पंकज ठाकूर सतपाल नागर विजय यादव दया चन्द धनकड नवीव गुन्ता सतेन्द्र भडाना हंसराज धर्मबीर डागर कुलदीप जोशी लाल सिंह महेन्द्र चंदीला जयचन्द, आदि मौजूद थे।


loading...
SHARE THIS

2 comments:

  1. ये वीडियो मेरे मामा की हैं {बिल्लु सरपंच}
    ये सब मेरे मामा के घर मे हुआ है। मेरे मामा बिल्लू सरपंच जिंदगी और मौत के बीच लड रहे है। इस लड़ाई की शुरुआत पहले दूसरे इन्सानो ने की।मामा बिल्लू सरपंच को पहले उन्होने अकेले घेरा और फिर घेरे में लेकर फरसों और लोहे के पाइप से मामा को 15 इन्सानो ने मारा।उसके बाद मेरे परिवार के सदस्य के पास एक व्यक्ति ने मामा की मारे जाने की बात बताई, उसके बाद मेरे परिवार(मेरे नाना ,छोटे मामा)पहुचे,वो लोग तब भी फरसे और लोहे की पाइप बरसा रहे थे।मेरे नाना ने हवाई फायर किये ,लेकिन वो लोग वहा से नही हटे उसके बाद ही हुआ जो नही होना था।...... अब इसे गुंडागर्दी कहे या फिर अपने कह खुश हाल परिवार की रक्षा।।।।।।।

    सबकुछ गलत हुआ, सिर्फ इस बेवकूफ़ इंसान (हरीश शर्मा उर्फ चिल्लू) की वजह से।।।ऐसे झगड़े पहले भी हुए है, और इसकी और इसके परिवार उनमे मुख्य भूमिका निभाई है।।।।।
    ... सबसे प्यारी चीज इस दुनिया मे परिवार होता है। परिवार मे भाई को भाई सबसे प्यारा होता है।।...... भाई को मरा देख और उसपर हमला होते देख हर कोई अपनी ताकत लगा देता है।।अपनो को बचने के लिए हथियार उठाने पड़ते है,कोई भी व्यक्ति किसी का परिवार खराब करने नही चाहता लेकिन वक़्त ,हालात सब करवा देता है।।।..
    डूब के मरनेे वाला भी अपने लिए बहौत हाथ, पैर मारता है।।। .... लकीन ये कडवा सचे है,जो हुआ सब उस एक बेवकूफ इंसान की वजह से।।।...... हिंदू है हम।।।जन्मदिगनी है हम।।।।।... जय परशुराम .. .....

    ReplyDelete
  2. ये वीडियो मेरे मामा की हैं {बिल्लु सरपंच}
    ये सब मेरे मामा के घर मे हुआ है। मेरे मामा बिल्लू सरपंच जिंदगी और मौत के बीच लड रहे है। इस लड़ाई की शुरुआत पहले दूसरे इन्सानो ने की।मामा बिल्लू सरपंच को पहले उन्होने अकेले घेरा और फिर घेरे में लेकर फरसों और लोहे के पाइप से मामा को 15 इन्सानो ने मारा।उसके बाद मेरे परिवार के सदस्य के पास एक व्यक्ति ने मामा की मारे जाने की बात बताई, उसके बाद मेरे परिवार(मेरे नाना ,छोटे मामा)पहुचे,वो लोग तब भी फरसे और लोहे की पाइप बरसा रहे थे।मेरे नाना ने हवाई फायर किये ,लेकिन वो लोग वहा से नही हटे उसके बाद ही हुआ जो नही होना था।...... अब इसे गुंडागर्दी कहे या फिर अपने कह खुश हाल परिवार की रक्षा।।।।।।।

    सबकुछ गलत हुआ, सिर्फ इस बेवकूफ़ इंसान (हरीश शर्मा उर्फ चिल्लू) की वजह से।।।ऐसे झगड़े पहले भी हुए है, और इसकी और इसके परिवार उनमे मुख्य भूमिका निभाई है।।।।।
    ... सबसे प्यारी चीज इस दुनिया मे परिवार होता है। परिवार मे भाई को भाई सबसे प्यारा होता है।।...... भाई को मरा देख और उसपर हमला होते देख हर कोई अपनी ताकत लगा देता है।।अपनो को बचने के लिए हथियार उठाने पड़ते है,कोई भी व्यक्ति किसी का परिवार खराब करने नही चाहता लेकिन वक़्त ,हालात सब करवा देता है।।।..
    डूब के मरनेे वाला भी अपने लिए बहौत हाथ, पैर मारता है।।। .... लकीन ये कडवा सचे है,जो हुआ सब उस एक बेवकूफ इंसान की वजह से।।।...... हिंदू है हम।।।जन्मदिगनी है हम।।।।।... जय परशुराम .. .....

    ReplyDelete